1. home Hindi News
  2. national
  3. protests in jammu and kashmir against the killing of rahul bhatt vwt

राहुल भट्ट की हत्या के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन, कश्मीरी पंडितों की सुरक्षा पर शिवसेना ने उठाए सवाल

गुरुवार को जम्मू-कश्मीर के बडगाम जिले के चदूरा स्थित तहसीलदार कार्यालय में घुसकर आतंकियों ने कर्मचारी राहुल भट्ट को गोलियों से भून दिया था, जिसके बाद उनकी मौत हो गई थी. शुक्रवार को राहुल भट्ट का बंतलाब में अंतिम संस्कार कर दिया गया.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
जम्मू-कश्मीर के बडगाम में प्रदर्शनकारियों पर आंसू गैस का प्रयोग करती पुलिस
जम्मू-कश्मीर के बडगाम में प्रदर्शनकारियों पर आंसू गैस का प्रयोग करती पुलिस
फोटो : ट्विटर

नई दिल्ली/श्रीनगर : जम्मू-कश्मीर के बडगाम जिले के चदूरा में तहसीलदार कार्यालय में आतंकवादियों के हमले में कर्मचारी राहुल भट्ट की मौत के बाद घाटी में विरोध-प्रदर्शन शुरू हो गया है. बताया जा रहा है कि आतंकवादियों ने तहसील कार्यालय में पहुंचकर राहुल का नाम पूछकर गोलियां दागीं थीं. हालांकि, शुक्रवार को कश्मीरी पंडित राहुल भट्ट का अंतिम संस्कार कर दिया गया है.

प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे

बडगाम के एयरपोर्ट पर कश्मीरी पंडित राहुल भट्ट की हत्या के विरोध में प्रदर्शन कर रहे लोगों पर पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे. राहुल की हत्या के विरोध में बडगाम और शेखपोरा में लोगों का विरोध-प्रदर्शन जारी है. इस बीच, शिवसेना के सांसद संजय राउत ने घाटी में कश्मीरी पंडितों की सुरक्षा को लेकर सवाल खड़े किए हैं. उन्होंने सुझाव दिया है कि इस बारे में गृह मंत्रालय को गंभीरता से विचार करना होगा.

आतंकियों ने ऑफिस में घुसकर मारी थी राहुल को गोली

बता दें कि गुरुवार को जम्मू-कश्मीर के बडगाम जिले के चदूरा स्थित तहसीलदार कार्यालय में घुसकर आतंकियों ने कर्मचारी राहुल भट्ट को गोलियों से भून दिया था, जिसके बाद उनकी मौत हो गई थी. शुक्रवार को राहुल भट्ट का बंतलाब में अंतिम संस्कार कर दिया गया. इस दौरान एडीजीपी जम्मू जोन मुकेश सिंह, संभागीय आयुक्त जम्मू रमेश कुमार और डीसी जम्मू अवनी लवासा भी इस दौरान मौजूद रहे.

राहुल भट्ट की हत्या के विरोध में सरकारी कर्मचारियों का विरोध-प्रदर्शन

उधर, बडगाम के चदूरा स्थित तहसीलदार कार्यालय के कर्मचारी की आतंकियों द्वारा की गई हत्या के विरोध में शुक्रवार को घाटी में विभिन्न जगहों पर सरकारी कर्मचारियों का विरोध-प्रदर्शन भी शुरू हो गया है. खबर है कि जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग, बडगाम और शेखपोरा में सरकारी कर्मचारियों ने हत्या के विरोध में प्रदर्शन शुरू कर दिया है. जम्मू-कश्मीर में कश्मीरी पंडितों की हालिया हत्याओं के विरोध में प्रदर्शन करते हुए बडगाम के एयरपोर्ट रोड की ओर बढ़ रहे प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे.

एसपीओ की गोली मारकर हत्या

इतना ही नहीं, आतंकवादियों ने शुक्रवार को भी पुलवामा में पुलिस के विशेष अधिकारी रियाज अहमद थोकर की गोली मारकर हत्या कर दी. शुक्रवार की सुबह आतंकवादियों ने उनपर गोलियां दाग दी थी. बाद में इलाज के दौरान रियाज अहमद थोकर की मौत हो गई. आतंकवादियों ने गुदूरा पुलवामा में पुलिस के विशेष अधिकारी को गोली मारी थी.

शिवसेना ने कश्मीरी पंडितों की सुरक्षा पर उठाए सवाल

राहुल भट्ट की हत्या पर शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि कश्मीरी पंडितों की घर वापसी हो रही थी. उन्होंने कहा कि पिछले सात सालों में कितने कश्मीरी पंडितों की घर वापसी हुई, इसका तो पता नहीं. लेकिन, जो लोग वहां रह रहे हैं, उन्हें भी रहने नहीं दिया जा रहा है. उनकी भी हत्या की जा रही है. उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि गृह मंत्री को इस बारे में गंभीरता से विचार करना चाहिए.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें