25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

शहरी क्षेत्र के सात तालाबों का होगा सौंदर्यीकरण

नगर परिषद शेखपुरा के अंतर्गत आने वाले सात तालाबों का सौंदर्यीकरण किया जायेगा. इसके लिए एक करोड़ रुपए से अधिक की राशि खर्च की जायेगी.

शेखपुरा. नगर परिषद शेखपुरा के अंतर्गत आने वाले सात तालाबों का सौंदर्यीकरण किया जायेगा. इसके लिए एक करोड़ रुपए से अधिक की राशि खर्च की जायेगी. नगर विकास विभाग की ओर से इन तालाबों के सौंदर्यीकरण की स्वीकृति दे दी गयी है. इन तालाबों के सौंदर्यीकरण के तहत घाट का निर्माण,पौधारोपण, लोगों के बैठने के लिये सिमेंटेड बेंच आदि बनाए जायेंगे. इस संबंध में शेखपुरा नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी ने बताया कि शहरी क्षेत्र के कुल 17 तालाबों के सौंदर्यीकरण के लिये नगर विकास विभाग को प्रस्ताव भेजा गया था. इसमें साथ तालाबों के सौंदर्यीकरण के प्रस्ताव को स्वीकृति मिल गई है. इसके लिए एक करोड़ 10 लाख रुपए की राशि खर्च की जायगी. शहर के सात तालाबों में श्यामा सरोवर पार्क तालाब, पुल पोखर, मियां पोखर,गुहिया पोखर, लालबाग़ पोखर, खीरी पोखर का नाम शामिल है. इन तालाबों के सौंदर्यी करण से इन इलाकों में हरियाली और जल संरक्षण के साथ ही लोगों को अपने इलाके में सुबह शाम घूमने टहलने और बैठने का जगह मिलेगा. जिससे बच्चों के साथ ही बड़े –बुजुर्गों को काफी सहूलियत मिलेगी. शहर के इन सात तालाबों की बदलेगी तस्वीर शहरी क्षेत्र के जिन सात तालाबों में सौंदर्यीकरण का कार्य किया जाना है. उनमें शहर का सबसे प्रमुख श्यामा सरोवर पार्क, पुल पोखर, मियां पोखर, सतबिघी मुहल्ले का गुहिया पोखर, लालबाग़ धर्मशाला के समीप का तालाब, गिरिहिंडा का खीरी पोखर तालाब शामिल है. इन तालाबों के सौंदर्यीकरण में तालाब किनारे पौधारोपण, घाट का निर्माण के साथ ही लोगों के बैठने के लिये सिमेंटेड बेच उपलब्ध कराया जायगा. इससे जहां हरियाली में बढ़ोतरी होगी. वहीं लोगों को अपने मुहल्ले में घूमने –फिरने खाली समय में बैठने का हरा-भरा जगह उपलब्ध हो जायगा. इससे शहरी क्षेत्र की तस्वीर बदल जायगी. जल संरक्षण को मिलेगा बढ़ावा शहर के इन तालाबों की खुदाई भी की जायगी. जिससे शहरी क्षेत्र में जल संरक्षण को बढ़ावा मिलेगा. इसके साथ ही शहरी क्षेत्र में गिरते जल स्तर को भी रोकने में मदद मिलेगी. वर्तमान में कई तालाबों की स्थिति बेहद खराब है. इन तालाबों पर दिन प्रतिदिन अतिक्रमण के खतरे के साथ ही कचरा फेंकने का जगह बना हुआ है. इससे शहरी क्षेत्र का सौंदर्य पर दाग की तरह बना हुआ है.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें