Advertisement

gumla

  • Feb 10 2019 8:04PM

गुमला : बिशुनपुर थानेदार पर अवैध वसूली का आरोप, सोमवार को बिशुनपुर बंद

गुमला : बिशुनपुर थानेदार पर अवैध वसूली का आरोप, सोमवार को बिशुनपुर बंद
बैठक करते व्‍यवसायी

दुर्जय पासवान, गुमला 

बिशुनपुर थाना के थानेदार पर अवैध वसूली करने का आरोप लगा है. बिशुनपुर क्षेत्र में हो रहे विकास कार्यो में ढुलाई कर रहे ट्रैक्टर मालिकों ने यह आरोप लगाया है और 11 फरवरी को बिशुनपुर बंद रखने का निर्णय लिया है. वहीं थानेदार पर कार्रवाई व हटाने की मांग को लेकर सभी ट्रैक्टर मालिकों ने अनिश्चितकालीन हड़ताल कर दिया है. 

 

एसोसिएशन का समर्थन करते हुए बिशुनपुर ब्लॉक के व्यवसायियों ने सोमवार को अपने व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद रखने का आह्वान किया है. सोमवार को बिशुनपुर बंद रहेगा. बंद का समर्थन जनता पार्टी, जेएमएम के अलावा अन्य राजनीतिक दल के लोगों ने भी किया है. 

 

मालूम हो कि बिशुनपुर घोर नक्सल प्रभावित क्षेत्र है. जहां इन दिनों बनालात एक्शन प्लान, सांसद आदर्श ग्राम, नहर निर्माण, पीएम आवास, बिरसा आवास, सड़क निर्माण, चेकडैम के अलावा सरकार की कई महत्वपूर्ण योजनाएं चल रही हैं. जिसमें स्थानीय ट्रैक्टरों द्वारा मेटेरियल की ढुलाई की जा रही है. 

 

जिसे बिशुनपुर पुलिस द्वारा पकड़ कर अवैध वसूली की जा रही है.  जिससे आक्रोशित होकर ट्रैक्टर ऑनर एसोसिएशन के लोगों ने रविवार को ट्रैक्टर हड़ताल कर सोमवार को बिशुनपुर बंद का आह्वान किया है.

 

विवादित रहा है थानेदार का कार्यकाल  

लोगों ने कहा है कि जिले के विभिन्न थाना में थानेदार के पद पर रहे अनिल नायक कई जगह से सस्पेंड हो चुके हैं. वहीं इनपर कई थाने में माहौल अशांत करने का भी आरोप लग चुका है. इनके कार्यकाल के दौरान अधिकतर प्रबुद्धजन इनकी गतिविधियों से असंतुष्‍ट रहे हैं. इसको लेकर कई बार वरीय अधिकारियों से शिकायत करने के बाद इनके ऊपर कार्रवाई भी की गयी है. 

 

थाना गेट के समीप खड़ा करेंगे ट्रैक्टर 

इस पूरे विवाद के बाद ट्रैक्टर मालिकों ने निर्णय लिया है कि ट्रैक्टर को थाना गेट के बाहर खड़ा कर दिया जायेगा. वहीं पर अनिश्चितकालीन ट्रैक्टर को छोड़ दिया जायेगा. जिसके बाद बेरोजगारी से जूझने का निर्णय लिया गया. आवश्यकता पड़ी, तो पलायन भी करने का निर्णय लिया गया. 

 

क्‍या कहना है थानेदार का 

बिशुनपुर थाना प्रभारी अनिल नायक का कहना है कि मेरे ऊपर लगा आरोप गलत है. अगर मैंने पैसा लिया है तो नाम बतायें. आरोप सिद्ध नहीं होगा तो मैं मनहानि का केस करूंगा. विकास योजना का बालू उठा रहे हैं तो मुखिया से प्राप्त रसीद दिखायें. नाबालिक ट्रैक्टर चला रहे हैं. कागजात नहीं है. अवैध तरीके से काम हो रहा है. मैं कार्रवाई कर रहा हूं तो मेरे ऊपर आरोप लग रहा है. 

Advertisement

Comments

Advertisement