हड़ताल होने और नहीं होने के बीच बिना इलाज के लौटे सैकड़ों मरीज

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

मेन व गायनी ओपीडी में डेढ़ घंटे बाद फिर शुरू हुआ निबंधन

दरभंगा : डीएमसीएच के ओपीडी में इलाज कराने आये सैकड़ों मरीज इलाज होने या नहीं होने को लेकर घंटों परेशान रहे. जूनियर डॉक्टरों की हड़ताल के मद्देनजर गायनी व मेन ओपीडी में सुबह करीब डेढ़ घंटे तक अफरातफरी की स्थिति बनी रही. बता दें कि ओपीडी का समय सुबह आठ बजे शुरू होने से पूर्व सैकड़ों मरीज ओपीडी परिसर में जमा हो गये थे.
ओपीडी के मेन गेट का ताला खुला हुआ था. दूर- दराज से आये सैकड़ों मरीज व उनके परिजन निबंधन के लिए रजिस्ट्रेशन काउंटर पर पहुंच गये थे. महिला काउंटर पर खड़ी दो महिला का निबंधन हुआ. इसी बीच एक गार्ड ने निबंधन काउंटर के कर्मियों को जूनियर डॉक्टर के हवाले से काम रोकने को कहा. निबंधन कर्मी को काम रोक देना पड़ा. सभी कर्मी कंप्यूटर बंद कर बाहर निकल गये.
यह स्थिति सुबह आठ बजे से 9.40 बजे तक रही. गार्ड ने सभी मरीज व परिजनों को हड़ताल की बात कह बाहर कर दिया. मेन ओपीडी के गेट में ताला लगा दिया गया. ओपीडी परिसर सुनसान हो गया. तब तक वहां पहुंचे मरीज व परिजन निराश होकर अस्पताल से चले गये. गायनी ओपीडी में यही स्थिति बनी रही. वहां भी रजिस्ट्रेशन काउंटर पर काम रोक दिया गया. जूनियर चिकित्सक पटना से सूचना मिलने के बाद चिकित्सा कार्य शुरू करने की बात कह रहे थे.
9.40 बजे शुरू हुआ निबंधन
करीब डेढ़ घंटे बाद 9.40 बजे एक बार फिर ओपीडी का गेट खोल दिया गया. उम्मीद में बाहर खड़े सैकड़ों मरीज व परिजनों को अंदर आने को कहा गया. मरीज व परिजन भागते हुये रजिस्ट्रेशन काउंटर तक पहुंचे. इससे अफरा- तफरी मच गयी. जानकारी के अनुसार करीब 9.40 बजे मेन ओपीडी में दुबारा निबंधन कार्य प्रारंभ हुआ. जबकि गायनी ओपीडी में 9.30 बजे रजिस्ट्रेशन काउंटर पर पर्ची काटने का कार्य शुरू हुआ. इसी बीच करीब पांच सौ से अधिक मरीज व परिजन हड़ताल की बात कहे जाने पर वापस लौट गये थे.
मेन ओपीडी में निर्धारित समय एक बजे तक 1640 मरीजों ने इलाज के लिए निबंधन कराया. गायनी ओपीडी में एक बजे तक 103 मरीजों ने पर्ची कटवायी. निबंधन के बाद सभी मरीजों ने संबंधित विभाग में जाकर अपना इलाज कराया. बता दें कि अमुमन बुधवार को ओपीडी में दो हजार से अधिक मरीज अपना निबंधन कराते हैं.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें