1. home Hindi News
  2. national
  3. pm modi inaugurates three hitec labs of covid 19 says scientists of the country are working fast on corona vaccine

पीएम मोदी ने किया कोविड-19 के तीन हाईटेक लैब का उद्घाटन, कहा- देश के वैज्ञानिक तेजी से कोरोना वैक्सीन पर कर रहे हैं काम

By Agency
Updated Date
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को कोविड-19 की जांच के लिए आईसीएमआर की तीन नयी उच्च क्षमता की जांच सुविधाओं का वीडियो कांफ्रेस के माध्यम से उद्घाटन  किया.
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को कोविड-19 की जांच के लिए आईसीएमआर की तीन नयी उच्च क्षमता की जांच सुविधाओं का वीडियो कांफ्रेस के माध्यम से उद्घाटन किया.
Twitter

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को कोविड-19 की जांच के लिए आईसीएमआर की तीन नयी उच्च क्षमता की जांच सुविधाओं का वीडियो कांफ्रेस के माध्यम से उद्घाटन किया. इस अवसर पर उन्होंने कहा कि कि नोएडा, मुंबई और कोलकाता में बनी ये हाईटेक लैब न केवल कोरोना से बल्कि दूसरी बीमारियों के खिलाफ जंग में भी मददगार साबित होंगी. कोरोन वैक्सीन पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि देश के वैज्ञानिक तेजी से इस दिसा में काम कर रहे हैं. दिल्‍ली-एनसीआर, मुंबई और कोलकाता आर्थिक गतिविधियों के सेंटर हैं. यहां देश के लाखों युवा अपने करियर, अपने सपनों को पूरा करने आते हैं

इनमें से एक जांच सुविधा केंद्र नोएडा स्थिति नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ कैंसर प्रिवेंशन ऐंड रिसर्च में स्थापित किया गया है. लखनऊ में जारी एक सरकारी बयान के मुताबिक इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र व पश्चिम बंगाल को उच्च क्षमता की जांच सुविधा उपलब्ध कराने के लिए प्रधानमंत्री मोदी का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि इन सुविधाओं से बड़ी संख्या में कोविड-19 की जांच की जा सकेगी.

इससे जांच के समय में भी कमी आएगी तथा टेक्नीशियन में संक्रमण की आशंका भी कम होगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में देश कोविड-19 के संक्रमण से मजबूती से लड़ रहा है. प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में प्रदेश में जांच क्षमता तेजी से बढ़ी है. 23 मार्च को राज्य में 72 जांच हुए थे. कल, 26 जुलाई को एक लाख छह हजार से अधिक जांच किए गए हैं. उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश में आरटी-पीसीआर, ट्रूनेट मशीन तथा रैपिड एन्टीजन किट के माध्यम से जांच किए जा रहे हैं.

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अप्रैल, 2020 में राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिदिन लगभग छह हजार जांच किए जा रहे थे. इसमें प्रदेश का योगदान छह प्रतिशत था. जुलाई, 2020 में राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिदिन सम्पन्न होने वाली कोविड-19 की जांचों में राज्य का योगदान बढ़कर 15 प्रतिशत हो गया है. इसे बढ़ाकर 20 प्रतिशत किया जाएगा.

posted by : sameer oraon

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें