24.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

हर्ष फायरिंग में युवक को लगी गोली, आरोपित की पीट-पीटकर हत्या

चांद थाना क्षेत्र के महदाइच गांव में शादी कार्यक्रम में नाच के दौरान अवैध हथियार से हर्ष फायरिंग की गयी. इसमें एक 21 वर्षीय सरोज कुमार नामक युवक को गोली लग गयी. वह गंभीर रूप से जख्मी हो गया. इधर, गोली लगने से आक्रोशित ग्रामीणों द्वारा नाच के दौरान फायरिंग करने वाले गांव के ही नामवर सिंह के 36 वर्षीय पुत्र शमशेर सिंह उर्फ शेरू की लाठी-डंडे से पीट-पीट कर हत्या कर दी गयी

चांद. चांद थाना क्षेत्र के महदाइच गांव में शादी कार्यक्रम में नाच के दौरान अवैध हथियार से हर्ष फायरिंग की गयी. इसमें एक 21 वर्षीय सरोज कुमार नामक युवक को गोली लग गयी. वह गंभीर रूप से जख्मी हो गया. इधर, गोली लगने से आक्रोशित ग्रामीणों द्वारा नाच के दौरान फायरिंग करने वाले गांव के ही नामवर सिंह के 36 वर्षीय पुत्र शमशेर सिंह उर्फ शेरू की लाठी-डंडे से पीट-पीट कर हत्या कर दी गयी. उक्त मामले में पुलिस द्वारा तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है. जानकारी के अनुसार, महदाइच गांव में शत्रुधन राम की बेटी की शादी रविवार को थी. इसमें उत्तरप्रदेश के बेलावर गांव से बारात आयी थी. शादी समारोह में नाच का आयोजन किया गया था. नाच के दौरान हर्ष फायरिंग की गयी. इसमें शादी समारोह में हिस्सा लेने आये शत्रुधन राम के उत्तरप्रदेश बजनपुरवा निवासी शीतल राम का 21 वर्षीय पुत्र सरोज कुमार को हर्ष फायरिंग में गोली लग गयी. सरोज की स्थिति भी गंभीर है. आनन-फानन में परिजनों द्वारा उसे इलाज के लिए बनारस ले जाया गया, जहां उसका इलाज चल रहा है. जानकारी के अनुसार, महदाइच गांव के शत्रुघन राम की बेटी की शादी उत्तर प्रदेश के बेलावर गांव में तय थी. रविवार की रात लगभग 10 बजे गाजे-बाजे के साथ बारात महदाइच गांव में आयी. इस दौरान द्वार पूजा लगाने के बाद शामियाने में नाच शुरू किया गया. यहां पर नाच में अवैध हथियार से भोजपुरी गाने पर फायरिंग की जा रही थी. इसी क्रम में महदाइच के ही शमशेर सिंह ने अपने अवैध हथियार से फायरिंग की, जिसकी गोली जाकर सीधे शत्रुधन राम के यहां शादी में हिस्सा लेने आये उत्तरप्रदेश के सरोज को लगी. सरोज वहीं पर गिर गया. सरोज कुमार शत्रुघन राम के भाई के साला का पुत्र बताया जाता है. गोली लगने के बाद नाच और बारातियों में अफरा-तफरी व भगदड़ मच गयी. स्थानीय लोगों द्वारा अवैध हथियार से फायरिंग करने वाले शमशेर सिंह को पकड़ लिया गया व आक्रोशित लोगों ने लाठी-डंडे से उसकी पिटाई शुरू कर दी. उसे खेत में इस तरह ग्रामीणों द्वारा बुरी तरह पीटा गया कि वह काफी गंभीर रूप से जख्मी हो गया. कुछ देर बाद ही उसकी मौत हो गयी. हालांकि, शमशेर सिंह के परिजनों ने मौके पर पहुंचकर घायल शमशेर सिंह को उत्तर प्रदेश के ट्राॅमा सेंटर बनारस ले गये, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया. शमशेर की पिटाई करने वाले ग्रामीण वहां से फरार हो गये. – पुलिस की मौजूदगी में किसी तरह करायी गयी शादी घटना की सूचना मिलने के बाद चांद थाने की पुलिस जब घटनास्थल पर पहुंची, तो चारों तरफ सामान बिखरा हुआ था. एक युवक गोली लगने से जख्मी व दूसरे की पीट-पीट कर हत्या के बाद चारों तरफ सन्नाटा छाया हुआ था. शादी समारोह रुक गया था. पुलिस की मौजूदगी में शादी समारोह को संपन्न कराया गया और रात में ही लड़का लड़की व बारातियों को उनके गांव उत्तरप्रदेश के बेलावर के लिए विदाई कर दिया गया. उसके बाद पुलिस घटना के विस्तृत जांच में जुट गयी. शादी में नाच के दौरान चली गोली में महदाइच गांव के ही शमशेर सिंह को मौजूद लोगों ने बुरी तरह से पिटाई की, जिससे उनकी मौत हो गयी. शमशेर सिंह को दो लड़की और एक लड़का है. उसके घर में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है. इस संबंध में मृतक के पिता नामवर सिंह ने बताया कि मेरा बेटा शादी में नेवता में गया था. वह गोली नहीं चलायी है. भीड़ में उसकी पीट-पीटकर हत्या की गयी है. इस संबंध में लड़की के पिता शत्रुघ्न राम ने बताया कि शमशेर सिंह पिता नामवर सिंह से बहुत घरेलू संबंध था. घटना किस तरह से घटी मुझे इसकी जानकारी नहीं है. गोली लगने पर मुझे इसकी सूचना मिली. – हत्या मामले में लड़की का भाई समेत तीन लोग गिरफ्तार एसडीपीओ शिवशंकर प्रसाद ने बताया कि पीट-पीट कर हत्या मामले में जिस लड़की की शादी थी, उसके भाई समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है. गिरफ्तार लोगों में लड़की का भाई व शत्रुधन राम का बेटा मुकेश कुमार, रामजी राम का बेटा मोहित कुमार व सोहित कुमार शामिल हैं. उक्त मामले में दोनों तरफ से प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है. एक प्राथमिकी शमशेर के पिता नामवर सिंह द्वारा दर्ज करायी गयी है. इसमें 10 नामजद व कई अज्ञात लोग शामिल हैं. वहीं, दूसरी प्राथमिकी शत्रुधन राम की तरफ से दर्ज करायी गयी है, जिसमें शमशेर को गोली चलाने के लिए जिम्मेदार बताते हुए अभियुक्त बनाया गया है. इनसेट आये दिन शादी सहित अन्य समारोह में हर्ष फायरिंग के दौरान जा रही जान भभुआ कार्यालय. हर्ष फायरिंग को लेकर गृह विभाग की तरफ से कड़े कानून बनाये गये हैं. इसके बावजूद लाइसेंसी हथियार तो दूर अवैध हथियारों से शादी समेत समाराहों में हर्ष फायरिंग की जा रही है. गृह विभाग ने हर्ष फायरिंग को लेकर अभी हाल में सख्त गाइडलाइन जारी की है, इसके बावजूद हर्ष फायरिंग को जारी गाइडलाइन का जमीनी स्तर पर सख्ती से पालन नहीं होने के कारण लोग समारोह में अवैध हथियारों से फायरिंग कर रहे हैं, जिसमें लोगों की जान जा रही है. सरकार की गाइडलाइन का सख्ती से पालन नहीं किया गया, तो इस सिलसिला आगे भी जारी रहेगा. घटना नंबर-1 पिछले साल आठ अप्रैल को किनरचोला गांव में शादी समारोह के दौरान द्वार पूजा पर अवैध हथियार से हर्ष फायरिंग की गयी, जिसमें गोली लगने से एक युवक की मौत हो गयी थी. सासाराम के तकिया मुहल्ले से बारात आयी थी. खासबात यह कि घरातियों द्वारा द्वारपूजा के मौके पर इस तरह से फायरिंग की गयी कि वहां बारात देखने आये बाबूलाल राम नाम के युवक की गोली लगने से घटनास्थल पर ही मौत हो गयी थी. घटना नंबर-2 इससे पहले शहर के एसवीपी कॉलेज परिसर में एक शादी समारोह में नाच का आयोजन किया गया था. वहां पर नाच के दौरान बैंजू मास्टर द्वारा मनमाफिक गाना नहीं बजाया गया, जिस पर अवैध हथियार से फायरिंग की गयी. इसमें बैंजू मास्टर की गोली लगने से घटनास्थल पर ही मौत हो गयी थी. बैंजू मास्टर रोहतास जिले का रहनेवाला था.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें