1. home Hindi News
  2. national
  3. the security of the president vice president and prime minister will be even more stark vvip aircraft air india one arrives in india from usa aml

राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री की सुरक्षा होगी अब और भी फौलादी, अमेरिका से आया वीवीआईपी विमान 'एअर इंडिया वन'

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
एयर इंडिया वन विमान
एयर इंडिया वन विमान
Photo: Twitter

Special Aircraft For PM Modi नयी दिल्ली : राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री हवाई यात्रा की सुरक्षा अब और भी ज्यादा फौलादी होगी. अमेरिका ने एक और विशेष विमान (Special Aircraft) आज शनिवार को भारत आ रहा है. बोइंग B-777 एयरक्राफ्ट का दूसरा स्पेशल विमान अमेरिका से भारत के लिए चल चुका है. इसी विमान से अब राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री हवाई यात्रा करेंगे. आज ही यह स्पेशल वीवीआईपी विमान भारत पहुंच जायेगा.

बोइंग 777 एयरक्राफ्ट का एक विमान अमेरिका ने इसी महीने की पहली तारिख को भारत को सौंपा था. जल्द की दूसरा विमान भी देने की बात हुई थी. आज वही दूसरा विमान भारत आ रहा है. अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस यह विमान अमेरिकी राष्ट्रपति के एयरफोर्स-वन के जैसा ही है. जो विमान एक अक्तूबर को भारत आया था उसका नाम एअर इंडिया वन रखा गया है.

इन विमानों की डिलिवरी जुलाई में ही होनी थी, लेकिन कोरोनावायरस संकट के बीच इसमें देरी हुई. दूसरी बार विमान के निर्माता बोइंग की ओर से कुछ तकनीकी अड़चनों के कारण देर हुई. हालांकि आज दूसरे विमान के आते ही यह डील पूरी हो जायेगी. एयर इंडिया के ये दोनों विमान 2018 में बेड़े का हिस्सा थे. जिसे वीवीआईपी यात्रा के लिए बोइंग ने फिर से मॉडिफाई किया है.

8,400 करोड़ रुपये में हुई थी डील

बोइंग से विमान प्राप्त करने के लिए एअर इंडिया के वरिष्ठ अधिकारी अगस्त 2020 में ही अमेरिका पहुंच गये थे. लेकिन उस समय विमान के निर्माण का काम पूरा नहीं हुआ था. अब अक्तूबर में भारत को दोनों विमान मिल गये हैं. ये दोनों विमान 2018 में कुछ महीनों के लिए एअर इंडिया के वाणिज्यिक बेड़े का हिस्सा थे, जिन्हें फिर वीवीआईपी यात्रा के लिए इसे विशेष रूप से पुनर्निमित करने के लिए बोइंग भेज दिया गया. दोनों विमानों की खरीद और इनके पुनर्निर्माण की कुल लागत लगभग 8,400 करोड़ रुपये आंकी गई है.

अत्याधुनिक सुरक्षा उपकरणों से लैस है विमान

दोनों वीवीआईपी विमान अत्याधुनिक सुरक्षा उपकरणों से लैस हैं. एयरफोर्स वन की ही तरह दोनों विमानों को हाईटेक बनाया गया है. बी-777 विमानों में अत्याधुनिक मिसाइल रोधी प्रणाली लगी है, जिसे लार्ज एयरक्राफ्ट इन्फ्रारेड काउंटरमेजर्स और सेल्फ-प्रोटेक्शन सूट्स (एसपीएस) कहा जाता है. इस विमान में ऐसे उपकरण लगे हैं जो किसी भी हमले की सूचना पहले ही दे देंगे. विमान इतना मजबूत है कि इसपर किसी भी हमले का कोई असर नहीं होता है. यहां तक कि मिसाइल हमले भी इसपर बेकार हैं.

इस विमान की रफ्तार 900 किलोमीटर प्रति घंटे है. इसमें हवा में ईंधन भरा जा सकता है. एक बार टैंक फूल करने के बाद यह विमान भारत से अमेरिका तक की दूरी तय कर सकता है. इसके आगे ऐसे जैमर लगे हैं तो दुश्मन के शक्तिशाली राडार को भी निष्क्रिय कर सकते हैं. वीवीआईपी की यात्रा के दौरान, दोनों बी-777 विमानों को एअर इंडिया के पायलट नहीं, बल्कि भारतीय वायु सेना (आईएएफ) के पायलट उड़ाएंगे. वर्तमान में, राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री एअर इंडिया के बी747 विमानों से यात्रा करते हैं.

Posted By: Amlesh Nandan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें