1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. buxar
  5. the contractor was stopped for not paying extortion the dgp started investigating the matter on the instructions skt

रंगदारी नहीं देने पर ठेकेदार का काम कराया बंद, डीजीपी के निर्देश पर मामले की जांच शुरू...

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
सांकेतिक फोटो
सांकेतिक फोटो
social news

बक्सर. अपराधियों ने ठेकेदार से दो लाख रुपये की रंगदारी की मांग की है. रंगदारी नहीं देने पर अपराधियों ने तकरीबन 26 लाख की लागत से बन रही बसही सिकठी न्यू रोड से सुगहर डेरा पथ, 44 लाख की लागत से तियरा धनसोई से दयालपुर और 62 लाख की लागत से बन रही तियरा धनसोई रोड से बहुआरा मार्ग के कार्य को बंद करा दिया. ठेकेदार ने इस मामले में तीन दिन पूर्व राजपुर थाने में प्राथमिकी दर्ज कराने के लिए आवेदन दिया गया. लेकिन पुलिस के द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गयी. इसके बाद ठेकेदार ने मामले की जानकारी डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय को दी. सूचना मिलते ही डीजीपी ने एसपी उपेंद्रनाथ वर्मा को मामले की जांच कर और अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई करने का निर्देश दिया.

ठेकेदार रामानंद राय से दो लाख रुपये की रंगदारी मांगी

डीजीपी से निर्देश मिलते ही एसपी ने मामले की जांच शुरू कर दी है. एसपी ने मामले को लेकर राजपुर थानाध्यक्ष की जमकर क्लास लगायी और अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई करने का आदेश दिया. बताया जाता है कि यूपी के गाजीपुर जिले के ढढ़नी गांव के रहने वाले रामानंद राय ग्रामीण कार्य विभाग कार्य प्रमंडल की तरफ से राजपुर प्रखंड के बसही-सिकठी रोड से सुगहर डेरा तक एक महीने से कार्य करा रहे हैं. सुगहर डेरा के रहने वाले शेखर यादव और नारायण यादव कार्य कराने को लेकर ठेकेदार रामानंद राय से दो लाख रुपये की रंगदारी मांगी. जब रामानंद राय ने रंगदारी नहीं दी तो दोनों अपराधियों ने उनके कर्मचारियों के साथ मारपीट कर उन्हें भगा दिया. इसके बाद ठेकेदार रामानंद राय ने इसकी सूचना राजपुर थाने की पुलिस को दी. साथ ही लिखित आवेदन दिया. लेकिन राजपुर थाना द्वारा किसी प्रकार की कोई कार्रवाई नहीं की गयी. इसके बाद जब रामानंद राय ने मामले की जानकारी ली तो पता चला कि दोनों अपराधियों के घर में कोई राजपुर थाना में चौकीदार के पद पर तैनात थे.

डीजीपी ने एसपी को मामले की जांच कर कार्रवाई करने का निर्देश दिया

हालांकि वे इस मामले में राजपुर थाना पुलिस से मिले , लेकिन पुलिस के द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गयी. जब ठेकेदार रामानंद राय को इसकी सूचना मिली की डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय रविवार को बक्सर आए हुए हैं. तो उन्होंने आवेदन लेकर इसकी जानकारी डीजीपी को दी. सूचना मिलते ही डीजीपी ने एसपी उपेंद्रनाथ वर्मा को मामले की जांच कर कार्रवाई करने का निर्देश दिया.

एसपी ने थानाध्यक्ष की क्लास लगायी

डीजीपी से निर्देश मिलते ही एसपी ने मामले की जांच करने और मामला दर्ज करने को लेकर राजपुर थानाध्यक्ष की क्लास लगायी और अपराधियों की गिरफ्तारी करने का निर्देश दिया. उपेंद्रनाथ वर्मा का निर्देश मिलते ही राजपुर थाना की पुलिस मामले की जांच में जुट गयी. उपेंद्रनाथ वर्मा ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है.यदि मामला सत्य पाया जाता है तो दोनों अपराधियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. बहुत जल्द उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेज दिया जाएगा.

Posted by : Thakur Shaktilochan Shandilya

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें