25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

9 वर्षीय अखिलेश की हुई थी निर्मम हत्या, कोर्ट ने लिया संज्ञान, आरोपितों को बुलाया

9 वर्षीय अखिलेश की हुई थी निर्मम हत्या, कोर्ट ने लिया संज्ञान, आरोपितों को बुलाया

जगदीशपुर थाना क्षेत्र के भवानीपुर गांव की रहने वाली मंजुला देवी के 9 वर्षीय पुत्र अखिलेश की निर्मम हत्या दो साल पूर्व 16 मई 2022 को कर दी गयी थी. घटना के दो साल बीतने के बाद भी कांड के नामजद आरोपित खुलेआम घूम रहे हैं. पुलिस ने भी मामले में तीन लोगों के विरुद्ध कांड को सत्य पाते हुए अन्य चार नामजद अभियुक्तों के विरुद्ध साक्ष्य नहीं मिलने की बात कहते हुए जांच जारी रखने का उल्लेख कर तीन आरोपितों के विरुद्ध चार्जशीट दायर कर दिया है. इधर परिजन मामले में जगदीशपुर पुलिस की भूमिका को संदिग्ध बताते हुए दर दर की ठोकरें खा रही हैं. पिछले दो सालों में दर्जनों बार मृतक की मां मंजुला देवी और भाई संतोष वरीय पुलिस अधिकारियों के दफ्तरों का चक्कर लगे हैं. संतोष ने बताया कि मामले में पुलिस द्वारा आरोपितों की सहायता करने की बात कही. उसने बताया कि अगर पुलिस मामले में निष्पक्ष जांच करती तो अब तक कांड के फरार अभियुक्त जयराम मंडल के घर की कुर्की वारंट ले चुकी होती. भागलपुर पुलिस के द्वारा मामले में बरती जा रही ढिलाई के बाद परिजनों ने कोर्ट का सहारा लिया. कोर्ट में न्यायिक अधिकारियों को पत्र लिख कर न्याय की गुहार लगायी. जिसके बाद मामले में कोर्ट ने संज्ञान लिया है. पुलिस ने जिन नामजद अभियुक्तों के विरुद्ध साक्ष्य नहीं होने की बात कहकर उन्हें जांच में डाला था उनके विरुद्ध कोर्ट ने समन जारी किया है. जिन आरोपितों के विरुद्ध समन जारी किया गया है उनमें छंगुरी साह, डीजल तांती और अशोक साह शामिल हैं. वहीं कांड के फरार अभियुक्त जयराम मंडल के विरुद्ध मामले में गैर जमानती वारंट जारी कर दिया है. इसके बावजूद भी पुलिस न तो फरार आरोपित की गिरफ्तारी का प्रयास कर रही है और न ही उसपर किसी प्रकार का दबिश बना रही है.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें