1. home Home
  2. sports
  3. cricket
  4. ipl 2021 csk vs dc qualifier avesh khan most expensive bowler conceded 47 runs rishabh pant rkt

CSK vs DC: पंत ने किया जिसपर भरोसा वही बना टीम के लिए विलेन, चार ओवर में लुटाए 47 रन

आवेश खान ने 4 ओवर में कुल 47 रन लुटाए और वो टीम के लिए सबसे महंगे गेंदबाज साबित हुए.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
आवेश खान
आवेश खान
फोटो - ट्वीटर

CSK vs DC Qualifier 1, IPL 2021: ऋषभ पंत की कप्तानी वाली दिल्ली कैपिटल्स को रविवार को खेले गए आईपीएल 2021 के पहले क्वालीफायर मुकाबले में 4 विकेट के अंतर से हार का सामना करना पड़ा. चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) के लिए लक्ष्य नामुमकिन होता चला जा रहा था. लेकिन, क्रीज पर जब तक माही थे तो सब मुमकिन था. आखिरी की 6 गेंदों पर दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) के खिलाफ जीत के लिए CSK को 13 रन चाहिए थे लेकिन माही ने चार गेंदों में ही मैच खत्म कर दिया. पंत के लिए उनके सबसे भरोसेमंद गेंदबाज ही हार का सबसे बड़ा विलेन बना.

बाता दें कि दिल्ली ने चेन्नई को 173 रन का लक्ष्य दिया था. टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए दिल्ली ने 20 ओवर में 5 विकेट खोकर 172 रन बनाया. दिल्ली की ओर से पृथ्वी शॉ ने 34 गेंदों में 7 चौकों और 3 छक्कों की मदद से 60 रन बनाये. जबकि कप्तान पंत ने 35 गेंदों में 3 चौके और दो छक्कों की मदद से नाबाद 51 रन बनाये. हेटमायर 24 गेंदों में 37 रन बनाये. चेन्नई की ओर से हेजलवुड ने दो विकेट चटकाये. जबकि ब्रावो, जडेजा और मोईन अली ने एक-एक विकेट चटकाये.

आखिरी ओवर में धोनी ने दिखाया धमाल

आखिरी ओवर में रोमांच अपने चरम पर था. सांस थम जाने वाली स्थिति थी. लेकिन धोनी ने एक बार फिर से बेस्ट फीनिशर की भूमिका निभायी और उन्होंने लगाातार तीन चौके जड़कर अपनी टीम को फाइनल में पहुंचा दिया. आखिरी ओवर में चेन्नई को 13 रन चाहिए थे. टॉम कुरने की पहली गेंद पर मोईन अली का विकेट गिर गया. उसके बाद स्ट्राइक पर आये धोनी ने चौका जड़ दिया. उसके बाद धोनी ने तीसरी गेंद पर भी चौका जड़ दिया. चौथी गेंद वाइट रही और फिर चौथी गेंद पर धोनी ने चौका जड़कर मुकाबला जीत लिया. धोनी ने 6 गेंदों का सामना किया, जिसमें 1 छक्का और 3 चौका जमाया.

आवेश खान की लचर गेंदबाजी

आवेश खान ने 4 ओवर में कुल 47 रन लुटाए और वो टीम के लिए सबसे महंगे गेंदबाज साबित हुए. उनकी ढीली गेंदबाजी दिल्ली की हार की अहम वजह रही और वो केवल एक विकेट ले सके. जबकि टूर्नामेंट में इससे पहले खेले 14 मैच में उन्होंने 22 विकेट झटके थे. लेकिन अपने लीग दौर के प्रदर्शन वाली छाप अहम मुकाबले में नहीं छोड़ सके. हालांकि वो अभी भी 23 विकेट के साथ सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले खिलाड़ियों की सूची में दूसरे पायदान पर काबिज है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें