1. home Hindi News
  2. national
  3. west bengal cm mamata banerjee deprived bengal farmers of pm kisan samman nidhi alleges jp nadda mtj

ममता बनर्जी ने बंगाल के किसानों को पीएम किसान सम्मान निधि से वंचित किया, जेपी नड्डा का आरोप

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
PM Kisan Samman Nidhi: ममता बनर्जी ने बंगाल के किसानों को पीएम किसान सम्मान निधि से वंचित किया, जेपी नड्डा का आरोप.
PM Kisan Samman Nidhi: ममता बनर्जी ने बंगाल के किसानों को पीएम किसान सम्मान निधि से वंचित किया, जेपी नड्डा का आरोप.
Twitter

PM Kisan Samman Nidhi, JP Nadda: कोलकाता : भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव से पहले ममता बनर्जी पर एक बार फिर किसानों के हितों से समझौता करने का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बंगाल के किसानों को पीएम किसान सम्मान निधि से वंचित रखा.

श्री नड्डा ने भाजपा मुख्यालय में दिल्ली के किसानों को संबोधित करते हुए ये बातें कहीं. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पीएम किसान सम्मान निधि का लाभ सीधे किसानों के खाते में भेजने के निर्देश दिये, लेकिन बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी इसकी राह में रोड़ा बनकर खड़ी हो गयीं. उन्होंने किसानों के खाते में पैसे नहीं जाने दिये.

श्री नड्डा ने ममता बनर्जी पर आरोप लगाया कि वह न तो खुद विकास के काम करेंगी, न ही किसानों को सरकारी योजनाओं का लाभ लेने देंगी. उन्होंने कहा कि इसका खामियाजा तृणमूल कांग्रेस और ममता बनर्जी को वर्ष 2021 के विधानसभा चुनावों में भुगतनी होगी. बंगाल की जनता उनको सत्ता से उखाड़ फेंकेगी.

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस को भी आड़े हाथ लिया. श्री नड्डा ने कहा कि किसानों के कल्याण के मुद्दे को वर्षों तक टाला गया. कांग्रेस के चुनावी घोषणापत्र में इस बात का वादा किया गया था कि वह सत्ता में आयेंगे तो एपीएमसी को खत्म कर देंगे. लेकिन, सिर्फ इसलिए कि नरेंद्र मोदी जी ने इस पर अमल किया, वे दिखावे के लिए विरोध करने लगे हैं.

श्री नड्डा ने भाजपा नीत एनडीए सरकार की ओर से संसद में पेश और पारित किये गये कृषि संसोधन बिल का विरोध करने के लिए विपक्षी दलों को आड़े हाथ लिया. उन्होंने कहा कि विरोधी दल के नेता किसानों को गुमराह कर रहे हैं. नये कानून ने किसानों को अपना सामान अपनी मर्जी से बेचने की आजादी दी है. पहले वे एपीएमसी के गुलाम थे, अब अपनी मर्जी के मालिक होंगे.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें