1. home Home
  2. sports
  3. cricket
  4. ind vs eng r ashwin troubleshooter in the fourth test virat kohli stuck with playing xi avd

IND vs ENG: क्या चौथे टेस्ट में संकटमोचक साबित होंगे आर अश्विन, प्लेइंग इलेवन को लेकर फंसे विराट कोहली

विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री के लिए सबसे बड़ी चुनौती बनी हुई है प्लेइंग इलेवन. लॉर्ड्स में मिली शानदार जीत के बाद कोहली ने हेडिंग्ले में प्लेइंग इेलवन में कोई भी बदलाव नहीं किया था. लेकिन शर्मनाक हार मिलने के बाद प्लेइंग इलेवन में बदलाव की मांग उठने लगी है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
England vs India 4th Test
England vs India 4th Test
twitter

England vs India 4th Test : हेडिंग्ले में पारी और 76 रन की शर्मनाक हार के बाद टीम इंडिया चौथे टेस्ट में धाकड़ वापसी के लिए पूरी तरह तैयार है. ओवल में पिछले 50 साल के रिकॉर्ड तोड़कर भारतीय टीम की नजर इंग्लैंड को हराकर सीरीज में बढ़त लेने पर होगी.

मुकाबले से पहले कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री के लिए सबसे बड़ी चुनौती बनी हुई है प्लेइंग इलेवन. लॉर्ड्स में मिली शानदार जीत के बाद कोहली ने हेडिंग्ले में प्लेइंग इेलवन में कोई भी बदलाव नहीं किया था. लेकिन शर्मनाक हार मिलने के बाद प्लेइंग इलेवन में बदलाव की मांग उठने लगी है.

चौथे टेस्ट में प्लेइंग इलेवन में रविचंद्रन अश्विन को शामिल किये जाने की मांग तेजी से हो रही है. टेस्ट में अश्विन का रिकार्ड शानदार रहा है. उन्होंने 79 मैचों में अब तक 2685 रन और 413 विकेट चटकाये हैं. अश्विन अगर 5 विकेट चटकाने में कामयाब हो जाते हैं तो वो एक साथ दो महान खिलाड़ियों के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ देंगे. पाकिस्तान के महान गेंदबाज वसिम अकरम के 414 और हरभजन सिंह के 417 विकेट के रिकॉर्ड को तोड़ देंगे.

अब देखना है कि क्या ओवल में विराट कोहली आर अश्विन को मौका देंगे या फिर उन्हें बेंच पर ही बैठाकर रखेंगे. कोहली के लिए सबसे बड़ी चिंता अजिंक्य रहाणे और खुद का खराब फॉर्म है. तीनों टेस्ट में रहाणे और कोहली असफल साबित हुए हैं.

कोहली की सबसे बड़ी चिंता मध्यक्रम है जिसमें वह, चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे जैसे तीन दिग्गज खिलाड़ी शामिल हैं. पुजारा ने लीड्स में तीसरे टेस्ट की दूसरी पारी में 91 रन की प्रभावी पारी खेलकर फॉर्म में वापसी के संकेत दिए, लेकिन लार्ड्स में दूसरी पारी में 61 रन बनाने वाले रहाणे एक बार फिर नाकाम रहे.

पांच पारियों में 19 की औसत रहाणे ने 95 रन बनाये हैं. कोहली के लिए सूर्यकुमार यादव या हनुमा विहारी जैसे खिलाड़ी हैं, जो मध्यक्रम में नयापन ला सकते हैं. रहाणे को अगर बाहर किया जाता है तो विहारी के टीम में जगह बनाने की संभावना अधिक है क्योंकि वह आफ स्पिन गेंदबाजी भी कर सकते हैं.

रविंद्र जडेजा इस शृंखला में सातवें नंबर पर मुख्य रूप से बल्लेबाज के रूप में खेले हैं क्योंकि वह अश्विन से बेहतर बल्लेबाज हैं। अश्विन हालांकि इस समय संभवत: दुनिया के सर्वश्रेष्ठ स्पिनर हैं जबकि जडेजा तीन मैचों में सिर्फ दो विकेट हासिल कर पाए हैं. ओवल की पिच से पारंपरिक रूप से स्पिनरों को मदद मिलती है और समरसेट के खिलाफ काउंटी मैच में सरे की ओर से छह विकेट चटकाने वाले अश्विन को टीम में मौका मिल सकता है.

इशांत शर्मा की जगह आलराउंडर की भूमिका निभाने वाले शारदुल ठाकुर को मौका दे सकते हैं. अगर अश्विन को मौका मिलता है तो उनके और रूट के बीच मुकाबला दर्शकों के लिए यादगार हो सकता है.

टीमें इस प्रकार हैं:

भारत: विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, चेतेश्वर पुजारा, मयंक अग्रवाल, अजिंक्य रहाणे, हनुमा विहारी, ऋषभ पंत, रविचंद्रन अश्विन, रविंद्र जडेजा, अक्षर पटेल, जसप्रीत बुमराह, इशांत शर्मा, मोहम्मद शमी, मोहम्मद सिराज, उमेश यादव, लोकेश राहुल, रिद्धिमान साहा, अभिमन्यु ईश्वरन, पृथ्वी साव, सूर्यकुमार यादव और शारदुल ठाकुर.

इंग्लैंड: जो रूट (कप्तान), मोईन अली, जेम्स एंडरसन, जॉनी बेयरस्टो, सैम बिलिंग्स, रोरी बर्न्स, सैम कुरेन, हसीब हमीद, डैन लॉरेंस, डेविड मलान, क्रेग ओवरटन, ओली पोप, ओली रॉबिन्सन, क्रिस वोक्स और मार्क वुड.

समय: मैच भारतीय समयानुसार साढ़े तीन बजे से खेला जाएगा.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें