1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. bihar crime news east champaran sp gives order for arrest daroga in motihari kand hathras kand in bihar motihari news upl

Bihar Crime News: मोतिहारी कांड में SP ने दारोगा की गिरफ्तारी का दिया आदेश, साक्ष्य मिटाने और अभियुक्तों की मदद का आरोप

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
तत्कालीन थानाध्यक्ष के गिरफ्तारी को ले टीम गठित
तत्कालीन थानाध्यक्ष के गिरफ्तारी को ले टीम गठित
File

Bihar Crime News: बिहार के मोतिहारी (Motihari Case) में नेपाली किशोरी के साथ गैंगरेप और हत्या के बाद जबरन शव जलाये जाने के मामले में तत्कालीन थानाध्यक्ष संजीव रंजन को गिरफ्तार करने का आदेश दे दिया गया है. एसपी नवीनचंद्र झा ने कहा कि गिरफ्तारी नहीं हुई तो कुर्की जब्ती की जायेगी. इधर, घटना के करीब 20 दिन बाद पीड़ित खड्ग सिंह परिजनों के साथ गुरुवार की शाम एसपी कार्यालय पहुंच अपनी व्यथा सुनायी.

कहा प्राथमिकी में दर्ज बात सही है. घटना में मुख्य रूप से विनय साह, सियाराम सहित 10-12 लोग शामिल है. पंच पद सुशोभित करने वाले रमेश साह पर जोर जबरदस्ती कर पुलिस की मिलीभगत से किशोरी का दाह संस्कार कराने का आरोप लगाया. कहा कि दो पुत्र व चार पुत्रियां है जिसमें तीन की शादी हो चुकी है. वे लोग मूल रूप से नेपाल के बरबदिया जिला अंतर्गत खुरखुरे वार्ड 30 के निवासी है.

किशोरी का भाई भी अपने पिटाई की कहानी कहते हुए कहा कि बहन को मृत देख पिता को बुलाकर घर लाये तो सभी हम सभी बहन की मौत पर रोने-चिल्लाने लगे. खडग सिंह चौकीदारी कर परिवार का जीवन यापन करते हैं. घटना 21 जनवरी की है. 22 जनवरी को डर भय से नेपाल चले गये फिर 30 को पुलिस के बुलाने पर आये.

एसपी नवीनचंद्र झा ने बताया कि विनय साह व सियाराम साह को जेल भेज दिया गया है. फरार आरोपियों की खोज में छापेमारी चल रही है. साक्ष्य नष्ट करने व अभियुक्तों को सहयोग करने में तत्कालीन थानाध्यक्ष संजीव रंजन को गिरफ्तार करने का आदेश दिया गया है. बता दें कि उक्त घटना 21 जनवरी की है. घटना के बाद संजीव रंजन का एक ऑडियो वायरल हुआ, जिसके बाद उनको सस्पेंड कर दिया गया था.

जांच के लिए पटना से पहुंची टीम

मोतिहारी के कुंडवा चैनपुर में नेपाली किशोरी के साथ सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या एवं जबरन शव जलाने के मामले को लेकर बुधवार को पटना से आयी सहायक निदेशक के नेतृत्व में चार सदस्यीय एफएसएल की टीम ने घटनास्थल की जांच की. एफएसएल टीम ने युवती के साथ दुष्कर्म व हत्या को अंजाम दिए जाने वाले घर का पहले बारीकी से निरीक्षण किया. घर व कमरे की जांच के बाद एफएसएल साइंस लेबोरेटरी पटना की टीम ने युवती के शव जलाने वाली जगह पर पहुंची. टीम ने वहां से हड्डियों के जले हुए अवशेष को संग्रह कर अपने साथ ले गयी.

साक्ष्य मिलने की उम्मीद में शव जलाने वाली जगह के आसपास के जगहों का भी बारीकी से मुआयना किया. टीम ने आकाश नर्सिंग होम के अलावा आसपास के दुकानदारों से भी घटना के संबंध में जानकारी ली. एफएसएल सहायक निदेशक श्री नयन ओझा ने बताया कि मौके ए वारदात एवं शव जलाने वाली जगह से सैंपल संग्रह किया गया है. मामले में जांच के बाद ही कुछ बताया जा सकता है. बता दें कि किशोरी से गैंगरेप के बाद हत्या व शव को जबरन जला दिया गया था.

Posted By: Utpal kant

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें