1. home Hindi News
  2. sports
  3. ms dhoni announced retirement ms dhoni news mahendra singh dhoni international cricket journy team india ex captain records one day t 20 test ipl upl

MS Dhoni: हेलिकॉप्टर शॉट के आविष्कारक धौनी के वनडे, टेस्ट, T-20 और IPL ... रिकॉर्ड से देखिए MSD का शानदार सफर

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
भारत को दो-दो वर्ल्ड कप जिताने वाले पूर्व कप्तान
भारत को दो-दो वर्ल्ड कप जिताने वाले पूर्व कप्तान
File

MS Dhoni, Mahendra singh Dhoni,MS Dhoni Announced Retirement,Dhoni records: खेल के मैदान अक्सर अपने फैसलों से चौंकाने वाले टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी ने शनिवार शाम अंतरारष्ट्रीय क्रिकेट सफर पर फैसला लेकर पूरी दुनिया को चौंका दिया. भारत को दो-दो वर्ल्ड कप जिताने वाले पूर्व कप्तान और अनुभवी विकेटकीपर बल्लेबाज 39 साल के धौनी ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया. अपने संन्यास की घोषणा का ऐलान करते हुए इंस्टाग्राम पर धौनी ने लिखा, प्यार और सपोर्ट के लिए धन्यवाद, आज 7:29 से मुझे रिटायर समझा जाए.

भारतीय क्रिकेट टीम के सबसे सफल कप्तानों में से एक धौनी के बारे में कहा जा रहा था कि वो इस साल आईसीसी टी20 विश्व कप खेलेंगे और इसके लिए उन्हें आईपीएल का इंतजार था. मगर आईपीएल खेलने के लिए घर से निकले धौनी ने सन्यास की घोषणा कर दी. 2019 वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में भारतीय टीम की हार के बाद से धौनी को किसी भी स्तर के क्रिकेट में नहीं देखा गया था और अब कभी टीम इंडिया के लिए खेलते हुए नहीं देखा जाएगा. हालांकि एमएस धौनी आईपीएल खेलते रहेंगे. धौनी के योगदान अमूल्य है.फैंस उनके खेल को हमेशा मिस भी करेंगे.

ये रहे हैं अंतिम अंतरराष्ट्रीय मैच

धौनी टेस्ट क्रिकेट से पहले ही संन्यास ले चुके हैं. उन्होंने भारत के लिए अपना आखिरी टेस्ट मैच दिसंबर 2014 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मेलबर्न में खेला था. इसके अलावा अपना आखिरी टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच फरवरी 2019 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बेंगलुरु में खेला था, जबकि वर्ल्ड कप सेमीफाइनल (9-10 जुलाई 2019) उनका आखिरी वनडे इंटरनेशनल रहा.

ऐसा रहा अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट सफर

महेंद्र सिंह धौनी की प्रतिभा कुछ अलग ही थी. जूनियर क्रिकेट से बिहार क्रिकेट टीम, झारखंड क्रिकेट टीम से इंडिया ए टीम तक और वहां से भारतीय टीम तक का उनका सफर महज 5-6 साल में पूरा हो गया. उन्होंने 1998 में जूनियर क्रिकेट की शुरुआत की थी और 23 दिसंबर 2004 में उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ वनडे मैच के जरिए अपने अंतरराष्ट्रीय करियर का आगाज कर दिया. धौनी बांग्लादेश के खिलाफ अपनी पहली सीरीज में कुछ खास नहीं कर पाए, लेकिन अगली सीरीज में पाकिस्तान के खिलाफ अपने पांचवें वनडे मैच (विशाखापत्तनम) में 123 गेंदों पर 148 रनों की पारी खेलकर इस खिलाड़ी ने सबकी जुबां पर एक सवाल छोड़ दिया, वो लंबे बालों वाला लड़का, धौनी कौन है?

टीम इंडिया की कमान संभालते ही रचा इतिहास

रांची के लाल महेंद्र सिंह धौनी ने भारतीय टी-20 टीम की कप्तानी साल 2007 में संभाली और उसी साल विश्वविजेता बनकर इतिहास रच डाला. 2008 में जब धौनी ने वनडे टीम की कप्तानी संभाली तो उनके पास कई चुनौतियां थीं. जैसे की युवाओं को मौका देना और भविष्य के लिए टीम का निर्माण करना. धोनी ने उन सभी चुनौतियों का सामना करते हुए भारतीय टीम को कई ऐतिहासिक पल दिए. भारत ने धौनी की कप्तानी में पहली बार टेस्ट में नंबर एक बनने का स्वाद चखा.

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में प्रदर्शन

  • 10,773 वनडे रन, विकेट के पीछे 444 शिकार

  • 4,876 टेस्ट रन, विकेट के पीछे 294 शिकार

  • 1,617 टी-20 इंटरनेशनल रन, विकेट के पीछे 91 शिकार

कप्तान धौनी की उपलब्धियां

  • 1 क्रिकेट वर्ल्ड कप (2011)

  • 1 टी-20 वर्ल्ड कप (2007)

  • 1 चैम्पियंस ट्रॉफी (2013)

  • 3 आईपीएल खिताब (2010, 2011, 2018)

  • 2 चैम्पियंस लीग टी-20 खिताब (2010, 2014)

वनडे इंटरनेशनल में प्रदर्शन

महेंद्र सिंह धौनी ने भारत के लिए 350 वनडे मैचों में 50.57 की औसत से 10773 रन बनाए हैं, जिसमें 10 शतक और 73 अर्धशतक शामिल हैं. इस दौरान उनका बेस्ट स्कोर नाबाद 183 रन रहा. दुनिया के बेस्ट फिनिशर इन्हें ही माना जाता है. वनडे में धोनी के नाम 1 विकेट है और उनका बेस्ट प्रदर्शन 14 रन देकर 1 विकेट रहा है.

टेस्ट मैचों में प्रदर्शन

महेंद्र सिंह धौनी ने भारत के लिए 90 टेस्ट मैचों में 38.09 की औसत से 4876 रन बनाए हैं, जिसमें 6 शतक और 33 अर्धशतक शामिल हैं. इस दौरान उनका बेस्ट स्कोर 224 रन रहा.

टी-20 इंटरनेशनल में प्रदर्शन

धौनी ने भारत के लिए 98 टी-20 इंटरनेशनल मैचों में 37.60 की औसत से 1617 रन बनाए हैं, जिसमें 2 अर्धशतक शामिल हैं. इस दौरान उनका बेस्ट स्कोर 56 रन रहा.

आईपीएल में प्रदर्शन

धौनी ने 190 आईपीएल मैचों में 42.21 की औसत से 4432 रन बनाए हैं, जिसमें 23 अर्धशतक शामिल हैं. इस दौरान उनका बेस्ट स्कोर 84 रन रहा. चेन्नई सुपरकिंग्स की कप्तानी करते हुए तीन बार विजेता और दो बार उपविजेता बनाए. आईपीएल के एकमात्र खिलाड़ी जिन्होंने सबसे ज्यादा फाइनल मैच खेला है.

धौनी की कप्तानी में बना इतिहास

बता दें कि धौनी वर्ल्ड क्रिकेट में इकलौते ऐसे कप्तान हैं, जिन्होंने आईसीसी की तीन बड़ी ट्रॉफी जीती है. धौनी की कप्तानी में टीम इंडिया आईसीसी वर्ल्ड टी-20 (2007), क्रिकेट वर्ल्ड कप (2011) और आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी (2013) का खिताब जीत चुकी है. इसके अलावा भारत 2009 में पहली बार टेस्ट में नंबर-1 बना था. दिसंबर 2014 में धौनी ने ऑस्ट्रेलिया दौरे के बीच में टेस्ट क्रिकेट से अचानक संन्यास की घोषणा कर दुनिया को चौंका दिया.

धौनी ने साल 2017 की शुरुआत में ही वनडे और टी-20 कप्तानी को भी उसी अंदाज में अलविदा कहा, जिसके लिए वो जाने जाते हैं. और अब अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को आखिरी सलाम में भी झारखंड के लाल ने वही अंदाज अपनाया. गुड बाय धौनी!

Posted By: Utpal kant

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें