चैती छठ का नहाय-खाय आज, चार दिवसीय महापर्व की तैयारियों में जुटे व्रती, जानें किस दिन क्या

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
चार दिवसीय चैती छठ का नहाय-खाय मंगलवार से शुरू हो रहा है. मंगलवार को प्रात: सूर्योदय के बाद व्रती विभिन्न नदी-तालाबों, डैमों, जलाशयों व घरों में स्नान-ध्यान के बाद भगवान की पूजा-अर्चना करेंगी.
इसके बाद भगवान सूर्य से शक्ति व व्रत निर्विघ्न संपन्न हो, इसकी कामना करेंगी. फिर घर में कद्दु, भात तैयार कर इसे भगवान को अर्पित करेंगी अौर उसके बाद उसे ग्रहण करेंगी. इसके बाद खरना की तैयारी शुरू कर दी जायेगी. खरना बुधवार को है. वहीं गुरुवार को अस्ताचलगामी व शुक्रवार को उदीयमान सूर्य को अर्घ्य दिया जायेगा.
आज से छठ के गीत गूंजने लगेंगे
मंगलवार से छठ के गीत गूंजने लगेंगे. छठ के परंपरागत गीत कांच ही बांस के बहंगिया बहंगी लचकत जाय..., नैहर मांगी ला भाई रे भतीजवा, ससुरा सकल परिवार ये छठी, अपना के मांगीला अवध सिन्होरवा, जन्म जन्म अहिवात ये छठी मइया..., सभवा बैठन के बेटा मांगीला, डोलिया चढ़न के पतौह ये छठी मइया , रुनुकी झुनुकी एक बेटी मांगीला- घोड़वा चढ़न के दामाद ये छठी मइया के अलावा अन्य लोकगीत बजने लगेंगे.
बाजारों में खरीदारी शुरू
पर्व को लेकर बाजारों में खरीदारी शुरू हो गयी है. कई नियमित बाजारों में सूप से लेकर दउरा सहित अन्य कुछ की बिक्री की जा रही है. वहीं पूजा के लिए गेहूं, चावल, वस्त्र सहित अन्य पूजन सामग्री की भी खरीदारी चल रही है.
आज व्रत का संकल्प लेंगे व्रतधारी, उसके बाद शुरू होगी खरना की तैयारी
खरना कल, गुरुवार को अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य देेंगे छठव्रती
किस दिन क्या है
10 अप्रैल : खरना
11 अप्रैल : अस्ताचलगामी
सूर्य को अर्घ्य
12 अप्रैल : उदीयमान
सूर्य को अर्घ्य
Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें