1. home Hindi News
  2. national
  3. prime minister narendra modi inaugurate maitri setu between india and bangladesh multiple infrastructure projects in tripura rkt

Maitri Setu : PM मोदी आज भारत और बांग्लादेश के बीच करेंगे मैत्री सेतु का उद्घाटन, व्यापार बढ़ने के साथ देश को होंगे ये फायदे

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
PM मोदी आज भारत और बंग्लादेश के बीच करेंगे मैत्री सेतु का उद्घाटन
PM मोदी आज भारत और बंग्लादेश के बीच करेंगे मैत्री सेतु का उद्घाटन
PTI

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए भारत (India) और बांग्लादेश (Bangladesh) के बीच मैत्री सेतु (Maitri Setu) का उद्घाटन करेंगे. प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) द्वारा जारी एक बयान में कहा गया है कि वह त्रिपुरा में कई बुनियादी ढांचा परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास करेंगे. यह पुल फेनी नदी पर बनाया गया है जो त्रिपुरा और बांग्लादेश में भारतीय सीमा के बीच बहती है, जो भारत और बांग्लादेश के बीच बढ़ते द्विपक्षीय संबंधों को और भी मजबूत करगी.

बता दें कि भारत और बांग्लादेश के मैत्रीपूर्ण संबंधों का प्रतीक के रूप में इस पुल को मैत्री सेतु का नाम दिया गया है. 1.9 किलोमीटर लंबा यह पुल भारत में सबरूम और बांग्लादेश के रामगढ़ को जोड़ेगा. पीएमओ ने बताया कि इस पुल का निर्माण 133 करोड़ रुपये की लागत से राष्ट्रीय राजमार्ग और बुनियादी ढांचा विकास निगम लिमिटेड द्वारा किया गया है. इस पुल के साथ भारत और बांग्लादेश के बीच व्यापार और लोगों की आवाजाही के लिए एक नया अध्याय शुरू होगा.

इस पुल के शुरू होने से त्रिपुरा 'गेटवे ऑफ नॉर्थ ईस्ट' बनने की दिशा में कदम बढ़ायेगा, क्योकिं यह बांग्लादेश के चटगांव बंदरगाह मात्र 80 किमी दूर है. इस पुल का निर्माण साल 2017 में शुरू किया गया था और 2020 में पूरा होना था, लेकिन कोरोना महामारी (Coronavirus) के कारण इसमें देरी हुई. पुल के उद्घाटन के बाद प्रधान मंत्री सबरूम में एक एकीकृत चेक पोस्ट की भी आधार शिला रखेंगे.

बता दें कि परियोजना का उद्देश्य दोनों देशों के बीच माल और यात्रियों की आवाजाही को आसान बनाना है, उत्तर-पूर्व राज्यों के उत्पादों के लिए नए बाजार के अवसर प्रदान करना और भारत और बांग्लादेश से यात्रियों की निर्बाध आवाजाही में सहायता करना है.'मैत्री सेतु' भारत और बांग्लादेश के बीच बढ़ते द्विपक्षीय संबंधों और मैत्रीपूर्ण संबंधों का प्रतीक है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें