26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Maharashtra Politics: ‘कमिश्नर से कॉन्स्टेबल पर डिमोशन’, संजय राउत का देवेंद्र फडणवीस पर तंज

संजय राउत ने कहा, महाराष्ट्र की राजनीति में आज सबसे दुखी और असंतुष्ट उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस हैं. राउत ने मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे पर हमला करते हुए कहा, जिसको जहां जाना था, चले गये. जहां गये हैं, वहां सुख-शांति से रहिए.

महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस द्वारा शिवसेना (यूबीटी) गुट में असंतोष का दावा करने पर, पार्टी नेता संजय राउत ने फडणवीस पर पलटवार करते हुए राज्य में सबसे असंतुष्ट राजनेता बता दिया.

कमिश्नर से कॉन्स्टेबल पर डिमोशन: फडणवीस पर राउत का तंज

संजय राउत ने कहा, जाओ और देवेंद्र फडणवीस से पूछो कि वह कितने संतुष्ट हैं. उन्होंने कहा, वह मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने जा रहे थे और उन्हें रोक दिया गया और कहा गया कि आप मुख्यमंत्री नहीं, आप डिप्टी सीएम बनेंगे. उन्हें राजनीति में उनके जूनियर का डिप्टी बना दिया गया. ऐसा आदमी संतुष्ट हो सकता है क्या? संजय राउत ने तंज कसते हुए कहा, एक हवलदार को सिपाही बना दिया गया, एक कमिश्नर को हवलदार बना दिया गया.

महाराष्ट्र की राजनीति में फडणवीस से अधिक कोई असंतुष्ट नहीं : संजय राउत

संजय राउत ने कहा, महाराष्ट्र की राजनीति में आज सबसे दुखी और असंतुष्ट उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस हैं. राउत ने मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे पर हमला करते हुए कहा, जिसको जहां जाना था, चले गये. जहां गये हैं, वहां सुख-शांति से रहिए.

Also Read: 3 साल तक शिवसेना-NCP-कांग्रेस की अच्छी चली शादी, फिर अचानक क्या हुआ ? CJI ने शिंदे गुट से पूछा सवाल

पूरा उद्धव ठाकरे गुट ही असंतुष्ट है : फडणवीस

महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से जब संवाददाताओं ने पूछा गया कि उद्धव ठाकरे गुट लगातार दावा कर रहा है कि 9 सांसद और 22 विधायक सरकार से असंतुष्ट हैं. इसपर फडणवीस ने कहा, पूरा उद्धव ठाकरे गुट ही असंतुष्ट है. वहां जितनी असंतुष्टि है उतनी और कहीं नहीं है.

शिवसेना (यूबीटी) का दावा, शिंदे के 22 विधायक, 9 सांसद छोड़ सकते हैं पार्टी

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली शिवसेना (यूबीटी) ने मंगलवार को दावा किया कि मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के नेतृत्व वाली शिवसेना के 22 विधायक और नौ सांसद भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सौतेले व्यवहार के कारण घुटन महसूस कर रहे हैं और वे पार्टी छोड़ सकते हैं. शिवसेना सांसद गजानन कीर्तिकर द्वारा उनकी पार्टी के साथ सौतेला व्यवहार किए जाने संबंधी बयान दिए जाने के बीच शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ में प्रकाशित लेख में शिंदे समूह के विधायकों एवं सांसदों को भाजपा के पिंजरे में कैद मुर्गे- मुर्गियां करार दिया और कहा कि इनके गले पर कब छुरियां चल जाएं, इस बारे में कुछ कहा नहीं जा सकता.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें