1. home Home
  2. national
  3. narendra modi govt cuts nrega budget intention is that poor do not stand on their feet mallikarjun kharge mtj

गरीब अपने पैरों पर खड़े न हो सकें, इसलिए NREGA बजट में नरेंद्र मोदी सरकार ने की कटौती, बोले मल्लिकार्जुन खड़गे

कोरोना के आंकड़े छिपाने का गंभीर आरोप लगाने के बाद मल्लिकार्जुन खड़गे ने नरेंद्र मोदी सरकार पर फिर हमला बोला है. कहा कि गरीब अपने पैरों पर खड़े न हो सकें, इसलिए सरकार नरेगा का बजट घटा रही है. डिटेल रिपोर्ट...

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे
राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे
Twitter

नयी दिल्ली: वरिष्ठ कांग्रेस नेता और राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर फिर बड़ा हमला बोला है. उच्च सदन में विरोधी दल के नेता ने कहा है कि नरेंद्र मोदी की सरकार नहीं चाहती कि गरीब अपने पैरों पर खड़े हो सकें. इसलिए महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (MNREGA) के बजट में लगातार कटौती की जा रही है.

मल्लिकार्जुन खड़गे ने गुरुवार को कहा कि जब से मोदी की सरकार सत्ता में आयी है, उसने निरंतर नरेगा के बजट (NREGA Budget) में कटौती की है. श्री खड़गे ने जोर देकर कहा कि इसका एकमात्र उद्देश्य गरीबों को अपने पैरों पर खड़ा नहीं होने देना है. मोदी सरकार नहीं चाहती कि गरीब अपने पैरों पर खड़े हो सकें और स्वाभिमान के साथ अपना जीवन व्यतीत कर सकें.

मोदी पर फिर बरसे खड़गे

  • सत्ता में आने के बाद से ही नरेंद्र मोदी सरकार घटा रही नरेगा का बजट

  • कोरोना के दौरान अपने घर आये गरीबों को नहीं मिल रहा रोजगार

  • 1.10 लाख करोड़ से घटकर 73 हजार करोड़ रह गया नरेगा का बजट

राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष ने यह भी आरोप लगाया कि सरकार नहीं चाहती कि गरीबों का जीवन स्तर सुधरे. उन्हें अपने घर के आसपास ही रोजगार मिले. यही वजह है कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की इस सरकार ने मनरेगा के बजट में निरंतर कटौती की है. उन्होंने कहा कि वर्ष 2020-21 में नरेगा का बजट 1.10 लाख करोड़ रुपये था, जो अब घटकर 73 हजार करोड़ रुपये रह गया है.

राज्यसभा के वरिष्ठ नेता ने कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना के दौरान लोग अलग-अलग राज्यों और शहरों से अपने घर लौटे. इन्हें काम की जरूरत होगी. लेकिन, मोदी सरकार की नीतियों की वजह से उन्हें रोजगार नहीं मिल रहा है. दूसरी तरफ, यह सरकार नरेगा के बजट में कटौती भी कर दी है. इससे गरीबों की समस्या और बढ़ गयी है.

मोदी सरकार पर आंकड़े छुपाने के आरोप

एक दिन पहले ही मल्लिकार्जुन खड़गे ने मोदी सरकार पर किसानों का अपमान करने का आरोप लगाया था. साथ ही दावा किया था कि केंद्र सरकार आंकड़ों को दबा रही है. उन्होंने कहा था कि कोरोना की वजह से 50 लाख से अधिक लोगों की अब तक भारत में मौत हो चुकी है, लेकिन मोदी सरकार मरने वालों की संख्या महज 4 लाख रुपये से ज्यादा बता रही है.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें