IND vs NZ 4th ODI : धौनी ने बिना देखे विकेट पर किया थ्रो टेलर आउट NZ 250/7 (49.0 ov)

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

रांची : धौनी के होम ग्राउंड पर आज भारत और न्यूजीलैंड के बीच एकदिवसीय सीरीज का चौथा मैच खेला जा रहा है. न्यूजीलैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया है. न्यूजीलैंड की ओपनिंग बहुत अच्छी रही, लेकिन फिर मध्यक्रम थोड़ा गड़बड़ाया. 49वें ओवर में स्कोर सात विकेट के नुकसान पर 250 रन था.

46वें ओवर में धौनी ने एक शानदार रन आउट करके टेलर को पवेलियन चलता कर दिया. इस विकेट के साथ ही न्यूजीलैंड का स्कोर छह विकेट के नुकसान पर 229 रन था.

43 ओवर की समाप्ति के बाद स्कोर चार विकेट के नुकसान पर 213 रन था.

36वें ओवर में भारत ने न्यूजीलैंड का तीसरा विकेट गिराया. 41 रन बनाकर विलियमसन अमित मिश्रा का शिकार बने उनका कैच धौनी ने लपका अभी स्कोर तीन विकेट के नुकसान पर 184 रन है.

28 ओवर की समाप्ति के बाद न्यूजीलैंड का स्कोर दो विकेट के नुकसान पर 153 रन है. विलियमसन और ट्रेलर ग्राउंड पर टिके हुए हैं.

26 ओवर में भारत को एक बड़ी सफलता मिली है. हार्दिक पांड्या की गेंद पर कप्तान महेंद्र सिंह धौनी ने गुप्टिलका कैच पकड़ा है. गुप्टिल अपने शतक के करीब थे. गुप्टिल72 रन के निजी स्‍कोर पर पवेलियन लौटे हैं. न्‍यूजीलैंड का स्‍कोर दो विकेट के नुकसान पर 138 रन.

25 वें ओवर में न्‍यूजीलैंड ने 2 रन बनाये. 25 ओवर की समाप्ति पर न्‍यूजीलैंड का स्‍कोर एक विकेट के नुकसान पर 138 रन है. 24 वें ओवर में न्‍यूजीलैंड ने एक भी रन नहीं बनाया.23 वें ओवर में न्‍यूजीलैंड ने 6 रन बनाये. गुप्तिल अपना अर्द्धशतक पूरा कर 67 रन के निजी स्‍कोर पर खेल रहे हैं. 23 ओवर की समाप्ति पर न्‍यूजीलैंड का 130 रन एक विकेट के नुकसान पर.

22 ओवर की समाप्ति पर न्‍यूजीलैंड को स्‍कोर एक विकेट के नुकसान पर 124 रन है. 21ओवर की समाप्ति पर न्‍यूजीलैंड एक विकेट खोकर 117 रन के स्‍कोर तक पहुंचा है. इस ओवर में न्‍यूजीलैंड केवल एक ही रन बना पाया.

20 ओवर की समाप्ति पर न्‍यूजीलैंड एक विकेट के नुकसान पर 116 रन है.19 वां ओवर न्‍यूजीलैंड के लिए कोई खास नहीं रहा. इस ओवर में न्‍यूजीलैंड ने 4 रन बनाये. 19 ओवर की समाप्ति पर न्‍यूजीलैंड का स्‍कोर 112 रन एक विकेट के नुकसान पर है. 18वें ओवर में न्‍यूजीलैंड ने 9 रन बटोरे.

विकेट जाने से न्‍यूजीलैंड की टीम रक्षात्मक तेवर के साथ मैदान में हैं. 17वें ओवर में केवल दो ही रन बने हैं. 17 ओवर की समाप्ति पर न्‍यूजीलैंड का स्‍कोर 99 रन है.

भारत को पहली सफलता 15वें ओवर में मिली. अक्षर पटेल ने अपनी तीसरी गेंद पर लैथम को पेवेलियन का रास्ता दिखा दिया. न्‍यूजीलैंड को पहला झटका 96 रन पर लगा. 14वां ओवर में भी भारत को सफलता नहीं मिली. इस ओवर में न्यूजीलैंड ने 9 रन बनाये. 14 ओवर की समाप्ति पर न्‍यूजीलैंड का स्‍कोर 94 रन बिना किसी नुकसान के है.

13 ओवर की समाप्ति के बाद भी न्यूजीलैंड का कोई विकेट नहीं गिरा है और स्कोर 87 हो गया है.

दस ओवर की समाप्ति के बाद न्यूजीलैंड का स्कोर बिना किसी नुकसान के 80 रन है. मैदान पर लैथम और गप्टिल जमे हुए हैं. न्यूजीलैंड इस मैच में वापसी करना चाहता है.

आठ ओवर की समाप्ति के बाद न्यजीलैंड ने बिना कोई विकेट खोये 58 रन बना लिये थे.

इस मैच को लेकर काफी उत्साह है, क्योंकि एक तो यह मैच धौनी के होमग्राउंड पर खेला जा रहा है, वहीं दूसरे इस मैच को जीतने के साथ ही भारत यह सीरीज भी जीत जायेगा.

पिछले मैच में शानदार बल्लेबाजी करके फार्म में लौटने वाले महेंद्र सिंह धौनी इस लय को बरकरार रखते हुए न्यूजीलैंड के खिलाफ अपने घरेलू मैदान पर आज होने वाले चौथे एक दिवसीय क्रिकेट मैच के जरिये श्रृंखला जीतने के इरादे से उतरेंगे. आज अगर टीम जीत जाती है, तो वह सीरीज जीत जायेगी. बल्लेबाज, विकेटकीपर और कैप्टन कूल धौनी मोहाली में पिछले वनडे में बल्लेबाजी क्रम में चौथे स्थान पर उतरे. विराट कोहली के साथ उनकी शतकीय साझेदारी ने भारत को सात विकेट से जीत और सीरीज में 2-1 से बढ़त दिलायी.

धौनी ने 91 गेंद में 80 रन बनाये और इसके साथ ही वनडे क्रिकेट में 9000 रन पूरे कर लिये. वह 50 या अधिक की औसत से यह रन बनाने वाले पहले बल्लेबाज बने. वनडे क्रिकेट टीम के कप्तान और रांची के लाडले धौनी शायद आखिरी बार अपने घरेलू मैदान पर खेलते नजर आयेंगे जहां भारत ने तीन वनडे और एक टी-20 में से सभी जीते हैं जबकि एक मैच बारिश की भेंट हो गया. उपकप्तान कोहली ने यहां दो वनडे पारियों में नाबाद 77 और नाबाद 139 रन बनाये हैं और वह भी इस लय को कायम रखना चाहेंगे. मोहाली में पारी की शुरुआत में जीवनदान मिलने के बाद कोहली ने 134 गेंद में नाबाद 154 रन बनाये. यह कोहली का 26वां शतक था और इनमें से 22 बार भारत विजयी रहा है.


धौनी के साथ तीसरे विकेट के लिये 151 रन की साझेदारी में कोहली जबर्दस्त फार्म में नजर आये. दूसरी ओर धौनी ने भी पुराने तेवर दिखाये जिसे देखते हुए यह कहना जल्दबाजी होगा कि उनका सर्वश्रेष्ठ दौर बीत चुका है. अब धौनी उसी मैदान पर लौटेंगे जहां से उन्होंने शुरुआत की थी और उनके लिये यह काफी जज्बाती मैच होगा. आईसीसी की हर ट्राफी जीत चुके धौनी इसे यादगार बनाना चाहेंगे. धौनी का फार्म में लौटना न्यूजीलैंड टीम के लिये खतरनाक संकेत है जो टेस्ट श्रृंखला में 0-3 से सफाये के बाद वनडे में लाज बचाने की कोशिश में हैं.
Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें