1. home Home
  2. religion
  3. grahan 2022 dates and time there will be a total of 4 eclipses in the year 2022 know the date and sutak period of solar and lunar eclipse tvi

Grahan 2022 Date And Time: साल 2022 में लगेंगे कुल 4 ग्रहण, जानें सूर्य और चंद्र ग्रहण की तारीख और सूतक काल

साल 2021 का आखिरी सूर्य ग्रहण 4 दिसंबर को लगने के बाद अब नए साल यानी 2022 में कुल 4 ग्रहण लगने जा रहे हैं. इसमें 2 सूर्य ग्रहण और 2 चंद्र ग्रहण होंगे.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Grahan
Grahan
Instagram

साल 2022 का पहला सूर्य ग्रहण

Grahan 2022: हिंदू पंचांग के अनुसार साल 2022 का पहला सूर्यग्रहण 30 अप्रैल, दिन शनिवार को लगने जा रहा है. ग्रहण का समय दोपहर 12:15 से लेकर शाम 04:07 बजे तक रहेगा हालांकि यह आंशिक सूर्य ग्रहण होगा, जिसे दक्षिणी/पश्चिमी अमेरिका, पेसिफिक अटलांटिक और अंटार्कटिका में देखा जा सकेगा.

साल 2022 का दूसरा सूर्य ग्रहण इस तारीख को

साल 2022 का दूसरा सूर्य ग्रहण 25 अक्टूबर दिन मंगलवार को लगेगा. यह भी आंशिक ग्रहण होगा. हिंदू पंचांग के मुताबिक यह ग्रहण 25 अक्टूबर यानी मंगलवार शाम 04:29 बजे से शुरू होगा और 05:42 बजे तक रहेगा. इसे यूरोप, दक्षिणी/पश्चिमी एशिया, अफ्रीका और अटलांटिका में देखा जा सकेगा. इसका प्रभाव भारत में नहीं पड़ेगा.

खगोलशास्त्रियों के अनुसार 1 साल में अधिकतम 5 सूर्य ग्रहण लगते हैं

खगोलशास्त्रियों के अनुसार 18 साल में कुल 41 सूर्य ग्रहण ही लगते हैं, वहीं एक साल में अधिकतम 5 ग्रहण हो सकते हैं.

2022 में कब लगेगा चंद्र ग्रहण, सूतक काल यह है

साल 2022 का पहला चंद्र ग्रहण 15 और 16 मई को सुबह 7 बजकर 2 मिनट से शुरू हो जाएगा और 12 बजकर 20 मिनट तक रहेगा. ये दोनों ग्रहण पूर्णचंद्र ग्रहण होने वाले हैं. यह पहला चंद्र ग्रहण होगा, जिसका असर भारत में भी देखा जा सकेगा. इसका प्रभाव दक्षिणी/पश्चिमी यूरोप, दक्षिणी/पश्चिमी एशिया, अफ्रीका, उत्तरी अमेरिका, दक्षिणी अमेरिका, पैसिफिक, अटलांटिक, अंटार्कटिका, हिन्द महासागर में भी दिखाई देगा. इस ग्रहण काल के दौरान सूतक काल अधिक प्रभावी होगा. चंद्र ग्रहण के 9 घंटे पहले सूतक काल शुरू हो जाएगा है, जो चंद्र ग्रहण की समाप्ति पर ही खत्म होगा.

2022 का दूसरा चंद्र ग्रहण, सूतक काल जानें

साल 2022 का दूसरा और अंतिम चंद्र ग्रहण 8 नवंबर दोपहर 1 बजकर 32 मिनट से लेकर शाम 7 बजकर 27 मिनट तक रहने वाला है. यह पूर्ण चंद्र ग्रहण होगा. आपको बता दें पहले कि तरह यह भी पूर्ण चंद्र ग्रहण ही होगा. इस दौरान सूतक काल मान्य होगा. यह चंद्र ग्रहण भारत समेत हिंद महासागर दक्षिणी अमेरिका, पेसिफिक, अटलांटिक, दक्षिणी/पूर्वी यूरोप, एशिया, ऑस्ट्रेलिया और उत्तरी अमेरिका में भी दिखाई देगा.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें