1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. banka
  5. ashtadhatu idols stolen from 100 year old thakurbari in bounsi banka news skt

Banka News: 100 साल पुराने ठाकुरबाड़ी से अष्टधातु की मूर्तियां चोरी, तालाब से निकाला पानी तो मिले कपड़े

बांका के बौंसी थाना क्षेत्र के गुरुधाम के पास ठाकुरबाड़ी से अष्टधातु की मूर्तियां चोरी की गयी. तीन दिनों से ठाकुरबाड़ी के मालिक के तालाब से पानी निकालने का काम किया जा रहा है. इस दौरान भगवान के कपड़े मिले.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
Banka News: तालाब से पानी निकालने का काम
Banka News: तालाब से पानी निकालने का काम
प्रभात खबर

बांका के बौंसी थाना क्षेत्र के गुरुधाम समीप मधुसूदन नगर स्थित बगडुम्मा ड्योडी के कैलाश सिंह के ठाकुरबाड़ी का चोरों ने ताला तोड़कर अष्टधातु की मूर्ति चोरी कर ली. गुरुधाम के योग पीठ के पीछे स्थित ठाकुरबाड़ी के मालिक के तालाब से अष्टधातु की मूर्तियों के कपड़े मिले हैं.

पिछले तीन दिनों से तालाब के पानी को सुखाने का हो रहा काम

जानकारी के अनुसार थानाध्यक्ष अरविंद कुमार राय के निर्देश पर पिछले तीन दिनों से तालाब के पानी को सुखाने का काम किया जा रहा है. सुखाने के क्रम में तालाब से भगवान के कपड़े बरामद किये गये .

मूर्ति को तालाब में फेंकने की आशंका

आशंका व्यक्त की जा रही है कि चोरों द्वारा मूर्ति को इसी तालाब में फेंक दिया गया हो, हालांकि अब तक इस मामले की पुष्टि नहीं हो पायी है. पिछले तीन दिनों से सरोवर का पानी निकाले जाने की चर्चा आसपास के क्षेत्र में हो रही है. उम्मीद जतायी जा रही है कि आज तालाब का पानी पूरी तरह से सूख जायेगा. जिसके बाद तालाब के कीचड़ में भी मूर्ति की खोज की जायेगी. आधे दर्जन से ज्यादा स्थानीय लोगों के द्वारा तालाब के पानी और कीचड़ में मूर्ति खोजने का काम किया जा रहा है.

डेढ़ माह पूर्व ठाकुरबाड़ी में हुई चोरी

जानकारी हो कि डेढ़ माह पूर्व तीन मार्च की रात ठाकुरबाड़ी के मुख्य मंदिर के दरवाजे का ताला तोड़कर चोरों ने चोरी की वारदात को अंजाम दिया गया था. ठाकुरबाड़ी के मुख्य मंदिर से भगवान राम ,लक्ष्मण व माता सीता की अष्टधातु की बेशकीमती मूर्ति के अलावे भगवान शंकर, बजरंगबली, काली, लक्ष्मी की पीतल की मूर्तियां भी चोरी कर ली गयी है.

100 वर्ष पुराना है ठाकुरबाड़ी

ठाकुरबाड़ी के राजेश सिंह ने बताया कि ठाकुरबाड़ी उनके परदादा स्व शालिग्राम प्रसाद सिंह के द्वारा बनवाया गया था. जो करीब 100 साल पुराना है. उनके बड़े भाई तेलंगाना के सेवानिवृत्त चीफ सेक्रेटरी शेखर प्रसाद सिंह, बड़े भाई कैलाश सिंह सहित अन्य के सहयोग से 2007 और 2015 में ठाकुरबाड़ी का जीर्णोद्धार किया गया था. बताया गया कि अष्टधातु की करीब डेढ़-डेढ़ फीट की राम, सीता व लक्ष्मण की मूर्ति यहां स्थापित की गयी थी. चोरी की घटना के बाद से उनके परिजनों के साथ साथ श्रद्धालुओं की आस्था को भी चोट पहुंची है.

लाखों रुपये की मछली हुई बर्बाद

ठाकुरबाड़ी के मालिक ने बताया कि तालाब से मूर्ति तलाशी के दौरान पानी के साथ लाखों रुपये मूल्य की मछली भी बर्बाद हो गयी है. बताया गया कि तालाब में करीब 15 फीट पानी है. जिसे तीन दिनों से सुखाया जा रहा है. साथ ही बताया कि अगर मूर्ति मिल जाती है तो रुपये का उन्हें कोई मलाल नहीं रहेगा.

POSTED BY: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें