1. home Hindi News
  2. national
  3. omicron symptom beware rashes on the skin and this symptom of omicron rts

Omicron symptom: सावधान! स्किन पर रैशेज के अलावा दिख रहे हैं यह लक्षण तो हो सकता है 'ओमिक्रॉन'

कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन को लेकर काफी जानकारियां सामने आ चुकी है. वहीं, इस वैरिएंट की वजह से स्किन पर रैशेज असामान्य लक्षणों में एक है. विशेषज्ञों ने इसे लेकर सतर्क रहने की चेतावनी दी है. आइए जानते हैं क्या है ओमिक्रॉन के लक्षण...

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
ओमिक्रॉन के लक्षण
ओमिक्रॉन के लक्षण
प्रतिकात्मक तस्वीर

कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन ने जिस तेजी से संक्रमण फैलाया है उसे देखकर हर कोई हैरान है. दुनिया के 121 देशों में फैल चुका यह वैरिएंट भारत के आधे से ज्यादा राज्यों तक पहुंच चुका है. देश में ओमिक्रॉन का आंकड़ा 1000 के पार चला गया है. ऐसे में सावधानी के साथ साथ सतर्कता बरतना बेहद जरूरी है. विशेषज्ञों के अनुसार ओमिक्रॉन डेल्टा से कम घातक है लेकिन इसके संक्रमण की रफ्तार काफी ज्यादा है. यह किसी को भी बहुत जल्द संक्रमित कर सकता है. वहीं, डेल्टा और ओमिक्रॉन के लक्षणों में भी अलग देखने को मिल रहे हैं. स्वास्थ्य विशेषज्ञ इसके लक्षणों पर ध्यान देने की सलाह दे रहे हैं.

क्या हैं ओमिक्रॉन के असामान्य लक्षण: स्वास्थ्य विशेषज्ञों की मानें तो ओमिक्रॉन के कई लक्षण सामने आ चुके हैं. जिसकी पहचान की जा चुकी है. हालांकि एक ऐसा भी लक्षण है, जिसपर लोगों का ध्यान नहीं गया है. दरअसल स्किन पर इस वैरिएंट की वजह से रैशेज हो सकते हैं. विशेषज्ञों ने स्किन पर विशेष ध्यान देने की सलाह दी है. ZOE कोविड लक्षण स्टडी एप की मानें तो कई ओमिक्रॉन संक्रमित लोगों ने स्किन पर रैशेज यानी चकत्ते होने शिकायत की है.

किस तरह के स्कीन रैशेज हो रहे हैं?: विशेषज्ञों के अनुसार ओमिक्रॉन में दो तरह के स्किन रैशेज हो रहे हैं. जिसमें पहला स्किन रैशेज बहुत ही ज्यादा उभरा हुआ है. यह अनाचक उभरते हैं. ये छोटे छोटे दानों की तरह हो सकते हैं. जिसमें तेज खुजली भी होती है. आमतौर रैशेज की खुजली पैरों के तलवों या हथेलियों पर उभरे होते हैं. वहीं, दूसरी तरह के रैशेज घमौरी की जैसे दिखाई देते हैं. जो पूरे शरीर मे फैल जाता है. ये रैशेज हाथ की कोहनी, पैरों के घुटनों और हाथ पैरों के दूसरे स्किन पर ज्यादा पाए जाते हैं.

इन लक्षणों पर भी दें ध्यान: डॉ डेविड लॉयड ने द सन से बातचीत में कहा कि उन्होंने ओमिक्रॉन के करीब 15 फीसदी युवा मरीजों में रैशेज की समस्या देखी है. इसके अलावा थकान, सिरदर्द और भूख ना लगने जैसी समस्या भी सामने आ रही है. विशेषज्ञों के अनुसार रैशेज के साथ साथ इन लक्षणों की भी पहचान करना बेहद जरूरी है.

कोरोना के मुख्य लक्षण ओमिक्रॉन में नहीं: कोरोना के दूसरे मुख्य लक्षण ओमिक्रॉन में दिखाई नहीं दे रहे हैं. दरअसल कोरोना के मुख्य लक्षणों में लगातार खांसी, तेज बुखार और स्वाद गंध का चला जाना है. ZOE कोविड लक्षण स्टडी एप के अनुसार ओमिक्रॉन के लक्षण इसके चपेट में आने के 48 घंटे के अंदर दिखाई देते हैं. नाक बहना, गले में चुभन, सिर दर्द, थकान और छींक ये ओमिक्रॉन के सामान्य लक्षण हैं जो संक्रमितों में दिखते हैं. वहीं, इसके बेहद खास लक्षणों में पीठ के निचले हिस्से में दर्द, मांसपेशियों में दर्द और रात में पसीना आना है. हालांकि इन लक्षणों के अधिक गंभीर होने के संकेत अभी तक नहीं मिले हैं. वैक्सीन नहीं लेने वालों में इसके गंभीर रूप लेने की संभावना बनी हुई है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें