1. home Hindi News
  2. national
  3. motera stadium narender modi motera stadium world largest criket ground special features india vs england third test match motera stadium ki khasiyat all details here pwn

मोटेरा स्टेडियम का नाम नरेंद्र मोदी के नाम पर रखा गया, दुनिया के सबसे बड़े स्टेडियम की जानिए खासियत

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
दुनिया के सबसे बड़े स्टेडियम की जानिए खासियत
दुनिया के सबसे बड़े स्टेडियम की जानिए खासियत
Twitter/ANi
  • मोटेरा स्टेडियम का नाम होना नरेंद्र मोदी स्टेडियम

  • दुनिया के सबसे बड़े स्टेडियम का हुआ उद्घाटन

  • एक लाख 10 हजार लोगों के बैठने की है क्षमता

मोटेरा स्टेडियम का नाम नरेंद्र मोदी स्टेडियम हो गया है. आज रामनाथ कोविंद ने इसका उद्घाटन किया. उद्घाटन के मौके पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि इस स्टेडियम के बन जाने के बाद अब अहमदाबाद खेल का शहर (Sports City) के नाम से जाना जायेगा. साल 2014 के बाद यहां पर पहली बार इंटरनेशनल मैच का आयोजन किया जा रहा है. भारत और इंग्लैंड के बीच हो रहे टेस्ट सीरीज का तीसरा मैच यहां खेला जायेगा जो डे-नाइट मैच होगा. साथ ही यहां पर गुलाबी गेंद से खेला जाएगा.

इस ग्राउंड में अबतक भारत ने अब तक 12 टेस्ट खेले हैं जिनमें से 4 में भारत को जीत मिली है. दो मैच ड्रा हुए हैं. इसके अलावा दो मैंचों में भारत को यहां हार का सामना करना पड़ा है. इस स्टेडियम का निर्माण कार्य 2015 में शुरू हुआ और 2020 में पूरा किया गया.आइए जानते हैं क्या है मोटेरा की खासियत.

मोटेरा दुनिया का सबसे बड़ा स्टेडियम है. यहां एक साथ एक लाख 10 हजार दर्शक बैठकर मैच का मजा ले सकते हैं. इस स्टेडियम में दुनिया की तमाम अत्याधुनिक सुविधाएं मौजूद है. इससे पहले इस मैदान में 53000 हजार लोगों के बैठने की व्यवस्था है.

अहमदाबाद का मोटेरा स्टेडियम दुनिया का पहला ऐसा स्टेडियम है, जहां पर 11 मल्टीपल पिच हैं. इसके पिच निर्माण के दौरान 5 पिच में लाल मिट्टी का इस्तेमाल किया गया है बाकी 6 पिच के निर्माण में काली मिट्टी का प्रयोग किया गया है. इसके साथ ही यहां मेन ग्राउंड के साथ अलग से प्रैक्टिस ग्राउंड भी है.

इस स्टेडियम के निर्माण में 700 करोड़ रुपये की लागत आयी है. इसके अंदर एक ओलिंपक साइज का स्विमिंग पुल भी है. 63 एकड़ के क्षेत्रफल में फैले इस स्टेडियम में चार ड्रेसिंग रूम हैं.

इस मैदान की सबसे बड़ी खासियत यह है कि यहां पर बारिश होने पर भी अब मैच रद्द नहीं किया जाएगा. क्योंकि इस मैदान में सॉइल ड्रेनेज सिस्टम इस तरह से बनाया गया है कि मात्र 30 मिंनट में मैदान सूख जाएगा. आठ सेमी बारिश होने पर भी यहां पर मैच रद्द नहीं होंगे.

इस स्टेडियम में एक साथ एक लाख 10 हजार लोग बैठकर मैच देख पायेंगे. आस्ट्रेलिया के मेलबर्न स्टेडियम में एक साथ एक लाख लोग मैच देख सकते हैं. इस लिहाज से भारत के पास दुनिया का सबसे बड़ा स्टेडियम है जिसकी बैठने की क्षमता सबसे ज्यादा है.

इस स्टेडियम में फ्लड लाइट का इस्तेमाल नहीं होगा. इसकी जगह पर यहां पर एलईडी लाइट का इस्तेमाल किया जायेगा. स्टेडियम की बाउंड्री पर एलईडी लाइट के इस्तेमाल से खिलाड़ियों को रात में भी बॉल देखने में कोई परेशानी नहीं होगी. एलईडी लाइट्स के इस्तेमाल से परछाई नहीं बनती है.

स्टेडियम में ड्रेसिंग रूम के साथ जिम भी अटैच्ड है. इससे खिलाड़ी को अब जिम के लिए दूसरे जगह नहीं जाना पड़ेगा. स्टेडियम में 6 इनडोर पिच हैं, जहां बॉलिंग मशीन लगे हुए हैं.

स्टेडियम का स्ट्रक्चर ऐसा बना हुआ है कि स्टेडियम में बैठा हर एक व्यक्ति खिलाड़ी द्वारा बाउंड्री मारे जाने पर उस बाउंड्री को देख सकता है.

स्टेडियम में तीन एंट्री गेट हैं. तीन प्रैक्टिस ग्राउंड हैं. क्लब हाउस है और एक इनडोर क्रिकेट एकेडमी बनायी हुई है.

स्टेडियम के पास दो मेट्रो लाइन लाई गयी है साथ ही 4 हजार कार और 10 हजार दोपहिया वाहन के पार्किंग की व्यवस्था की गयी है. स्टेडियम में प्रवेश और निकास के लिए अलग-अलग इंतजाम है.

Posted By: Pawan Singh

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें