24.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

औरंगाबाद में नाबालिग की मौत पर बवाल के बाद आनंद मोहन की एंट्री, पोस्टमार्टम रिपोर्ट पर उठाए सवाल

औरंगाबाद में नाबालिग श्रेया की मौत पर मचे बवाल के बाद रविवार को लवली आनंद और आनंद मोहन अपने बेटे बहु के साथ पीड़ित परिवार से मिलने के लिए पहुंचे. मुलाकात के बाद प्रेस वार्ता में उन्होंने कहा कि श्रेया की मौत से निर्भया कांड की याद ताजा हो गई है. इस घटना पर सीएम का ध्यान दिलाया जाएगा.

Aurangabad News: बिहार के औरंगाबाद के नवीनगर की नाबालिग छात्रा श्रेया की मौत का रहस्य अनसुलझी पहेली बनकर रह गई है. शव मिलने के तीन दिन बीत जाने के बाद भी रहस्य से पर्दा नहीं उठ पाया है. परिवार के साथ-साथ नवीनगर के लोग भी मौत का कारण हत्या बता रहे हैं, जबकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट कुछ और ही बता रही है. पुलिस ने इस घटना में शामिल तीन लोगों को गिरफ्तार किया है, जिनमें दो नाबालिग हैं. वहीं इस मामले में अब शिवहर की सांसद लवली आनंद, पूर्व सांसद आनंद मोहन, विधायक चेतन आनंद व चेतन की पत्नी डॉ आयुषी की एंटर हो गई है. सभी ने रविवार को श्रेया के परिवार से मुलाकात की.

निर्भया कांड की याद हो गयी ताजा : लवली आनंद

मुलाकात के बाद जिला अतिथि गृह में आयोजित प्रेस वार्ता में सांसद लवली आनंद ने कहा कि एसआइटी बनाकर मामले की जांच कर त्वरित कार्रवाई होनी चाहिए. हत्या को छिपाने का प्रयास किया जा रहा है. दूध का दूध और पानी का पानी होना चाहिए. कोई निर्दोष फंसे नहीं और दोषी बचे नहीं. प्रशासन निष्पक्षता से कार्रवाई करे. यह घटना दिल्ली की निर्भया कांड की याद दिला रही है.

न्याय दिलाने का हर संभव प्रयास किया जायेगा : आनंद मोहन

पूर्व सांसद आनंद मोहन ने कहा कि पीड़िता को न्याय दिलाने का हर संभव प्रयास किया जायेगा, ताकि समाज में इस तरह की घटना की पुनरावृत्ति नहीं हो सके. घटना की सभी बिंदुओं की निष्पक्षता से जांच करायी जायेगी. बिहार का यह निर्भया कांड है. किसी भी सभ्य समाज के माथे पर यह बदनुमा दाग है. जिस तरह से इस घटना को प्रेम प्रसंग का रंग देकर दफनाने की कोशिश हो रही है वह बेहद निंदनीय है. प्रशासनिक विफलता का यह सबूत है. यह बताता है कि सच को उजागर करने के बजाय घटना की लीपापोती हो रही है.

सीसीटीवी फुटेज सार्वजनिक करने की मांग

आनंद मोहन ने कहा कि जो तस्वीरे सामने आयी है वह विभत्स है. आखिर ऐसा कौन सी मछली है जो ओठ चबा गयी, दांत खां गयी, बाल चबा गयी. पहले स्कीन को खाना चाहिए था. सासाराम के डीएम से बातचीत हुई है. उनसे पोस्टमार्टम के दौरान का सीसीटीवी फुटेज सार्वजनिक करने की बात की गयी है. इस घटना में दूध का दूध व पानी का पानी होगा. विधायक चेतन आनंद ने कहा कि घटना की जितनी निंदा की जाये वह कम है. इस पर मुख्यमंत्री से बात कर कार्रवाई करने की मांग करेंगे. मामले को लोकसभा और विधानसभा में भी उठाया जायेगा.

सुसाइड केस दिखाने का हो रहा प्रयास : डॉ आयुषी

डॉ आयुषी ने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट पर सवाल खड़ा हो रहा है. बहुत से तथ्यों को छिपाया गया है. यह घटना मानवता को शर्मसार करने वाली है. परिजनों ने आरोप लगाया की मर्डर केस को सुसाइड केस दिखाने का प्रयास किया जा रहा है. यदि सुसाइड है, तो उसकी पहचान होनी चाहिए. सुसाइड है, तो 16 वर्ष की लड़की लगभग 30 किलोमीटर की दूरी तय कर कैसे पहुंची. शव रोहतास जिले के इंद्रपुरी थाना क्षेत्र के डैम में मिलने के उपरांत गंभीरता नहीं दिखायी गयी.

पोस्टमार्टम के बाद और पहले का वीडियो दिखाया जाए

शव का पोस्टमार्टम से पहले व बाद में वीडियो दिखाया जाये, क्योंकि वहां फोर्थ ग्रेड के लोग केवल मौजूद थे. पोस्टमार्टम के लिए डॉक्टर की मेडिकल टीम की सूची उपलब्ध करायी जाये. जब शव को परिजनों ने आइडेंटिटीफाई कर लिये फिर भी अज्ञात लिखा जाना संदेहास्पद है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में डूबने का रिपोर्ट दिया गया है जबकि शरीर पर लाल निशान मौजूद है. जहां शव बरामद हुआ है वहां डेढ़ फुट पानी का होना समझ से परे है. एसडीपीओ का प्रेस कॉन्फ्रेंस में शव का जलीय जीव का खा जाना संदेह के घेरे में है. 16 साल की लड़की को 24 साल दिखाना भी समझ से परे है.

क्या बोले एसडीपीओ

एसडीपीओ संजय कुमार पांडेय ने बताया कि श्रेया की मौत के पीछे कारण हत्या है या आत्महत्या इसकी गंभीरता से जांच की जा रही है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट से परिजन व वहां के लोग सहमत नहीं है. परिजन हत्या बता रहे हैं. अब तक के अनुसंधान में जिन तीन लोगों का नाम सामने आया उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है.

मृतका की सहेली की मां नवीनगर में पार्लर चलाती है और उसकी गतिविधि सही नहीं है. पार्लर चलाने वाली महिला ही मृतका और उसके कथित प्रेमी को मिलाने का काम करती थी. तीनों आरोपितों का घटना में किसी न किसी रूप से सहभागिता पायी गयी है. पर्याप्त साक्ष्यों के आधार पर तीनों की गिरफ्तारी हुई है. हालांकि, एसडीपीओ ने यह माना कि अब तक पुलिस खास निष्कर्ष तक नहीं पहुंच सकी है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें