24.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

शादी का झांसा दे सहकर्मी के साथ शारीरिक संबंध बनानेवाला शिक्षक गिरफ्तार

जिले के एक आवासीय विद्यालय में साथ काम करने वाली सहकर्मी शिक्षिका से शादी का झांसा दे शारीरिक संबंध बनाने व गर्भवती होने पर गर्भपात कराने के मामले में पुलिस ने आरोपित शिक्षक को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

बेतिया. जिले के एक आवासीय विद्यालय में साथ काम करने वाली सहकर्मी शिक्षिका से शादी का झांसा दे शारीरिक संबंध बनाने व गर्भवती होने पर गर्भपात कराने के मामले में पुलिस ने आरोपित शिक्षक को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. एसडीपीओ विवेक दीप ने बताया कि पीड़िता की शिकायत पर शिक्षक संदीप कुमार यादव को गिरफ्तार किया गया है. वह मधुबनी जिला के बाबूबरही थाना क्षेत्र के देवरा गांव का रहने वाला है. संदीप की गिरफ्तारी सोमवार की रात विद्यालय परिसर से की गई. शिक्षिका ने उसके खिलाफ यौन शोषण करने, गर्भपात कराने, मारपीट करने, दहेज मांगने, आपत्तिजनक वीडियो प्रसारित करने की धमकी देने आदि का आरोप लगाया है. पुलिस ने गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज अस्पताल में शिक्षिका व गिरफ्तार शिक्षक का मेडिकल जांच कराया. पूछताछ के बाद शिक्षक को न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिया गया है. दर्ज प्राथमिकी में सारण जिला निवासी पीड़ित शिक्षिका ने पुलिस से बताया है कि पहले वें दोनों एक ही विद्यालय में कार्यरत थे. एक साथ काम करने की वजह से संदीप अक्सर उनके आवास पर जाकर घंटों बातचीत करता था. इसी बीच विश्वास में लेकर शादी का आश्वासन देकर शारीरिक संबंध बना लिया. करीब सात माह तक यौन शोषण किया. इसी बीच शिक्षिका गर्भवती हो गई और शादी का दबाव देने लगी. तब वह मारपीट करने लगा और शादी से इनकार कर दिया. जब शिक्षक ने शादी से इनकार कर दिया तो शिक्षिका ने इसकी शिकायत महिला विकास मंच मधुबनी से की. वहां विगत 12 मार्च को शिक्षक ने बॉण्ड बनाकर अप्रैल माह में शादी करने का आश्वासन दिया. जब शिक्षिका के पिता होली के समय शादी संबंधित बातचीत करने शिक्षक के पास गए तो उसने 40 लाख रुपये दहेज मांगा. शिक्षिका के पिता से भी गाली गलौज किया. एक अप्रैल को दोबारा बॉण्ड बनाकर शादी करने का वादा किया. इसी बीच ओवरडोज दवा देकर गर्भपात करा दिया. 17 अप्रैल को शिक्षिका के दरवाजे पर आकर गाली गलौज देने लगा और गला दबाकर जान से मारने का प्रयास किया. शिक्षिका ने पुलिस से बताया है कि संदीप उसका आपत्तिजनक वीडियो अपने पास रखने और इसे प्रसारित कर देने की धमकी देता है. इस बीच पुलिस ने बताया कि पहले दोनों एक हीं विद्यालय में पदस्थापित थे, लेकिन पीड़िता ने पूर्व में विभागीय शिकायत की थी. जिसपर आरोपित शिक्षक को करीब दो माह पहले चौतरवा में भेज दिया था.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें