1. home Hindi News
  2. national
  3. punjab congress crisis resolved harish rawat new formula siddhu become punjab congress president cm captain amrinder singh prt

पंजाब के सीएम बने रहेंगे अमरिंदर सिंह, सिद्धू को मिलेगी ये अहम जिम्मेदारी, कांग्रेस आलाकमान ने दिया फार्मूला

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Punjab Congress Crisis resolve
Punjab Congress Crisis resolve
File
  • पंजाब कांग्रेस में हुआ सबकुछ ठीक

  • हरीश रावत ने बताया सुलह का रास्ता

  • इस फार्मूले पर बनी बात

Punjab Congress Crisis resolve: लगता है पंजाब का सियासी संकट अब खत्म हो गया है. कांग्रेस आलाकमान के नये फार्मूले से सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू भी खुश नजर आ रहे हैं. इस फार्मूले के तहत पंजाब के सीए कैप्टन अमरिंदर सिंह बने रहेंगे. और नवजोत सिंह सिद्धू को पंजाब कांग्रेस का अध्यक्ष बनाया जाएगा. कांग्रेस नेता हरीश रावत ने इसकी जानकारी दी.गौरतलब है कि काफी समय से पंजाब कांग्रेस में राजनीतिक गतिरोध चल रहा था. सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह खेमा और सिद्धू के बीज काफी खींचतान चल रही थी.

हरीश रावत ने क्या कहा: कांग्रेस नेता हरीश रावत ने कहा कि पंजाब के सीए कैप्टन अमरिंदर सिंह मुख्यमंत्री बने रहेंगे. और आनेवाले चुनाव में भी वो पार्टी का चेहरा बनेंगे. वहीं, प्रदेश अध्यक्ष का पद अब नवोजत सिंह सिद्धू संभालेंगे. बता दें, हरीश रावत कांग्रेस आलाकमान की ओर से पंजाब कलह को सुलझाने के लिए बनाई गई सुलह कमेटी के सदस्य हैं. इसके अलावा हरीश रावत ने यह भी कहा कि, दो प्रदेश कार्यकारी भी बनाए जा सकते हैं. जिसमें से एक हिंदू सवर्ण समुदाय और दूसरा दलित समुदाय से होगा.

कैसे निकला सुलह का रास्ता: पंजाब कांग्रेस में विवाद को देखते हुए कांग्रेस आलाकमान में बीते कई दिनों से बैठकें आयोजित हो रही थी. बीते दिनों सिद्धू ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी से मुलाकात की थी. वहीं, सीएम केप्टन अमरिंदर सिंह ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात कर मौजूदा समस्या से उन्हें अवगत कराया था. जिसके बाद काफी मंथन के बाद सुहल का फार्मूला तैयार किया गया.

गौरलब है कि बीजेपी से कांग्रेस में शामिल होने के बाद से ही सिद्धू का कैप्टन अमरिंदर सिंह से विवाद गहराता जा रहा था. पंजाब में कांग्रेस का विवाद इतना बढ़ गया था कि कांग्रेस हाईकमान को बीच में आना पड़ा. लेकिन अब लगता है पंजाब कांग्रेस सुलह के रास्ते पर आ गयी है. और इस फैसले से सिद्धू और कैप्टन गुट दोनों खुश है.

Posted by: Pritish Sahay

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें