22.1 C
Ranchi
Monday, March 4, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Asian Championship में हिस्सा नहीं लेंगी मीराबाई चानू, जेरेमी लालरिननुंगा और अचिंता शेउली

मीराबाई चानू, जेरेमी लालरिननुंगा और अचिंता शेउली जैसे सीनियर खिलाड़ी एशियन चैंपियनशिप में हिस्सा नहीं लेंगे. ये सभी खिलाड़ी विश्व चैंपियनशिप की तैयारी में जुटे हुए हैं. चोटिल संकेत सरगर भी इस चैंपियनशिप का हिस्सा नहीं होंगे. भारत यहां अपनी बी टीम भेजने की तैयारी में है.

नयी दिल्ली : ओलंपिक रजत पदक विजेता मीराबाई चानू और सात अन्य शीर्ष भारतीय भारोत्तोलक मंगलवार को अमेरिका रवाना होंगे जहां वे सेंट लुई में साढ़े तीन हफ्ते के स्ट्रेंथ एवं अनुकूलन ट्रेनिंग शिविर में हिस्सा लेंगे. चानू के साथ 2022 राष्ट्रमंडल खेलों के पदक विजेत जेरेमी लालरिननुंगा, अचिंता शेउली, संकेत सरगर, बिंदियारानी देवी, गुरदीप सिंह और 2018 राष्ट्रमंडल खेल चैंपियन आरवी राहुल तथा एशियाई चैंपियनशिप की स्वर्ण पदक विजेता झिली डालबेहड़ा सेंट लुई जायेंगे.

अमेरिका में करेंगे रिहैबिलिटेशन

भारत्तोलक कोच विजय शर्मा ने पीटीआई को बताया, हम 23-24 दिन अमेरिका में रहेंगे. यह ऑफ सत्र है इसलिए हम वहां स्ट्रेंथ कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे. राष्ट्रमंडल खेलों के दौरान कोहनी में चोट के कारण आपरेशन कराने वाले सरगर रिहैबिलिटेशन में हिस्सा लेंगे. उन्होंने कहा, इन सभी भारोत्तोलकों को छोटी-मोटी चोट हैं, जैसे गुरदीप की कलाई में चोट है. संकेत रिहैबिलिटेशन में हिस्सा लेगा. हम चाहते हैं कि विश्व चैंपियनशिप के लिए सभी पूरी तरह फिट हों.

Also Read: CWG 2022: मीराबाई चानू के गोल्ड से मणिपुर में जश्न, बेटी की सफलता के लिए रातभर प्रार्थना करती रही मां
कैंप में रहेंगे भारतीय सीनियर एथलीट

भारतीय भारोत्तोलक डॉ आरोन होर्शिग के साथ काम करेंगे जो पूर्व भारोत्तोलक हैं और अब फिजिकल थेरेपिस्ट तथा स्ट्रेंथ एवं अनुकूलन कोच हैं. चानू 2020 से होर्शिग से सलाह ले रही हैं. उन्होंने चानू की संतुलन से जुड़ी समस्या का समाधान करने में अहम भूमिका निभायी, जिससे उनकी स्नैच तकनीक प्रभावित हो रही थी. उन्होंने राष्ट्रमंडल खेलों से पहले मार्च में होर्शिग के साथ एक महीने के ट्रेनिंग शिविर में हिस्सा लिया था.

मीराबाई चानू को कोई समस्या नहीं

शर्मा ने कहा, मीरा को अभी कोई समस्या नहीं है लेकिन हम वहां जा रहे हैं तो वह भी स्ट्रेंथ ट्रेनिंग में हिस्सा लेगी. सीनियर भारोत्तोलक इस साल की एशियाई चैंपियनशिप में हिस्सा नहीं लेंगे. उन्होंने इसके बजाय विश्व चैंपियनशिप पर ध्यान केंद्रित करने का फैसला किया है जो पेरिस ओलंपिक के लिए क्वालीफाइंग प्रतियोगिता है. एशियाई चैंपियनशिप 06 से 16 अक्टूबर तक बहरीन के मनामा में होनी है. भारत अपनी ‘बी’ टीम को मैदान में उतारेगा जिसमें जूनियर भारोत्तोलक शामिल होंगे.

Also Read: Sanket Sargar: जानें कौन हैं संकेत सरगर, जिसने कॉमनवेल्थ में भारत को दिलाया सिल्वर मेडल
एशियाई चैंपियनशिप में जायेगी भारत की बी टीम

शर्मा ने कहा, राष्ट्रमंडल खेलों से लौटे भारोत्तोलक एशियाई चैंपियनशिप में प्रतिस्पर्धा नहीं करेंगे. हम अपनी ‘बी’ टीम भेजेंगे. मुख्य कोच ने कहा, ध्यान विश्व चैंपियनशिप पर है जो पेरिस ओलंपिक के लिए क्वालीफाइंग प्रतियोगिता है. कोलंबिया के बगोटा में पांच से 15 दिसंबर तक होने वाली विश्व चैंपियनशिप 2024 के पेरिस ओलंपिक के लिए पहली क्वालीफाइंग प्रतियोगिता है. भारतीय भारोत्तोलन टीम ने इस महीने की शुरुआत में राष्ट्रमंडल खेलों में तीन स्वर्ण और इतने ही रजत सहित 10 पदक जीते.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें