1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. bettiah
  5. pulwama attack injured father and son reached the village worried about family expenses

पुलवामा में गोली लगने से हुए घायल पिता व पुत्र पहुंचे गांव, अब परिवार का खर्च चलाने की चिंता

पिछले चार अप्रैल को करीब डेढ़ बजे दिन में स्थानीय थाना क्षेत्र के सिकटौर गांव निवासी जोखू चौधरी एव उसके पुत्र पटलेश्वर कुमार को पुलवामा जिला लजुरा गांव में लगी गोली से घायल हो गये थे.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
अपने परिवार के साथ घायल पिता व पुत्र
अपने परिवार के साथ घायल पिता व पुत्र
Prabhat khabar

पिछले चार अप्रैल को करीब डेढ़ बजे दिन में बेतिया के सिकटौर गांव निवासी जोखू चौधरी एव उसके पुत्र पटलेश्वर कुमार को पुलवामा जिला लजुरा गांव में लगी गोली से घायल हो गये थे. उपरोक्त दोनों घायल पिता पुत्र एवं गांव के लोग कल शाम को घर आए वे लोग अपनी आप बीती घटना के बारे में बताया कि उपरोक्त गांव में हम सभी काम कर खाना खाकर आराम कर ही रहे थे कि दो आदमी आया, आते ही उन दोनों पर गोली मारकर घायल कर भाग गये. अफरा तफरी मच गया.

वे लोग हॉस्पिटल से घर आ गये

उन दोनों में से एक को पहचान कर लिया गया. घटना की जानकारी होते ही प्रशासन घटना स्थल पर पहुंच घायलों को अस्पताल ले जाया गया. जहां प्राथमिकी उपचार कर वारजुला श्रीनगर हॉस्पिटल रेफर किया. सरकारी अस्पताल से जो दवा मिला बाकी दवा बाहर के दवा के दुकान खरीदते थे. घायल पिता का दाहिने हाथ एव पैर में गोली लगी. जबकि पुत्र का केवल दाहिने हाथ में लगी है. गुरुवार की शाम वहां से वे लोग हॉस्पिटल से घर आ गये.

परिवार का खर्च चलाने की चिंता

अब घर परिवार को खाने को चलाने की चिंता है कारण की घर को चलाने के लिए दोनों पिता पुत्र दोनों कमाने गये थे. अब वे दोनों घायल है उनकी पत्नी प्रेमा देवी एव पुत्री गुड़िया है. जो रोरोकर बुरा हाल है. हालांकि इस घटना की जानकारी होते ही बगहा विधायक राम सिंह ने घायलों के पहुंच सांत्वना दिए. अब सवाल यह उठता है कि इस आपबीती के समय में इस परिवार का खर्च कैसे चलेगा. जबकि घायल पिता पुत्र की दवा का खर्च कैसे चलेगा. जितनी मुंह उतनी बातें सुनने को मिल रही है. लोगों की माने तो सबकी निगाहें जनप्रतिनिधियों पर टिकी हुई हैं.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें