24.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Water Crisis: ‘हिमाचल प्रदेश रिलीज करेगा 137 क्यूसेक पानी’, सुप्रीम कोर्ट के फैसले से दिल्ली को मिलेगी राहत

Water Crisis: सुप्रीम कोर्ट ने अहम फैसला सुनाते हुए हिमाचल प्रदेश को 137 क्यूसेक अतिरिक्त जल छोड़ने का निर्देश दिया है. जानें कोर्ट ने और क्या कहा

Water Crisis: दिल्ली जल संकट पर सुप्रीम कोर्ट ने अहम फैसला सुनाया है. गुरुवार को सुनवाई के दौरान कोर्ट ने हिमाचल प्रदेश को 137 क्यूसेक अतिरिक्त जल छोड़ने का निर्देश दिया और कहा कि हिमाचल प्रदेश द्वारा छोड़े गए अतिरिक्त पानी के प्रवाह को हरियाणा सुगम बनाने का काम करे.

दिल्ली जल संकट पर सुनवाई के दौरान शीर्ष कोर्ट ने कहा कि दिल्ली सरकार को पानी की बर्बादी नहीं करनी चाहिए. कोर्ट की ओर से हिमाचल प्रदेश को सात जून को अतिरिक्त जल छोड़ने का निर्देश दिया गया है, साथ ही उसे हरियाणा को पहले इसकी जानकारी देनी होगी.

02061 Pti06 02 2024 000053B
New delhi: people carry drinking water collected from a tanker of delhi jal board during a hot summer day, at a slum in geeta colony area, in east delhi

न्यायमूर्ति पी के मिश्रा और न्यायमूर्ति के वी विश्वनाथन की अवकाशकालीन पीठ ने मामले की सुनवाई करते हुए कहा कि हिमाचल प्रदेश सरकार को कोई आपत्ति नहीं है और वह उसके पास उपलब्ध अतिरिक्त जल छोड़ने को तैयार है.

02061 Pti06 02 2024 000055A
New delhi: a child arrives to collect drinking water from a tanker of delhi jal board during a hot summer day, at a slum in geeta colony area, in east delhi

पीठ की ओर से निर्देश दिया गया कि हिमाचल प्रदेश द्वारा छोड़े गए अतिरिक्त जल के प्रवाह को हरियाणा सुगम बनाए रखने में मदद करे ताकि जल राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली तक पहुंच सके.

02061 Pti06 02 2024 000056A
New delhi: people collect drinking water from a tanker of delhi jal board during a hot summer day, at a slum in geeta colony area, in east delhi

सुप्रीम कोर्ट ने स्पष्ट किया कि दिल्ली सरकार को पानी की बर्बादी नहीं करनी चाहिए. सुनवाई के दौरान पीठ ने कहा कि पानी पर कोई राजनीति नहीं होनी चाहिए.

02061 Pti06 02 2024 000050B
New delhi: people collect drinking water from a tanker of delhi jal board during a hot summer day, at a slum in geeta colony area, in east delhi

सुप्रीम कोर्ट ने मामले की अगली सुनवाई के लिए 10 जून की तारीख तय की है. आपको बता दें कि शीर्ष अदालत दिल्ली सरकार द्वारा दायर एक याचिका पर सुनवाई कर रही थी. इस याचिका में हरियाणा को यह निर्देश देने की मांग की गई थी कि वह हिमाचल प्रदेश द्वारा राष्ट्रीय राजधानी को उपलब्ध कराया जाने वाला अतिरिक्त जल छोड़े ताकि राजधानी में जारी जल संकट को कम किया जा सके.

02061 Pti06 02 2024 000049B
New delhi: a woman arrives to collect drinking water from a tanker of delhi jal board during a hot summer day, at a slum in geeta colony area, in east delhi

सुप्रीम कोर्ट में दाखिल याचिका में केंद्र, बीजेपी शासित हरियाणा और कांग्रेस शासित हिमाचल प्रदेश को पक्षकार बनाने का काम किया गया था, साथ ही कहा गया है कि जीवित रहने के लिए पानी जरूरी है और यह बुनियादी मानवाधिकारों में से एक है.

02061 Pti06 02 2024 000042B
New delhi: people collect drinking water from a tanker of delhi jal board during a hot summer day, at a slum in geeta colony area, in east delhi

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें