अष्टधातु की भगवान महावीर की मूर्ति के साथ अंतरराज्यीय गिरोह के तीन सदस्य गिरफ्तार

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

किशनगंज/ बहादुरगंज: बहादुरगंज पुलिस गश्ती दल ने बुधवार को एनएच 327 ई पर नसीमगंज के समीप अष्टधातु निर्मित भगवान महावीर की मूर्ति के साथ अंतरप्रांतीय गिरोह के तीन तस्करों को गिरफ्तार किया है. सवा किलोग्राम वजन की इस मूर्ति की अनुमानित कीमत लाखों में आंकी गयी है. कयास लगाया जा रहा है कि जब्त मूर्ति किसी बड़ी चोरी की घटना के जरिये ही गिरोह के हाथ लगी होगी. पुलिस तीनों के पास से एक बाइक के अलावे अलग-अलग तीन स्क्रीन टच मोबाइल भी बरामद की है.

अवर निरीक्षक सुरेश प्रसाद के नेतृत्व में दिवागश्ती पर निकली पुलिस दल की नजर गिरोह के सदस्यों पर पड़ी। संदेह होने पर इनकी तलाशी व जांच-पड़ताल की गयी. गिरोह के एक सदस्य पांजी पाड़ा (बंगाल) निवासी 30 वर्षीय सुबेश दास पिता कुमोद दास के पास से किसी कपड़े में लपेट कर रखी गयी मूर्ति बरामद की गयी. मौके पर समसपुर थाना चाकुलिया (बंगाल) निवासी अजमल हुसैन पिता रजा अली मूर्ति का मोलभाव कर रहा था. क्रय किये जाने की नीयत से खाड़ी टोला दिघल बैंक निवासी संतोष कुमार गणेश पिता विष्णु प्रसाद गणेश मूर्ति की पहचान व कीमत तय करने में लगा था. पुलिसिया छानबीन में खुलासा हुआ कि मोबाइल फोन पर बात करने के बाद ही गिरोह के सदस्यों ने मूर्ति की पहचान व कीमत तय करने के लिए खाड़ीटोला निवासी संतोष गणेश को उक्त स्थल पर बुलाया था. थानाध्यक्ष सुमन कुमार ने बताया कि गैंग के गिरफ्तार सदस्यों को न्यायिक हिरासत में किशनगंज जेल भेज दिया गया है. मामले में थाना कांड संख्या 52 / 20 में 413 / 414 आईपीसी के तहत गैंग के गिरफ्तार सदस्यों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कर ली गयी है. पुलिस मामले की गहन छानबीन करने में जुटी है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें