Advertisement

kodarma

  • Feb 14 2018 6:28AM

झारखंड : स्‍कॉर्पियो को बम से उड़ाया कांग्रेस जिला अध्यक्ष की मौत, 15 को कांग्रेस का कोडरमा बंद

झारखंड : स्‍कॉर्पियो को बम से उड़ाया कांग्रेस जिला अध्यक्ष की मौत, 15 को कांग्रेस का कोडरमा बंद
कोडरमा : जिला कांग्रेस अध्यक्ष शंकर यादव की स्काॅर्पियो को चंदवारा के ढाबथाम में मंगलवार शाम करीब 4:30 बजे अपराधियों ने बम प्लांट कर उड़ा दिया. इस घटना में शंकर यादव (46 वर्षीय, झुमरी कोडरमा निवासी) की घटनास्थल पर ही मौत हो गयी, जबकि निजी अंगरक्षक कृष्णा यादव (महुडरा झुमरी निवासी) की मौत सदर अस्पताल में इलाज के क्रम में हो गयी. चालक धर्मेंद्र यादव (गाजेडीह निवासी) भी गंभीर रूप से घायल है.  उसे रिम्स रेफर कर दिया गया है.  
 
घटना की सूचना पर एसपी शिवानी तिवारी समेत अन्य अधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे और जांच की. उन्होंने कहा कि जब तक जांच पूरी नहीं हो जाती, कुछ नहीं कहा जा सकता. रांची से फाेरेंसिक एंड लेबोरेट्री टीम बुलायी गयी है.  वहीं, घटना को पत्थर खदान की जमीन के विवाद को लेकर अंजाम दिये जाने की बात सामने आ रही है.  
 
क्रशर माइंस से लौटने के क्रम में किया विस्फोट : शंकर यादव रोजाना की तरह ढाब थाम से थोड़ी दूर चौपारण में संचालित अपने पत्थर खदान का कामकाज देख कर लौट रहे थे. 
 
इसी दौरान चंदवारा थाना क्षेत्र के ढाब थाम में पड़ने वाले सुनसान क्षेत्र में  उनकी स्कार्पियो में ब्लास्ट हो गया. आसपास कोई आबादी नहीं होने के कारण घटना के संबंध में कोई स्पष्ट जानकारी नहीं दे पा  रहा है. हालांकि घटनास्थल के पास एक आॅटो के भी परखच्चे उड़े हुए मिले. 
ऐसे में आशंका जतायी जा रही है कि इसी आॅटो में बम प्लांट कर रखा गया था. वहां एक ब्रेकर भी बना मिला है. कयास लगाया जा रहा है कि  जैसे ही ब्रेकर के पास चालक ने स्काॅर्पियो की गति कम की हो, विस्फोटक लदे ऑटो को रिमोट से उड़ा दिया गया हो, जिसकी जद में आने से स्कॉर्पियो के परखच्चे उड़ गये.  हालांकि एसपी का कहना है कि विस्फोट कैसे हुआ जांच के बाद ही पता चलेगा.  कांग्रेस  विधायक मनोज यादव, प्रमुख लीलावती देवी व अन्य नेता  भी घटनास्थल पर पहुंचे. लोगों में घटना के प्रति आक्रोश है.
 
तीन माह पूर्व अपराधियों ने मारी थी गोली, फरार है आरोपी : शंकर यादव को तीन माह पूर्व ही चौपारण  में अपराधियों ने गोली मारी थी. 24 अक्तूबर 2017 को मोटरसाइकिल सवार दो अपराधियों ने शंकर यादव को पत्थर खदान से लौटते वक्त ही गोली मार दी थी.  गंभीर रूप से घायल शंकर का कई दिनों तक  रांची में चले इलाज के बाद स्थिति ठीक हुई थी. 
 
उस समय शंकर यादव के चालक के बयान पर चौपारण के भटबिगहा निवासी मुनेश यादव व एक अन्य के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया था. पुलिस आरोपी मुनेश को अब तक गिरफ्तार नहीं कर पायी है.  दोबारा हुए हमले में शंकर यादव की जान चली गयी. लोग पुलिस की कार्यप्रणाली पर  सवाल उठा रहे हैं. 
 
बॉडीगॉर्ड ने अस्पताल में दम तोड़ा

विस्फोटक लदे ऑटो को रिमोट से उड़ाने की आशंका  
 
रांची से फाेरेंसिक एंड लेबोरेट्री टीम बुलायी गयी है. मामले की जांच की जा रही है. घटना के कारणों का अभी पता नहीं चल पाया है. अपराधी जो भी होंगे, बख्शे नहीं जायेंगे.शिवानी तिवारी, पुलिस अधीक्षक, कोडरमा
 

Advertisement

Comments

Advertisement