24.1 C
Ranchi
Saturday, March 2, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Pisces Horoscope Today: मीन राशि वालों की आध्यात्म के प्रति आपकी रुचि बढ़ सकती है, आज 10 जनवरी 2024 का राशिफल

Today horoscope आज का मीन राशिफल | जाने अपना दैनिक राशिफल 10 जनवरी 2024 horoscope in hindi : मीन राशिवालों के लिए आज का दिन वैसे तो औसत रहेगा लेकिन दिन को खुशनुमा बनाने के लिए एक बार आज का राशिफल जरूर पढ़ लीजिए. ताकि आप पूरे दिन की प्लानिंग कर सकें...

मीन:– आज नए कार्य करने के अवसर प्राप्त हो सकते हैं. कोई नया काम शुरू करने से पहले संबंधित अनुभवी व्यक्ति से सलाह कर लें. आपकी लव लाइफ के लिए यह बेहद चुनौतीपूर्ण दिन हो सकता है. आपके साथी और आपके बीच गलतफहमी आपको अलग कर सकती है. आध्यात्म के प्रति आपकी रुचि बढ़ सकती है. किसी अनजानी समस्या से अचानक घिर सकते हैं. कोई आध्यात्मिक गुरू या बड़ा आपकी सहायता कर सकता है.

शुभ अंक—4

शुभ रंग— नाली

ज्योतिषाचार्य नितेश निरंजन

Also Read: Aaj Ka Rashifal,10 जनवरी 2024: मेष, तुला, कुंभ समेत इन राशियों के लिए दिन रहेगा शुभ, पढ़े अपना आज का राशिफल
Also Read: Aries Horoscope Today: कैसा रहेगा मेष राशि के लिए साल का पहला दिन, आज 10 जनवरी 2024 का राशिफल
Also Read: Taurus Horoscope Today: वृषभ राशि वालों को परिणामों को झेलने के लिए तैयार रहना होगा, 10 जनवरी 2024 का राशिफल
Also Read: Gemini Horoscope Today: मिथुन राशि वालों को सेहत को लेकर टेंशन बढ़ सकती है, जानें 10 जनवरी 2024 का राशिफल
Also Read: Kark Horoscope Today: कर्क राशि वालों को नौकरी व निवेश से लाभ होगा, आज 10 जनवरी 2024 का राशिफल
Also Read: Leo Horoscope Today: सिंह राशि के सामने कुछ कठिन परिस्तिथियां आ सकती है, जानें 10 जनवरी 2024 का राशिफल
Also Read: Virgo Horoscope Today: कन्या राशि वाले आर्थिक लेन-देन में सावधानी बरतें, जानें 10 जनवरी 2024 का राशिफल
Also Read: Libra Horoscope Today: तुला राशि वाले अपने काम निकलवाने में सफल रहेंगे, जानें 10 जनवरी 2024 का राशिफल
Also Read: Scorpio Horoscope Today: वश्चिक राशि के जातक स्वास्थ्य का ध्यान रखें, जानें 10 जनवरी 2024 का राशिफल
Also Read: Sagittarius Horoscope Today: धनु राशि को संतान पक्ष से खुशखबरी मिलेगी, जानें 10 जनवरी 2024 का राशिफल
Also Read: Capricorn Horoscope Today: मकर राशि वाले सफर करने से बचें, आज 10 जनवरी 2024 का राशिफल
Also Read: Aquarius Horoscope Today: कुंभ राशि वाले दुश्मनों पर हावी रहेंगे, जानें 10 जनवरी 2024 का राशिफल
Also Read: Pisces Horoscope Today: मीन राशि वालों की गलतफहमी उनको अपने साथी से अलग कर सकती है, आज 10 जनवरी 2024 का राशिफल

श्री गणेश चालीसा

जय गणणति सद्गुण सदन कविवर बदन कृपाल।

विघ्न हरण मंगल करण जय जय गिरिजालाल॥

जय जय जय गणपति राजू। मंगल भरण करण शुभ काजू॥

जय गजबदन सदन सुखदाता। विश्व विनायक बुद्धि विधाता॥

वक्र तुण्ड शुचि शुण्ड सुहावन। तिलक त्रिपुण्ड भाल मन भावन॥

राजित मणि मुक्तन उर माला। स्वर्ण मुकुट शिर नयन विशाला॥

पुस्तक पाणि कुठार त्रिशूलं। मोदक भोग सुगन्धित फूलं॥

सुन्दर पीताम्बर तन साजित। चरण पादुका मुनि मन राजित॥

धनि शिवसुवन षडानन भ्राता। गौरी ललन विश्व-विधाता॥

ऋद्धि सिद्धि तव चँवर डुलावे। मूषक वाहन सोहत द्वारे॥

कहौ जन्म शुभ कथा तुम्हारी। अति शुचि पावन मंगल कारी॥

एक समय गिरिराज कुमारी। पुत्र हेतु तप कीन्हा भारी॥

भयो यज्ञ जब पूर्ण अनूपा। तब पहुंच्यो तुम धरि द्विज रूपा।

अतिथि जानि कै गौरी सुखारी। बहु विधि सेवा करी तुम्हारी॥

अति प्रसन्न ह्वै तुम वर दीन्हा। मातु पुत्र हित जो तप कीन्हा॥

मिलहि पुत्र तुहि बुद्धि विशाला। बिना गर्भ धारण यहि काला॥

गणनायक गुण ज्ञान निधाना। पूजित प्रथम रूप भगवाना॥

अस कहि अन्तर्धान रूप ह्वै। पलना पर बालक स्वरूप ह्वै॥

बनि शिशु रुदन जबहि तुम ठाना। लखि मुख सुख नहिं गौरि समाना॥

सकल मगन सुख मंगल गावहिं। नभ ते सुरन सुमन वर्षावहिं॥

शम्भु उमा बहुदान लुटावहिं। सुर मुनि जन सुत देखन आवहिं॥

लखि अति आनन्द मंगल साजा। देखन भी आए शनि राजा॥

निज अवगुण गुनि शनि मन माहीं। बालक देखन चाहत नाहीं॥

गिरजा कछु मन भेद बढ़ायो। उत्सव मोर न शनि तुहि भायो॥

कहन लगे शनि मन सकुचाई। का करिहौ शिशु मोहि दिखाई॥

नहिं विश्वास उमा कर भयऊ। शनि सों बालक देखन कह्यऊ॥

पड़तहिं शनि दृग कोण प्रकाशा। बालक शिर उड़ि गयो आकाशा॥

गिरजा गिरीं विकल ह्वै धरणी। सो दुख दशा गयो नहिं वरणी॥

हाहाकार मच्यो कैलाशा। शनि कीन्ह्यों लखि सुत को नाशा॥

तुरत गरुड़ चढ़ि विष्णु सिधाए। काटि चक्र सो गज शिर लाए॥

बालक के धड़ ऊपर धारयो। प्राण मन्त्र पढ़ शंकर डारयो॥

नाम गणेश शम्भु तब कीन्हे। प्रथम पूज्य बुद्धि निधि वर दीन्हे॥

बुद्धि परीक्षा जब शिव कीन्हा। पृथ्वी की प्रदक्षिणा लीन्हा॥

चले षडानन भरमि भुलाई। रची बैठ तुम बुद्धि उपाई॥

चरण मातु-पितु के धर लीन्हें। तिनके सात प्रदक्षिण कीन्हें॥

धनि गणेश कहि शिव हिय हरषे। नभ ते सुरन सुमन बहु बरसे॥

तुम्हरी महिमा बुद्धि बड़ाई। शेष सहस मुख सकै न गाई॥

मैं मति हीन मलीन दुखारी। करहुँ कौन बिधि विनय तुम्हारी॥

भजत रामसुन्दर प्रभुदासा। लख प्रयाग ककरा दुर्वासा॥

अब प्रभु दया दीन पर कीजै। अपनी शक्ति भक्ति कुछ दीजै॥

दोहा

श्री गणेश यह चालीसा पाठ करें धर ध्यान।

नित नव मंगल गृह बसै लहे जगत सन्मान॥

सम्वत् अपन सहस्र दश ऋषि पंचमी दिनेश।

पूरण चालीसा भयो मंगल मूर्ति गणेश॥

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें