Advertisement

cricket

  • Mar 11 2019 7:19PM
Advertisement

मोहाली में 'विलेन' बने ऋषभ पंत, फैन्‍स बोले - धौनी को वापस बुलाओ, देखें VIDEO

मोहाली में 'विलेन' बने ऋषभ पंत, फैन्‍स बोले - धौनी को वापस बुलाओ, देखें VIDEO
photo pti

नयी दिल्‍ली : ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ टी20 सीरीज हारने के बाद पांच मैचों की वनडे सीरीज में भी टीम इंडिया की हालत ठीक नहीं है. सीरीज में 2-0 की बढ़त बनाने के बाद भारतीय टीम का प्रदर्शन पिछले दो मैचों (रांची और मोहाली) में बेहद खराब रहा.

 

रांची वनडे हारने के बाद मोहाली में जीत की उम्‍मीद लिये मैदान पर उतरी टीम इंडिया को बड़े स्‍कोर करने के बाद भी शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा. भारत की हार में विकेट कीपर बल्‍लेबाज ऋषभ पंत की खराब स्‍टंपिंग ने बड़ी भूमिका निभायी, जिसने तीन आसान स्‍टंप के मौके छोड़ दिये. पंत के खराब प्रदर्शन का खामियाजा टीम इंडिया को 358 रन के विशाल स्‍कोर के बावजूद हार के रूप में चुकाना पड़ा.

मोहाली में टीम इंडिया शर्मनाक हार के कगार पर जब खड़ी थी और कोहली खिलाड़ियों के खराब प्रदर्शन से हैरान, परेशन बाउंड्री लाइन पर फिल्डिंग कर रहे थे, तब पूरा स्‍टेडियम धौनी-धौनी के नारे से गूंज उठा. फैन्‍स को धौनी की पूरी कमी खल रही थी. कोहली जब फिल्‍डिंग करते हुए बाउंड्री के करीब आये तो फैन्‍स चिल्‍लाने लगे -  कोहली भाई धौनी को वापस बुलाओ.

इधर टीम इंडिया की शर्मनाक हार के बाद सोशल मीडिया में ऋषभ पंत की खुब आलोचना की जा रही है. फैन्‍स धौनी और पंत की तुलना करने लगे हैं और माही की वापसी की मांग करने लगे.

मैच हारने के बाद कोहली का गुस्‍सा साफ नजर आया. कप्तान विराट कोहली ने रविवार को हार के बाद कहा कि मैच में स्टंप करने के मौके अहम होते हैं और मैदान पर खराब क्षेत्ररक्षण के कारण अंतिम कुछ ओवर में पांच मौके गंवाने की बात पचाना मुश्किल है.

ऑस्ट्रेलियाई टीम इस जीत से पांच मैचों की वनडे शृंखला में 2-2 से बराबरी हासिल कर ली. कोहली ने मैच के बाद कहा, विकेट पूरे समय अच्छा था, लेकिन पिछले दोनों मैचों में ओस के कारण परेशानी हुई. लेकिन यह कोई बहाना नहीं है. अंतिम कुछ ओवरों में पांच मौके गंवाने की बात पचाना मुश्किल है.

एशटन (टर्नर) ने शानदार पारी खेली. (पीटर) हैंड्सकोंब ने शानदार पारी खेली और (उस्मान) ख्वाजा ने पारी को संभाले रखा. मौके चूकने के बारे में कोहली ने कहा, स्टंपिंग का मौके अहम होते हैं, हम मैदान पर थोड़े ढीले थे. डीआरएस पर फैसला हैरानी भरा था, इसमें जरा भी निरंतरता नहीं थी. यह अब हर मैच में चर्चा का विषय बन गया है. यह परेशानी भरा बन सकता है, हमें अपना सर्वश्रेष्ठ करना होगा. हमने इस ऑस्ट्रेलियाई टीम के खिलाफ दो हैरानी भरे मैच खेले. इससे निश्चित रूप से दुख होगा.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement