1. home Home
  2. sports
  3. cricket
  4. ipl 2021 tomorrow will be the first qualifier csk would like to beat delhi capitals on basis of experience aml

IPL 2021: कल होगा पहला क्वालिफायर, अनुभव के दम पर दिल्ली को हराना चाहेगी चेन्नई सुपर किंग्स

दिल्ली की टीम लीग में 20 अंक लेकर सबसे ऊपर है और इसी से उनके प्रदर्शन में निरंतरता का पता चलता है. कोविड-19 के कारण टूर्नामेंट बीच में स्थगित होने के बावजूद दिल्ली ने अपनी निरंतरता बनाये रखी थी.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Chennai Super Kings
Chennai Super Kings
Twitter

नयी दिल्ली : आईपीएल 2021 का पहला क्वालिफायर 10 अक्टूबर दिन रविवार को चेन्नई सुपर किंग्स और दिल्ली कैपिटल्स के बीच खेला जायेगा. चेन्नई अपने अनुभव के दम पर दिल्ली को हराकर फाइनल में पहुंचना चाहेगा. एम एस धोनी ऋषभ पंत से निपटने के लिए कोई विशेष योजना तैयार कर रहे होंगे. अंक तालिका में अब भी दिल्ली, चेन्नई से ऊपर है.

दिल्ली की टीम लीग में 20 अंक लेकर सबसे ऊपर है और इसी से उनके प्रदर्शन में निरंतरता का पता चलता है. कोविड-19 के कारण टूर्नामेंट बीच में स्थगित होने के बावजूद दिल्ली ने अपनी निरंतरता बनाये रखी थी. चेन्नई ने पिछले साल चूकने के बाद फिर से प्लेऑफ में जगह बनायी है. उसने जिन 12 आईपीएल में हिस्सा लिया है उनमें से 11 बार उसकी टीम प्लेऑफ में पहुंची है. हालांकि आखिर में लगातार तीन मैच गंवाना उनके कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को नागवार गुजरा होगा.

दिल्ली को भी अपना पिछला मैच गंवाना पड़ा. रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के कोना भरत ने अंतिम गेंद पर छक्का जड़कर दिल्ली को इस मैच में झटका दिया था. इससे उनकी स्थिति पर असर नहीं पड़ा लेकिन उसका आत्मविश्वास जरूर डिगा होगा. चेन्नई अब तक आठ बार फाइनल में जगह बना चुका है जिनमें से तीन बार वह चैंपियन बना है. इससे पता चलता है कि टीम जरूरत के समय में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने की क्षमता रखती है.

चेन्नई अपने उम्रदराज अनुभवी खिलाड़ियों पर विश्वास करता रहा है और अपनी टीम में अधिक फेरबदल भी नहीं करता है. रितुराज गायकवाड़ अपवाद कहे जा सकते हैं जिनके बारे में यह कहा जा सकता है कि वह पिछले एक दशक में चेन्नई सुपर किंग्स की पहली देन हैं. धोनी का सिद्धांत स्पष्ट है जो आजमाये जा चुके हैं, जिन्हें अनुभव है उन पर भरोसा रखो और यही वजह है कि उनकी टीम में रविंद्र जडेजा, अंबाती रायुडु, सुरेश रैना, ड्वेन ब्रावो और फाफ डुप्लेसिस जैसे खिलाड़ी हैं.

इनके अलावा जोश हेजलवुड और मोईन अली जैसे अंतरराष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी हैं और पूर्व भारतीय कप्तान धोनी को पता है कि वह किस तरह का संयोजन चाहते हैं. धोनी जानते हैं कि वह लंबे समय से अच्छी फॉर्म में नहीं हैं. उन्होंने 14 मैचों में केवल 96 रन बनाये. आईपीएल के दिग्गज सुरेश रैना भी 12 मैचों में 160 रन ही बना पाये लेकिन उनके पास गायकवाड़ (533 रन) और डुप्लेसिस (546 रन) जैसे बल्लेबाज है जिन्होंने टीम को अक्सर ठोस शुरुआत दिलायी है.

चेन्नई सुपर किंग्स

महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान), सुरेश रैना, अंबाती रायुडु, केएम आसिफ, दीपक चाहर, ड्वेन ब्रावो, फाफ डु प्लेसिस, इमरान ताहिर, एन जगदीसन, कर्ण शर्मा, लुंगी एनगिडी, मिशेल सेंटनर, रविंद्र जडेजा, रुतुराज गायकवाड़ , शार्दुल ठाकुर, आर साई किशोर, मोईन अली, के गौतम, चेतेश्वर पुजारा, हरिशंकर रेड्डी, भगत वर्मा, सी हरि निशांत.

दिल्ली कैपिटल्स

ऋषभ पंत (कप्तान), अजिंक्य रहाणे, पृथ्वी सॉव, रिपल पटेल, शिखर धवन, शिमरोम हेटमायर, श्रेयस अय्यर, स्टीव स्मिथ, अमित मिश्रा, एनरिक नोर्किया, अवेश खान, बेन ड्वारशुइस, इशांत शर्मा, कैगिसो रबाडा, कुलवंत खेजरोलिया, लुकमान मेरीवाला, प्रवीण दुबे, टॉम कुरेन, उमेश यादव, अक्षर पटेल, ललित यादव, मार्कस स्टोइनिस, रविचंद्रन अश्विन, सैम बिलिंग्स और विष्णु विनोद.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें