1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. bhagalpur
  5. bhagalpur power crisis deepens heavy cut in allocation of sabour grid city in darkness

Power Crisis: भागलपुर में सबौर ग्रिड के आवंटन में भारी कटौती, गहराया बिजली संकट, अंधेरे में शहर

भागलपुर सिटी के पावर सब स्टेशनों को बिजली सप्लाई करनेवाले सबौर ग्रिड के आवंटन में भारी कटौती कर दी गयी. आवंटन में 31.25 फीसदी की आपूिर्त हो रही है. इससे 80 मेगावाट की जगह 25 मेगावाट बिजली मिलने लगी है. इसका असर पूरे शहर की बिजली आपूर्ति पर पड़ा है.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
बिजली कट के बाद अंधेरे में रेल्वे स्टेशन
बिजली कट के बाद अंधेरे में रेल्वे स्टेशन
प्रभात खबर

भागलपुर सिटी के पावर सब स्टेशनों को बिजली सप्लाई करनेवाले सबौर ग्रिड के आवंटन में शनिवार रात 9.21 बजे से भारी कटौती कर दी गयी. आवंटन में कमी स्टेट लोड डिस्पैच सेंटर (एसएलडीसी) से की गयी है. आवंटन में 31.25 फीसदी की आपूिर्त हो रही है. इससे 80 मेगावाट की जगह 25 मेगावाट बिजली मिलने लगी है. इसका असर पूरे शहर की बिजली आपूर्ति पर पड़ा है.

55 मेगावाट कम बिजली

शहर और आसपास के इलाकों में बिजली संकट गहरा गया है. 55 मेगावाट कम बिजली मिलने के कारण सबौर ग्रिड से पावर सब स्टेशनों को रोटेशन पर यानी, दो घंटे पर आधा घंटा आपूर्ति होने से एक साथ आधा दर्जन पावर सब स्टेशन बंद पड़ गये हैं. ग्रिड के बिजली आवंटन में जब कमी की गयी, तब अलीगंज के बीजीपी-2, सीएस, टीटीसी, सबौर और बरारी उपकेंद्र को आपूर्ति की गयी. तब भी पांच मेगावाट से भी कम बिजली मिली. बाकी के सभी सब स्टेशन की आपूर्ति ठप रही.

लोड कम आपूर्ति करने की हिदायत

सबौर ग्रिड से रोटेशन पर एक बार में जिस तीन उपकेंद्रों को बिजली दी जा रही है, उन्हें इस बात की हिदायत मिली है कि वह लोड कम कर शहर में आपूर्ति करें.इस कारण सभी फीडरों से सप्लाई मुमकिन नहीं हो रही है. अगर किसी पावर सब स्टेशन के चार फीडर हैं, तो दो बंद रहने लगे हैं. यानी, न तो ग्रिड को फुललोड बिजली मिल रही है और न हीं शहर में सप्लाई करने के लिए पावर सब स्टेशनों को.

गोराडीह में 18 घंटे बिजली ठप

गोराडीह के पूरे इलाके में 18 घंटे बिजली ठप रही. शुक्रवार रात करीब 10 ठप हुई बिजली दूसरे दिन शनिवार शाम करीब चार बजे सुचारु हुई. इस दौरान लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा. कई दिनों से बिजली कट से लोग पहले ही परेशान थे, वहीं लंबी कटौती ने मुश्किलें बढ़ा दी. लोगों को पीने का पानी तक नहीं मिला.

यह रही बिजली संकट की वजह

गोराडीह पावर सब स्टेशन में शॉट लगने से पैनल व बैटरी में खराबी आ गयी. शनिवार को एमआरटी की टीम पहुंची और पैनल को दुरुस्त किया और बैटरी बदली. इसके बाद उपकेंद्र के गोराडीह, माछीपुर व चकदरिया फीडर से बिजली की आपूर्ति बहाल हो सकी. इससे पहले शॉट लगने से उक्त सभी फीडरों से बिजली आपूर्ति ठप हो गयी थी.

दिन में भी रही तबाही

इधर दिन में भी कहीं फॉल्ट, तो शट डाउन या ट्रिपिंग की समस्या बनी रही. 33 हजार वोल्ट की लाइन ट्रिप करने से मोजाहिदपुर पावर हाउस की बिजली शाम करीब छह बजे ठप हो गयी. स्टेशन चौक, लहेरी टोला, सूजागंज, मोजाहिदपुर से लेकर उर्दू बाजार तक इलाके के लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा. मायागंज फीडर में आयी खराबी को ठीक करने के लिए 11 हजार वोल्ट की लाइन को शटडाउन पर रखा गया, इससे घंटों बिजली आपूर्ति प्रभावित रही.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें