Advertisement

Palamu

  • Mar 6 2019 4:31PM
Advertisement

झारखंड में नकली डाबर आंवला केश तेल के व्यापार का भंडाफोड़

झारखंड में नकली डाबर आंवला केश तेल के व्यापार का भंडाफोड़

चैनपुर (पलामू) : झारखंड के पलामू जिला की चैनपुर पुलिस ने बुधवार को चैनपुर थाना के निकट सूर्य मंदिर रोड में बड़े पैमाने पर नकली डाबर आंवला केश तेल बनाने की फैक्ट्री का भंडाफोड़ करते हुए नकली तेल बनाने वाले को पकड़ा है. चैनपुर के थाना प्रभारी सुनीत कुमार ने बताया कि पुलिस अधीक्षक पलामू के निर्देश पर टीम बनाकर छापेमारी की गयी.

इसे भी पढ़ें : Jharkhand : खड़ी हाइवा को दूसरी हाइवा ने मारी टक्कर, ड्राइवर की मौत

छापामारी में अवैध व्यापार में लिप्त चैनपुर निवासी शमीम सिद्दीकी (पुत्र : शौकत अली सिद्दीकी, उम्र करीब 22 वर्ष) को गिरफ्तार कर लिया गया है. फैक्ट्री से 450 बोतल 90ml भरा हुआ तथा 280 खाली शीशी बरामद की गयी है. करीब 2000 स्टिकर भी मिले हैं.

डाबर कंपनी के प्रमुख जांच अधिकारी रंजीत कुमार सिंह ने बताया कि बरामद माल की कीमत लगभग एक लाख रुपये है. कंपनी के जांच अधिकारी रंजीत कुमार सिंह एवं चंद्रेश्वर सिंह ने कहा कि करीब पांच-छह महीने पहले इन्हें सूचना मिली की कंपनी का डुप्लीकेट माल तैयार किया जा रहा है.

इसे भी पढ़ें : मतुआ समाज की बड़ो मां बीणापाणि देवी नहीं रहीं, राजकीय सम्मान के साथ होगा अंतिम संस्कार, पीएम व सीएम ने शोक जताया

जांच के क्रम में पता चला कि नकली माल का काम चैनपुर से ही संचालित हो रहा था. इसकी शिकायत कंपनी ने पुलिस अधीक्षक से की. बताया गया कि इस गोरखधंधे से कंपनी को लगभग पांच लाख रुपये का नुकसान हुआ है.

शमीम ने बताया कि नकली तेल बनाने का कारोबार करीब छह महीने से कर रहा था. सरसों के तेल में रंग तथा सेंट मिलाकर नकली तेल बनाया जाता था. ग्रामीण क्षेत्रों के खुदरा विक्रेता को इसे बेच दिया जाता था. शमीम सिद्दीकी को जेल भेज दिया गया है.

इसे भी पढ़ें : ममता का प्रधानमंत्री पर हमला, कहा मोदी का विरोध करने वालों को पाकिस्तानी करार दिया जा रहा

छापामारी दल में थाना प्रभारी सुनीत कुमार, सहायक निरीक्षक वीरेंद्र पासवान सहित कई पुलिस बल शामिल थे.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement