31.6 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

बिहार: डीजल बस जब्ती के लिए दो टीमों का गठन, 1200 से अधिक वाहनों से वसूला गया लाखों का जुर्माना, जानिए कारण

‍Bihar News: ‍पटना में डीजल बसों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. इसके लिए दो टीमों का गठन किया हुआ है. बता दें कि यहां अब डीजल बसों को जब्त किया जाएगा. वहीं, 1200 से अधिक वाहनों से यहां लाखों का जुर्माना भी वसूला गया है.

‍Bihar News: बिहार की राजधानी पटना में डीजल बसों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. इन्हें अब जब्त किया जाएगा. साथ ही इसके परमिट को भी रद्द कर दिया जाएगा. इसके खिलाफ कार्रवाई का आदेश दिया गया है. इसके बाद अब इन बसों की जब्ती के लिए दो टीमों का गठन किया गया है. रोक के बाद भी राजधानी में डीजल बसों का परिचालन हो रहा है. इस पर कार्रवाई के लिए ट्रैफिक एसपी पूरन झा ने दो टीमों का गठन कर दिया है. टीम में डीटीओ व एमवीआइ भी शामिल है. यह टीम ट्रैफिक डीएसपी द्वितीय के नेतृत्व में काम करेगी. विशेष अभियान चलाकर शहर में चल रहे डीजल बसों को जब्त किया जायेगा. कार्रवाई के तहत अब अवैध संचालन के खिलाफ सिर्फ जुर्माना ही नहीं वसूला जाएगा, बल्कि इसे जब्त कर लिया जाएगा. अवैध संचालन पर रोक को लेकर कार्रवाई की जाएगी. बता दें कि 30 सितंबर की रात से ही डीजल बसों के परिचालन पर रोक लगा दिया गया था. इसके बाद इन बसों के खिलाफ लगातार अभियान चलाया जा रहा है. इन वाहनों के चालक से जुर्माना वसूला जा रहा है. लेकिन, अब बसों को जब्त कर लिया जाएगा.

कंट्रोल रूम के जरिए मॉनिटरिंग

बसों को जब्त करने के साथ ही इनके निबंधन रद्द करने का भी आदेश है. परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने पटना के ट्रैफिक एसपी और जिला परिवहन पदाधिकारी को कार्रवाई का आदेश दिया था. साथ ही सीसीटीवी कंट्रोल रूम के जरिए इन बसों की निगरानी रखने का निर्देश है. ऐसे बसों के खिलाफ अब राजधानी में सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी. परिवहन सचिव खुद इन बसों को लेकर मॉनिटरिंग कर रहे हैं. इसके साथ ही जल्द ही कार्रवाई को लेकर समीक्षा की जाएगी. ट्रैफिक एसपी को भी इस मामले में मॉनिटरिंग करने का आदेश है. वहीं, इसके बाद अब राजधानी में डीजल बसों का परिचालन नहीं होगा.

Also Read: बिहार के खिलाड़ियों ने नेशनल गेम्स में जीते चार और पदक, कुल संख्या हुई सात, जानिए किन खेलों में बढ़ाया मान
वायु गुणवत्ता में सुधार के उद्देश्य से परिचालन पर रोक

बता दें कि राजधानी के शहरी क्षेत्र में वायु गुणवत्ता में सुधार के उद्देश्य से डीजल सिटी बसों का परिचालन बंद किया गया है. इसको लेकर परिवहन विभाग ने मार्च महीने में अधिसूचना जारी की गई थी. इसके बाद 30 सितंबर से परिचालन को बंद कर दिया गया था. लेकिन, इसके बाद भी डीजल बसों का परिचालन हो रहा है. इसके बाद जुर्माना की वसूली की जा रही है. लेकिन, अब इन बसों को जब्त करने का आदेश है. पटना नगर निगम, दानापुर ,खगौल और फुलवारीशरीफ नगर परिषद क्षेत्र में डीजल बसों के परिचालन को बंद किया गया था. इसको लेकर परिवहन विभाग ने मार्च महीने में अधिसूचना जारी की थी.

Also Read: बिहार: डेंगू के डंक से लोग परेशान, राज्य में मरीजों की संख्या पहुंची 17 हजार के करीब, जानिए जिलेवार आकड़े
1200 से अधिक वाहनों से वसूला गया जुर्माना

जानकारी के अनुसार शनिवार को विशेष अभियान चला कर बगैर लाइट के इ- रिक्शा चलाने वाले 37 चालकों पर कार्रवाई की गयी है. वहीं, रविवार को शाम पांच बजे ट्रैफिक डीएसपी तृतीय फेसबुक लाइव पर लोगों की परेशानी को सुनेंगे. ट्रैफिक पुलिस ने विशेष अभियान चलाकर 12 सौ 49 वाहनों से अलग- अलग यातायात नियमों के उल्लंघन मामले में 16 लाख 66 हजार रुपये का जुर्माना वसूल किया है. 30 सितंबर 2023 से ही पटना नगर निगम, दानापुर नगर परिषद, खगौल नगर परिषद एवं फुलवारीशरीफ नगर परिषद क्षेत्र की सीमा में डीजल चालित सिटी बसों के परिचालन पर रोक लगा दिया गया है. इसके बावजूद भी नगर में बसें अवैध रूप से इन बसों का परिचालन हो रहा है. इन्हें अब जब्त कर लिया जाएगा. शनिवार को शाम चार बजे के करीब कुर्जी मोड़ के पास एक बस चलती दिखी. परिवहन विभाग कि ओर से टीम बना कर लगातार जांच कर जुर्माना वसूल किया जा रहा है. अब तक 69 सिटी बसों पर तीन लाख 50 हजार रुपये का जुर्माना लगाया गया है और पांच बसों को जब्त भी किया गया है. बताया जा रहा है कि शहर के मुख्य मार्ग को छोड़कर अन्य मार्गों पर डीजल बसों का परिचालन किया जा रहा है. अब इन्हें जब्त कर लिया जाएगा.

Also Read: बिहार: बेलाउर के सूर्य मंदिर में छठ पर बड़ी संख्या में आते है श्रद्धालु, सिक्का वापस करने की है अद्‌भुत परंपरा

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें