1. home Hindi News
  2. sports
  3. cricket
  4. you talk about icc trophy it has not even won an ipl till now suresh raina questions virat kohli captaincy aml

'आप आईसीसी ट्रॉफी की बात करते हैं, उसने अब तक एक आईपीएल भी नहीं जीता', रैना ने कोहली पर उठाए सवाल

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Suresh Raina
Suresh Raina
twitter

नयी दिल्ली : जब से भारत आईसीसी वर्ल्ड चैंपियनशिप (ICC World Championship) के फाइनल में न्यूजीलैंड से हारा है, तब से विराट कोहली (Virat Kohli) की कप्तानी पर सवाल उठने लगे हैं. विराट की कप्तानी पर एक अलग ही बहस छिड़ गयी है. कई लोगों का कहना है कि तीनों फॉर्मेट के लिए अलग-अलग कप्तान रखे जाएं. एक ही कप्तान के कंधों पर तीनों फॉर्मेट का बोझ डालना सही नहीं है. वहीं पूर्व क्रिकेटर रैना (Suresh Raina) ने कोहली पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्होंने अब तक एक आईपीएल की एक भी ट्रॉफी नहीं जीती, और आप आईसीसी ट्रॉफी की बात करते हैं.

टीम इंडिया के पूर्व धाकड़ बल्लेबाज रैना ने कहा कि कोहली की कप्तानी में भारत आईसीसी ट्रॉफी- चैंपियंस ट्रॉफी 2017, 2019 वल्ड कप और हाल ही में वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल तक पहुंचा. लेकिन ट्रॉफी पर कब्जा नहीं जमा पाया. इसके बाद भी रैना ने कोहली को नंबर वन बल्लेबाज बताया और कहा कि एक कप्तान के रूप में कोहली को अभी और समय चाहिए. उम्मीद है आईसीसी ट्रॉफी उनके हाथों में देखने का अवसर मिलेगा.

रैना ने न्यूज 24 स्पोर्ट्स से बात करते हुए कोहली की तारीफ में कहा कि कोहली नंबर वन कप्तान बन सकते हैं. उनका रिकॉर्ड बताता है कि उन्होंने बहुत कुछ हासिल किया है. मुझे अब भी लगता है कि वे दुनिया के नंबर एक बल्लेबाज हैं. रैना ने कहा कि एक के बाद एक 2-3 विश्व कप हो रहे हैं. दो टी 20 विश्व कप और फिर 50 ओवर का विश्व कप होना है. फाइनल में पहुंचना आसान नहीं है. कभी-कभी आप कुछ चीजों को याद करते हैं.

डब्ल्यूटीसी फाइनल में हारने के सवाल पर रैना ने कहा कि भारत परिस्थितियों की वजह से नहीं हारा, बल्कि बल्लेबाजों ने उम्दा प्रदर्शन नहीं किया, इस वजह से हार हुई. पूरे दो दिन बारिश के कारण मैच धुलने के बाद भी एक विजेता के साथ मैच का समाप्त होना प्रदर्शन के कारण ही हुआ है. रैना ने कहा कि सीनियर बल्लेबाजों को थोड़ी आक्रमकता दिखानी होगी. पहले बल्लेबाजी करते हुए एक बड़ा स्कोर करना होता है.

रैना ने कहा कि देखिए, हम चोकर्स नहीं हैं, क्योंकि हमारे पास पहले से ही 1983 विश्व कप, 2007 टी-20 विश्व कप और 2011 में 50 ओवर का विश्व कप है. हमें यह समझने की जरूरत है कि खिलाड़ी कड़ी मेहनत कर रहे हैं. तीन विश्व कप आने के बाद मुझे नहीं लगता कि कोई भारत को चोकर्स कहेगा. हमें उन्हें थोड़ा और समय देने की जरूरत है. वे अच्छा कर रहे हैं और विराट में खेल को बदलने की क्षमता है. हमें इस टीम की नई शैली का सम्मान करने की जरूरत है. मुझे लगता है कि अगले में 12 से 16 महीने, एक आईसीसी ट्रॉफी भारत आने वाली है.

Posted By: Amlesh Nandan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें