33.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

ललन सिंह से मिलने उनके आवास पहुंचे सीएम नीतीश कुमार, 15 मिनट की मुलाकात में क्या हुई बात?

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार देर शाम जदयू के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह से उनके आवास पर मुलाकात की. सीएम नीतीश कुमार ललन सिंह के आवास पर करीब 10 से 15 मिनट तक रुकें. इस दौरान उन्होंने विभिन्न मुद्दों पर बात की.

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार देर शाम जदयू के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह से पटना स्थित उनके बुद्धा कॉलोनी के निजी आवास पर जाकर मुलाकात की. सीएम नीतीश कुमार ललन सिंह के आवास पर करीब 10 से 15 मिनट तक रुकें. इस दौरान दोनों नेताओं ने एक-दूसरे का हाल -चाल जाना और फिर उसके बाद ताजा राजनीतिक हालात पर विचार-विमर्श किया गया. इसके बाद मुख्यमंत्री वहां से वापस लौट गये. जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद संभालने और ललन सिंह के पार्टी अध्यक्ष के पद से इस्तीफा देने के बाद पहली बार मुख्यमंत्री ललन सिंह के पटना स्थित आवास पर पहुंचे थे.

नीतीश कुमार बने जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष

बता दें कि 29 दिसंबर को नई दिल्ली की कंस्टीच्यूशन क्लब में हुई जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में ललन सिंह ने जदयू राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने की घोषणा की थी. उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को अध्यक्ष बनाये जाने का प्रस्ताव दिया था. इसे सर्वसम्मत से स्वीकार कर लिया गया था. इसके बाद पार्टी की राष्ट्रीय परिषद की बैठक हुई जिसमें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के प्रस्ताव पर मुहर लगा दी गयी.

राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के बाद क्या बोले थे नीतीश

तीसरी बार जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के बाद नीतीश कुमार ने अपने पार्टी पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि वे सरकार के साथ संगठन के भी सभी काम देखेंगे. उन्होंने देश भर में जदयू संगठन को मजबूत करने के साथ ही देश के अलग-अलग राज्यों का दौरा कर इंडिया गठबंधन को मजबूती देने की बात कही थी.

ललन सिंह ने क्यों दिया था इस्तीफा?

ललन सिंह ने पद से इस्तीफा देने का कारण बताते हुए कहा था कि उन्हें लोकसभा का चुनाव लड़ना है और ऐसे में वे संगठन को अधिक समय नहीं दे पायेंगे. ऐसे में पार्टी राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद से उन्हें मुक्त करे और संगठन की कमान पार्टी के सर्वमान्य नेता नीतीश कुमार संभाले. इस प्रस्ताव का अनुमोदन राष्ट्रीय परिषद के सदस्यों ने किया.

ललन सिंह ने खुद रखा था प्रस्ताव

ललन सिंह ने पार्टी की बैठक में यह प्रस्ताव रखा था कि वह खुद चुनाव लड़ने वाले हैं और उनका क्षेत्र में रहना जरूरी है. इसमें उनकी व्यस्तता रहेगी इस कारण वह राष्ट्रीय अध्यक्ष पद को संभालने में असमर्थ हैं. इस पर नीतीश कुमार ने उनके इस्तीफे को स्वीकार कर लिया. राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ललन सिंह को अपनी गाड़ी में बिठाकर ले गये थे.

शरद यादव की जगह नीतीश कुमार बने थे अध्यक्ष

29 दिसंबर का दिन नीतीश कुमार ने तीसरी बार जदयू की कमान संभाली थी. इसके पहले नीतीश कुमार दो बार जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष रह चुके हैं. नीतीश पार्टी का गठन होने के 13 साल बाद सबसे पहले 10 अप्रैल 2016 को जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष बने थे. जदयू का गठन अक्टूबर 2003 में हुआ था उस वक्त शरद यादव पार्टी के अध्यक्ष बने थे. नीतीश के अध्यक्ष बनने से पहले तक शरद यादव ने ही पार्टी की कमान संभाली थी.

आरसीपी सिंह के बाद ललन सिंह ने संभाली थी जदयू की कमान

30 अक्टूबर 2019 नीतीश कुमार ने दूसरी बार जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष का पद संभाला. इस बार वो 27 दिसंबर 2020 तक इस पद पर रहें. इसके बाद आरसीपी सिंह को पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया गया. आरसीपी 31 जुलाई 2021 तक पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष रहे. केंद्र में मंत्री बनने के बाद उन्होंने पार्टी के अध्यक्ष का पद छोड़ दिया. इसके बाद से ललन सिंह जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद पर थे. वहीं जदयू के मौजूदा राष्ट्रीय अध्यक्ष अब नीतीश कुमार हैं.

Also Read: नीतीश कुमार के जदयू अध्यक्ष बनने पर कार्यकर्ताओं में उत्साह, पटना एयरपोर्ट पर गाजे-बाजे के साथ किया स्वागत

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें