1. home Hindi News
  2. sports
  3. other sports
  4. corona virus outbreak bajrang punia to donate 6 months salary appeal to postpone tokyo olympic

CoronaVirus Outbreak: 6 माह का वेतन दान करेंगे बजरंग पूनिया, तोक्यो ओलंपिक टालने की अपील

By AmleshNandan Sinha
Updated Date
Bajrang Punia
Bajrang Punia
File Photo

नयी दिल्ली : प्रतिभाशाली भारतीय पहलवान बजरंग पूनिया ने कोराना वायरस के संक्रमण से निपटने में मदद करने के लिए सोमवार को छह महीने के अपने वेतन को दान करने के साथ तोक्यो ओलंपिक खेलों को टालने की मांग की. पच्चीस साल के इस भारतीय पहलवान ने कहा कि कई देश ओलंपिक से नाम वापस ले चुके हैं और ऐसे में अगर इसका आयोजन होता है तो टूर्नामेंट का महत्व कम होगा.

बजरंग इन खेलों में भारत के पदक दावेदारों में से एक हैं. कोरोनो वायरस के बढ़ते मामलों के कारण हालांकि इसका आयोजन संदेह के घेरे में है. इस बीमारी से अब तक दुनियाभर में 15000 से अधिक लोगों की मौत हो गयी है और 3,00,000 से अधिक लोगों इसके संक्रमण की चपेट में आये हैं.

विश्व चैम्पियनशिप (2019) के कांस्य पदक विजेता बजरंग रेलवे में अधिकारी के रूप में विशेष ड्यूटी (ओएसडी) पर तैनात हैं. बजरंग के छह महीने के वेतन दान करने की पहल का खेल मंत्री किरेन रीजीजू ने भी समर्थन किया. बजरंग ने ट्वीट किया, ‘मैंने अपना छह महीने का वेतन दान करने का फैसला किया है.'

बजरंग ने कहा, ‘ओलंपिक से पहले हमें कोरोना वायरस से लड़ना होगा. यदि स्थिति में सुधार नहीं होता है और यह 2-3 महीने तक जारी रहता है तो ओलंपिक को स्थगित करना पूरी तरह से सही रहेगा.' उन्होंने कहा, ‘अगर कोरोना वायरस का कहर जारी रहता है तो बहुत सारे देश अपने खिलाड़ियों को नहीं भेजेंगे. पहले से ही कनाडा और ऑस्ट्रेलिया ने कहा है कि वे अपने खिलाड़ियों को नहीं भेजेंगे. ऐसे आयोजन का क्या फायदा.'

उन्होंने कहा, ‘यह सिर्फ भारत की समस्या नहीं है, यह एक वैश्विक मुद्दा है, जिससे पहले निपटने की जरूरत है.' बजरंग सोनीपत के एक अपार्टमेंट में प्रशिक्षण ले रहे हैं, जबकि उनके कोच शाको बेंटिनिडिस जॉर्जिया के लिए रवाना हो गये हैं. महिला पहलवान के लिए विदेशी कोच एंड्रयू कुक भी कुछ दिन पहले अमेरिका के लिए रवाना हो गये हैं.

भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए)ने कहा कि वह इन खेलों में देश की भागीदारी के बारे में चार सप्ताह में तय करेगा. अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) पर खेलों को स्थगित करने का भारी दबाव है. इस बीच इन खेलों में पदक की एक अन्य दावेदार विनेश फोगाट ने कहा कि वह कड़ा अभ्यास कर रही हैं और उन्हें खेलों के स्थगित होने या नहीं होने की कोई चिंता नहीं. उन्होंने कहा, ‘मैं अपने घर पर हूं और अब तक का प्रशिक्षण अच्छा रहा है. मेरे कुछ भी कहने से कुछ नहीं होगा.'

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें