वैद्य जी के खाते से 49 हजार रुपये की ठगी, ठग निकला कपड़े का फेरीवाला

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
भागलपुर : कोतवाली थाने के आनंद चिकित्सालय रोड के रहने के वैद्य गोपाल कृष्ण मिश्रा के बैंक खाते से चार जून, 2019 को साइबर अपराधियों ने 49 हजार रुपये उड़ा लिये थे. उक्त मामले में केस दर्ज कराने के बाद से ही पुलिस मामले की जांच में जुट गयी थी. मामले की जांच कोतवाली थाने में प्रतिनियुक्त एसआई सीबी सिन्हा को दी गयी.
उन्होंने ने केवल खाते से पैसे उड़ाने वाले साइबर अपराधियों का पता लगाया, बल्कि उक्त साइबर अपराधियों के नाम और पता का भी पता लगा लिया. काड के अनुसंधान के क्रम में पुलिस जांच में यह बात आयी है कि साइबर ठगों ने कोलकाता में रहकर घटना को अंजाम दिया था. 4 जून, 2019 को गोपाल मिश्रा ने कोतवाली थाने में साइबर ठगी का केस दर्ज कराया गया था.
थाने को दिये गये आवेदन में उन्होंने उल्लेख किया था कि स्टेट बैंक ऑफ इंडिया का मनेजर बता कर उन्हें फोन करने वाले व्यक्ति ने उनका एटीएम कार्ड बंद होने की जानकारी दी और नये एटीएम को मुहया कराने के लिए पुराने एटीएम का नंबर, सवीवी और फोन पर आये ओटीपी की जानकारी ले ली. उक्त जानकारी मुहया कराते ही वैद्य जी के खाते से 49 हजार रुपये उड़ गये.
जांच में यह बात सामने आयी है कि वैद्य जी को फोन करने वाला व्यक्ति अजीत देबनाथ कोलकाता में रहकर कपड़ा फेरी का काम करता है. वह दो अन्य लोगों के साथ मिलकर इसी तरह से साइबर ठगी के मामलों को अंजाम देता है. अजीत देबनाथ खुद फोन पर लोगों से बात कर उनसे बैंक और एटीएम कार्ड संबंधी जानकारी प्राप्त करता है. दूसरा व्यक्ति उक्त जानकारियों को फौरन कंप्यूटर पर डाल कर उससे पैसे ट्रांसफर करता है. तीसरा व्यक्ति दूसरे कंप्यूटर पर बैठकर उक्त पैसों से तुरंत खरीदारी कर लेता है. पुलिस की जांच में यह बात सामने आयी है कि वैद्य जी से ठगे पैसों से साइबर अपराधियों ने ऑनलाइन सोने की खरीद की थी. वरीय अधिकारियों के निर्देश प्राप्त करते ही भागलपुर पुलिस की एक टीम कोलकाता जाकर उक्त अपराधियों को गिरफ्तार कर भागलपुर लायेगी.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें