1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. aurangabad
  5. religious places open with guidelines entry only after scanning in aurangabad asj

गाइडलाइन के साथ खुले धार्मिक स्थल, स्कैनिंग के बाद ही प्रवेश

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
देव मंदिर
देव मंदिर

औरंगाबाद/देव : आखिर कई माह शहर मंदिर व मस्जिद खुल गये. प्रशासन ने गाइडलाइन जारी होने के बाद जरूरी शर्तों के आधार पर गुरुवार से भक्तों के लिए देव सूर्य मंदिर समेत अन्य मंदिर खुल गये. इसी के साथ श्रद्धालु मंदिर में पहुंचे और पूजा-अर्चना किये. लगभग छह महीने के बाद ऐतिहासिक व पौराणिक देव सूर्य मंदिर के पट भक्तों के लिए खुलते ही काफी संख्या में श्रद्धालुओं ने पूजन दर्शन किया. हालांकि देव सूर्य मंदिर में फिलहाल 10 वर्ष से कम तथा 65 साल से अधिक उम्र वाले लोगों के प्रवेश पर रोक रहेगी.

श्रद्धालुओं की मंदिर के बाहर ही थर्मल स्कैनिंग से जांच की गयी. इसके बाद मंदिर में प्रवेश करने की इजाजत दी गयी. स्कैनिंग करने के लिए पुलिस बलों की तैनात की गयी है. वहीं बिना मास्क पहने मंदिर में प्रवेश करने नहीं दिया जायेगा. देव सूर्य मंदिर के अलावा देवकुंड स्थित दुधेश्वर नाथ मंदिर, शहर के महावीर मंदिर, धर्मशाला दुर्गा मंदिर, सिद्धिविनायक मंदिर, साईं मंदिर, काली मंदिर समेत अन्य मंदिर भी श्रद्धालुओं के लिए खोल दिये गये.

झारखंड के भिवाड़ी से आयीं महिला अर्चना सिंह व प्रतिमा सिंह ने कहा कि भगवान सूर्य की पूजा कर आत्मशांति मिली. छह महीने से भगवान भास्कर के दर्शन के लिए व्याकुल थे. अब अपने आराध्य का दर्शन कर उर्जान्वित महसूस कर रहे हैं. प्रमोद मालाकार, मुन्ना मालाकार, मनोज मालाकार एवं अन्य लोगों ने बताया कि मंदिर में प्रसाद पर प्रतिबंध होने के कारण गुरुवार को सूर्य मंदिर के आसपास प्रसाद की दुकानें लगाई गई, पर कोई खरीदार नहीं पहुंचे.

मंदिर के बाहर खिलौने की एक-दो दुकानों से बच्चों ने खरीददारी की. सूर्य मंदिर न्यास समिति के सचिव कृष्णा चौधरी एवं कोषाध्यक्ष रामचंद्र चौरसिया ने बताया कि मंदिर में 65 वर्ष से अधिक और 10 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को मंदिर में आने पर रोक लगायी गयी है. वहीं मंदिर में आने वाले सभी भक्तों या श्रद्धालु मास्क पहन कर ही मंदिर में प्रवेश कर सकेंगे. मंदिर में चरणामृत का वितरण भी नहीं किया जायेगा तथा मंदिर में एक स्थान पर एक समय में पांच से अधिक व्यक्तियों को रहने पर रोक लगायी गयी है. मंदिर के अंदर सोशल डिस्टैंसिंग का पालन कराया जायेगा.

posted by ashish jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें