1. home Home
  2. sports
  3. cricket
  4. will virat kohli leave the captaincy of all formats this pakistani cricketer gave advice aml

क्या सभी फॉर्मेट की कप्तानी छोड़ देंगे विराट कोहली! इस पाकिस्तानी क्रिकेटर ने दे डाली नसीहत

अफरीदी ने कहा कि बीसीसीआई (भारतीय क्रिकेट बोर्ड) का रोहित शर्मा को भारतीय टी-20 टीम का कप्तान नियुक्त करने का फैसला अच्छा है. अफरीदी ने कहा कि मुझे लगता है कि वह भारतीय क्रिकेट के लिए अद्भुत ताकत रहा है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Virat Kohli
Virat Kohli
PTI

नयी दिल्ली : पूर्व पाकिस्तानी कप्तान शाहिद अफरीदी ने कहा कि विराट कोहली को अपने खेल पर ध्यान देना चाहिए और कप्तानी छोड़ देनी चाहिए. उन्होंने कहा कि विराट कोहली अपनी बल्लेबाजी को और भी निखार सकते हैं, अगर वह कप्तानी छोड़ दें. अफरीदी ने कहा कि कोहली को सभी फॉर्मेट की कप्तानी छोड़कर अपनी बल्लेबाजी पर ध्यान देना चाहिए, तभी वे बल्लेबाज के तौर पर और बेहतर प्रदर्शन कर पायेंगे.

समा टीवी चैनल पर बात करते हुए अफरीदी ने कहा कि बीसीसीआई (भारतीय क्रिकेट बोर्ड) का रोहित शर्मा को भारतीय टी-20 टीम का कप्तान नियुक्त करने का फैसला अच्छा है. अफरीदी ने कहा कि मुझे लगता है कि वह भारतीय क्रिकेट के लिए अद्भुत ताकत रहा है लेकिन मुझे लगता है कि यह अच्छा होगा, अगर वह अब सभी प्रारूपों में बतौर कप्तान संन्यास लेने का फैसला कर लें.

अफरीदी ने कहा कि मुझे लगता है कि विराट को कप्तानी छोड़कर अपना बचे हुए क्रिकेट का लुत्फ उठाना चाहिए और मुझे लगता है कि उनका अभी काफी क्रिकेट बचा है. वह शीर्ष स्तर के बल्लेबाज हैं और वह दिमाग में किसी अन्य दबाव के बिना फ्री होकर खेल सकते हैं. वह अपने क्रिकेट का आनंद लेंगे.

उन्होंने कहा कि मुझे एक साल तक रोहित के साथ खेलने का मौका मिला है और वह मजबूत मानसिकता वाला लाजवाब खिलाड़ी है. उसका सबसे मजबूत पक्ष यह है कि जब जरूरी हो तो वह रिलैक्स रह सकता है और जब बहुत जरूरी हो तो वह आक्रामकता भी दिखा सकता है. अफरीदी ने कहा कि रोहित में अच्छे कप्तान के लिए मानसिक मजबूती है और उन्होंने अपनी आईपीएल फ्रेंचाइजी मुंबई इंडियंस के लिए यह दिखाया भी है.

तैंतीस साल के कोहली ने हाल में आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर की कप्तानी से भी हटने का फैसला किया था. वहीं मुख्य कोच के तौर पर कार्यकाल खत्म कर चुके रवि शास्त्री ने हाल में एक साक्षात्कार में संकेत दिया था कि कोहली वनडे की कप्तानी भी छोड़ सकते हैं और सिर्फ टेस्ट टीम की अगुआई पर ही ध्यान लगायेंगे जो उनका पसंदीदा प्रारूप है. कोहली ने 2019 के अंत से कोई टेस्ट शतक नहीं लगाया है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें