1. home Hindi News
  2. national
  3. yogi adityanath should have had the decency to call the hathras incident a tragedy rahul gandhi ksl

योगी आदित्यनाथ में हाथरस की घटना को 'त्रासदी' कहने की शालीनता होनी चाहिए थी : राहुल गांधी

By Agency
Updated Date
पटियाला में प्रेस वार्ता करते राहुल गांधी
पटियाला में प्रेस वार्ता करते राहुल गांधी
सोशल मीडिया

पटियाला : कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने हाथरस मामले को लेकर मंगलवार को उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार पर निशाना साधा और कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ में इतनी शालीनता होनी चाहिए थी कि वह दलित लड़की से कथित सामूहिक बलात्कार और हत्या की घटना को 'त्रासदी' कहते.

कृषि कानूनों के खिलाफ पंजाब में 'खेती बचाओ यात्रा' निकालनेवाले राहुल गांधी ने यह भी कहा कि हाथरस की घटना पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक शब्द भी नहीं बोला. उन्होंने पटियाला में कहा, ''मैं हाथरस देश की उन लाखों महिलाओं के लिए गया, जिनके साथ रोज छेड़छाड़ की घटना होती है. उन हजारों महिलाओं के लिए गया, जिनके साथ बलात्कार होता है. मुझे आश्चर्य होता है कि इस घटना पर प्रधानमंत्री के मुंह से एक शब्द भी नहीं निकला.''

एक सवाल के जवाब में गांधी ने कहा, ''उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री में इतनी शालीनता होनी चाहिए थी कि वह कहते कि यह एक त्रासदी है और हम इस मामले को देखेंगे तथा लड़की के परिवार की रक्षा करेंगे.'' उत्तर प्रदेश प्रशासन की ओर से इस मामले में योगी आदित्यनाथ सरकार को बदनाम करने की 'अंतरराष्ट्रीय साजिश' का आरोप लगाए जाने संबंधी प्रश्न पर कांग्रेस नेता ने कहा कि योगी आदित्यनाथ अपने विचार प्रकट करने को स्वतंत्र हैं.

उन्होंने कहा, ''योगी जी जो कल्पना करना चाहें, वो कर सकते हैं. मैंने वहां यह देखा कि एक प्यारी बच्ची के साथ दुष्कर्म किया गया था, उसकी गर्दन तोड़ दी गयी थी और उसके परिवार को धमकी दी गयी. जिन लोगों ने यह सब किया उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई.''

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा, ''अगर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी को लगता है कि अंतरराष्ट्रीय साजिश है, तो ठीक है. ऐसा सोचने का उनको अधिकार है. मैंने जो देखा, वो एक त्रासदी थी.''

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें