1. home Home
  2. sports
  3. cricket
  4. cricketers long hair and use social media ban strong decree of former ranji captain and sports minister of bengal laxmi ratan shukla avd

क्रिकेटरों को लंबे बाल रखने और सोशल मीडिया इस्तेमाल करने पर रोक, बंगाल के पूर्व खेल मंत्री का कड़ा फरमान

बंगाल के पूर्व रणजी कप्तान (former Ranji captain ) और खेल मंत्री लक्ष्मी रतन शुक्ला (Sports Minister of Bengal Laxmi Ratan Shukla ) ने अंडर 23 क्रिकेटरों के लिए कड़ा फरमान जारी किया है. उन्होंने क्रिकेटरों को लंबे बाल रखने और सोशल मीडिया के इस्तेमाल करने पर रोक लगा दिया है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
क्रिकेटरों को लंबे बाल रखने और सोशल मीडिया इस्तेमाल करने पर रोक
क्रिकेटरों को लंबे बाल रखने और सोशल मीडिया इस्तेमाल करने पर रोक
twitter

बंगाल के पूर्व रणजी कप्तान (former Ranji captain ) और खेल मंत्री लक्ष्मी रतन शुक्ला (Sports Minister of Bengal Laxmi Ratan Shukla ) ने अंडर 23 क्रिकेटरों के लिए कड़ा फरमान जारी किया है. उन्होंने क्रिकेटरों को लंबे बाल रखने और सोशल मीडिया के इस्तेमाल करने पर रोक लगा दिया है.

दरअसल लक्ष्मी रतन शुक्ला ने सोमवार को फिटनेस शिविर के साथ अंडर-23 कोच के रूप में नयी पारी की शुरुआत की. कोच के रूप में नयी पारी की शुरुआत करते ही लक्ष्मी रतन शुक्ल ने अपने खिलाड़ियों के लिए कड़े नियम लागू कर दिये. जिसमें सोशल मीडिया से दूर रहना और लंबे बालों को कटवाना शामिल है.

बंगाल के लिए घरेलू क्रिकेट में दिग्गज खिलाड़ी रहे शुक्ला 2016 में तृणमूल कांग्रेस (TMC) से जुड़े थे और इस साल जनवरी तक वह युवा मामलों और खेल के राज्यमंत्री थे. शुक्ला को बाद में टीएमसी का हावड़ा जिलाध्यक्ष बनाया गया लेकिन पिछले विधानसभा चुनावों से ठीक पहले उन्होंने क्रिकेट पर अधिक ध्यान लगाने के लिए पद और राजनीति छोड़ दी.

उन्होंने बंगाल की अंडर-23 टीम के कोच के रूप में वापसी की. 40 साल के इस पूर्व खिलाड़ी ने प्रभार संभालने के बाद कहा, मैंने लड़कों से कहा है कि वे सोशल मीडिया पर कुछ नहीं डालें. उन्हें शिष्टाचार और अनुशासन बनाए रखना होगा.

लक्ष्मी रतन शुक्ल के फिटनेस शिविर में 60 क्रिकेटरों ने लिया हिस्सा

लक्ष्मी रतन शुक्ल के फिटनेस शिविर में 60 क्रिकेटरों ने हिस्सा लिया. जिसमें उन्होंने क्रिकेटरों से कहा कि लंबे बाल वाले खिलाड़ियों के तुरंत अपने बाल कटवाने होंगे. तीसरी बात, टीम एकजुटता के लिए उन्हें बंगाली सीखनी होगी.

भारत के लिए तीन एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय खेलने वाले शुक्ला ने कहा कि उनका काम यह सुनिश्चित करना है कि बंगाल के अधिक खिलाड़ी राष्ट्रीय टीम में जगह बनाएं.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें