27.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

भीतरघात की वजह से हारे दुलाल चंद्र गोस्वामी

पूरे चुनाव में इंडिया गठबंधन चट्टान की तरह लड़ते दिखा

राज किशोर, कटिहार. एनडीए के जदयू प्रत्याशी दुलाल चंद्र गोस्वामी की हार लोकसभा चुनाव में अंदर खाने भीतरघात से हो गयी. कांग्रेस प्रत्याशी तारिक अनवर को 567092 मत मिले जबकि जदयू प्रत्याशी दुलाल चंद्र गोस्वामी को चुनाव में 517229 वोट मिले. इस तरह से कांग्रेस प्रत्याशी तारिक अनवर ने 49869 मतों से जदयू प्रत्याशी को शिकस्त दी. चुनाव परिणाम आने के बाद खुलकर बातें सामने आ रही है कि जदयू प्रत्याशी अपने ही लोगों के भीतरघात की वजह से हार का सामना करना पड़ा है. हालांकि जदयू प्रत्याशी व किसी भी नेता ने इस संबंध में अब तक कोई बात नहीं की है. पर इस बात को जदयू व भाजपा के नेता, कार्यकर्ता चुनाव के पहले से ही कहते रहे है कि यदि दुलाल चंद्र गोस्वामी की हार होती है तो भीतरघात की वजह से ही हो सकती है. अन्यथा उनकी हार संभव नहीं है. चूंकि आंकड़ों पर बात करें तो वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में जदयू प्रत्याशी दुलाल चंद्र गोस्वामी पहली बार लोकसभा का चुनाव लड़ते हुए कांग्रेस प्रत्याशी तारिक अनवर को करीब 58000 वोटों के अंतर से हराया था. इस बार भी उन्हें पूरा भरोसा था कि चुनाव जीतेंगे. उन्हें अपने काम पर पूरा भरोसा था. पर एनडीए के कुछ बड़े नेता उन्हें हर हाल में हराना चाहते थे. ताकि सीट खाली हो और उन्हें अगले चुनाव में मौका मिले. जदयू के सूत्र बताते हैं कि ऐसा करने में वैसे लोग सफल हो गये. भीतरघात को कम करने के लिए जदयू प्रत्याशी के पक्ष में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कई सभाएं की. यहां तक की गृहमंत्री अमित शाह सहित कई भाजपा व जदयू नेताओं ने सभाएं की. रूठे गठबंधन के नेताओं को मनाने का प्रयास किया. वैसे लोग बड़े नेताओं के कटिहार पहुंचने पर मंच पर अपने बड़े नेताओं को अपनी उपस्थिति दिखा रहे थे. पर क्षेत्र में जदयू प्रत्याशी दुलाल चंद्र गोस्वामी के लिए वोट नहीं मांगा. हालांकि राजद से एक बड़े नेता पूर्व सांसद डॉ अहमद अशफाक करीम पार्टी छोड़कर जदयू में शामिल हुए. उन्होंने दुलाल चंद्र गोस्वामी को जीत दिलाने का काफी प्रयास किया पर उनका प्रयास भी सफल नहीं हो सका. इसके साथ ही महंगाई, बेरोजगारी सहित कई अन्य मुद्दों के हावी रहने का परिणाम यह रहा कि जदयू प्रत्याशी को 49 हजार से अधिक मतों के अंतर से हार का मुंह का देखना पड़ा.

पूरे चुनाव में इंडिया गठबंधन चट्टान की तरह लड़ते दिखा

इंडिया के कांग्रेस प्रत्याशी तारिक अनवर के पक्ष में गठबंधन के सभी दल शुरू से अंत तक चट्टान की तरह खड़े दिखे. पूरा चुनाव साथ मिलकर लड़ा और परिणाम जीत में बदल दिया. चुनाव में कांग्रेस, राजद, मुकेश साहनी के पार्टी के कार्यकर्ता व नेता की सामूहिक प्रयास तथा पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के लगातार चुनावी सभा में रोगार, महंगाई पर की गयी बात का असर मतदाताओं पर पड़ा और चुनाव में जीत हासिल करने में कामयाब रहे.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें