1. home Hindi News
  2. sports
  3. cricket
  4. in the ball out match against pakistan dhoni was the real hero of victory uthappa told the story of that match of 2007 t20 world cup

पाकिस्तान के खिलाफ बॉल आउट मैच में धौनी थे जीत के असली हीरो, उथप्पा ने बताई 2007 टी-20 वर्ल्ड कप के उस मैच की कहानी

By Sameer Oraon
Updated Date
भारत के क्रिकेटर रॉबिन उथप्पा ने 2007 में भारत और पाकिस्तान के बीच बॉल आउट वाले मैच की कहानी साझा की है
भारत के क्रिकेटर रॉबिन उथप्पा ने 2007 में भारत और पाकिस्तान के बीच बॉल आउट वाले मैच की कहानी साझा की है
Twitter

धौनी के दिमाग का लोहा तो बड़े बड़े दिग्गज मान चुके हैं. कई बार उन्होंने अपने दिमाग से ही बड़े बड़े मैच मेंजीत दिलाए हैं . ऐसे एक बड़े मैच की कहानी बताई है भारत के क्रिकेटर रॉबिन उथप्पा ने. उन्होंने 2007 में भारत और पाकिस्तान के बीच बॉल आउट मैच की कहानी साझा की है, उन्होंने बताया है कि किस तरह धौनी ने अपने दिमाग का भरपूर इस्तेमाल किया और भारत वो मैच जीत गया. आपको बता दें कि रॉबिन 2007 टी-20 विश्व कप में भारतीय टीम के सबसे अहम खिलाड़ी थे.

रॉबिन ने बताया कि उस मैच में भारत 20 ओवर में 141 रन ही बना सका था, जवाब में पाकिस्तान की टीम भी इतना ही रन बना सकी. अंत में फैसला हुआ कि इस मैच का नतीजा बॉल आउट के माध्यम से निकाला जाएगा. जिसमें पांच गेंदबाजों को एक एक बॉल फेंकने को मिलेगा. और जिस टीम के गेंदबाज विकेट को सबसे ज्यादा बार हिट करेंगे उस टीम को जीत दे दी जाएगी. भारत की तरफ से धौनी ने बॉल आउट के लिए रॉबिन उथप्पा, वीरेंद्र सहवाग और हरभजन सिंह को जिम्मेदारी थी. जबकि पाकिस्तान टीम की तरफ से उमर गुल, याशिर अराफात और शाहिद अफरीदी थे.

गेंद फेंकने से पहले धौनी विकेट के पीछे इस तरह से बैठे कि मानों गेंदबाजों को बॉल से उन्हीं को मारनी हो. जबकि पाकिस्तान के विकेट कीपर कामरण अकमल बिल्कुल साधारण तरीके से बैठे थे. जिसका नतीजा ये हुए कि भारत के सभी गेंदबाज विकेट को मारने में सफल रहे और वहीं पाकिस्तान के कोई भी गेंदबाज विकेट को हिट नहीं कर सका. रॉबिन ने कहा कि हमें धौनी को गेंदबाजी करनी थी. इससे विकेट पर गेंद लगने के चांस ज्यादा थे. हमने वही किया. दूसरा फर्क हमारी और उनकी टीम में ये था कि उन्होंने ये जिम्मेदारी अपने रेगुलर गेंदबाज को सौंपी थी. जबकि धौनी ने इस काम के लिए ऐसे गेंदबाज को चुना था जो बिल्कुल काम चलाऊ गेंदबाज थे. आपको बता दें कि इस मैच में उथप्पा ने 39 गेंदों पर 50 रनों की पारी खेली थी. बता दें इस बल्लेबाज ने भारत के लिए अब तक 46 वनडे मैच खेल चुके हैं जिसमें उन्होंने 934 रन बनाए हैं. जबकि टी-20 फॉर्मेट में इस खिलाड़ी ने 13 मैच खेले हैं.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें