26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर को स्टेज-2 का कैंसर, लिखा भावुक पोस्ट

नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर सिद्धू ने एक ट्वीट में आगे लिखा कि आपको बार-बार इंसाफ से वंचित होते देख आपका इंतजार किया. सच्चाई इतनी ताकतवर होती है, लेकिन बार-बार आपकी परीक्षा लेने का काम करती है...

जेल में बंद पंजाब के पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) की पत्नी नवजोत कौर सिद्धू (Navjot Kaur Sidhu) को लेकर जो खबर आ रही है, वो चिंता बढ़ाने वाली है. दरअसल, नवजोत कौर सिद्धू को स्टेज 2 कैंसर का पता चला है जिसकी जानकारी उन्होंने खुद सोशल मीडिया पर दी है.

इस बीच नवजोत कौर ने अपने पति नवजोत सिंह सिद्धू के लिए भावुक ट्वीट किया है. उन्होंने कहा है कि वह अपने पति के इंतजार में है जो शायद उनसे ज्यादा पीड़ित हैं. उन्होंने लिखा कि मेरे पति नवजोत सिंह सिद्धू उस अपराध के लिए जेल में कैद है जो उन्होंने कभी किया ही नहीं है. अपराध में शामिल सभी लोगों को माफ करें….हर दिन आपका इंतजार करना शायद आपसे ज्यादा तकलीफ देता है.

यह स्टेज 2 कैंसर है

नवजोत कौर सिद्धू ने एक ट्वीट में आगे लिखा कि आपको बार-बार इंसाफ से वंचित होते देख आपका इंतजार किया. सच्चाई इतनी ताकतवर होती है, लेकिन बार-बार आपकी परीक्षा लेने का काम करती है… कलयुग… सॉरी आपका इंतजार नहीं कर सकती, क्योंकि यह स्टेज 2 कैंसर है… किसी को दोष नहीं दिया जाना चाहिए, क्योंकि यह भगवान का दिया हुआ है.. भगवान आपके लिए ठीक ही सोचता है…

Also Read: नवजोत सिंह सिद्धू का डायट चार्ट: जेल के अंदर आंख खुलते ही मिलेगा ये खाने को और रात में दिया जाएगा इसबगोल
जेल में बंद हैं सिद्धू

आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने मई 2022 में सिद्धू को 1988 के रोड रेज डेथ केस में एक साल के सश्रम कारावास की सजा सुनाई थी. उस समय से वह पटियाला केंद्रीय जेल में बंद है. उनपर आरोप था कि पटियाला में 27 दिसंबर 1988 को एक चौराहे पर दूसरे कार के बुजुर्ग ड्राइवर से उनका विवाद हो गया था. कहासुनी के दौरान सिद्धू ने जबरन ड्राइवर को अपनी कार से उतार दिया और उसे घूंसों से जमकर मारा. 1988 में हुई रोड रेज की इस घटना में सिद्धू के मुक्के के प्रहार से बुजुर्ग ने दम तोड़ दिया था.

इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने पहले सिद्धू को गैर-इरादतन हत्या से बरी कर दिया था. यही नहीं एक हजार रुपये का जुर्माना लगाया था. लेकिन इस मामले में रिव्यू पिटीशन पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने सिद्धू को एक साल की सजा सुना दी. इसके बाद नवजोत सिंह सिद्धू ने 20 मई को सरेंडर कर दिया था.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें