1. home Home
  2. national
  3. money from drug trafficking is being used for terror activities in kerala catholic bishops council mtj

केरल में गैर-मुस्लिमों को बर्बाद करने का हथियार बना ‘लव-नारकोटिक्स जिहाद’, सरकार पर बरसा KCBC

KCBC ने कहा है कि जांच एजेंसियों ने जिन संगठनों के बारे में सरकार को जानकारी दी है, उनकी जांच कराये जाने की जरूरत है. जो जानकारियां जांच एजेंसियों ने दी हैं, वे चौंकाने वाली हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
केरल सरकार पर बरसा कैथोलिक बिशप काउंसिल
केरल सरकार पर बरसा कैथोलिक बिशप काउंसिल
Social Media

तिरुवनंतपुरम: केरल कैथोलिक बिशप काउंसिल (KCBC) ने केरल सरकार को आगाह करते हुए कहा है कि प्रदेश आज कई सामाजिक संकट से जूझ रहा है. इसमें सबसे खतरनाक संकट है केरल में चल रही आतंकवादी गतिविधियां. इतना ही नहीं, इस प्रदेश में नशीले पदार्थों (ड्रग्स) का सेवन भी बड़ी चुनौती के रूप में उभरा है. कई जांच एजेंसियों की ओर से बार-बार दी गयी जानकारी के बावजूद राज्य सरकार इन मामलों की कोई जांच नहीं करवा रही है.

KCBC ने कहा है कि जांच एजेंसियों ने जिन संगठनों के बारे में सरकार को जानकारी दी है, उनकी जांच कराये जाने की जरूरत है. जो जानकारियां जांच एजेंसियों ने दी हैं, वे चौंकाने वाली हैं. KCBC ने कहा है कि संयुक्त राष्ट्र ने साफ कर दिया है कि ड्रग्स की तस्करी से मिलने वाले पैसे का इस्तेमाल आतंकवादी गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए किया जा रहा है.

काउंसिल ने यह भी कहा है कि पाला के बिशप जोसेफ कल्लारंगट्ट ने जो कुछ भी कहा है, उसे विवादास्पद बनाने की कोशिश करने की बजाय इस मुद्दे पर सार्वजनिक रूप से और जिम्मेदारीपूर्वक विचार करने की जरूरत है.

जोसेफ कल्लारंगट्ट ने गुरुवार को कथित तौर पर कहा था कि केरल में बड़े पैमाने पर युवतियां लव जिहाद और नारकोटिक्स जिहाद के चंगुल में फंसती जा रहीं हैं. उन्होंने कहा कि यह सब गैर-मुस्लिमों को बर्बाद करने के लिए किया जा रहा है. केरल के पाला में एक चर्च में भक्तों को संबोधित करते हुए जोसेफ कल्लारंगट्ट ने ये बातें कहीं थीं.

जोसेफ कल्लारंगट्ट ने कहा था कि भारत जैसे लोकतांत्रिक देश में हथियार के दम पर किसी को तबाह करना संभव नहीं है. इसलिए जिहादी गैर-मुस्लिमों को बर्बाद करने के लिए तरह-तरह के हथकंडे अपना रहे हैं. लव जिहाद और नारकोटिक्स जिहाद उनके ऐसे ही हथियार बन गये हैं.

काउंसिल ने पाला के बिशप के बयान का बचाव करते हुए कहा है कि केरल सरकार को आतंकवादी गतिविधियों और ड्रग माफिया के खिलाफ जांच कराकर उचित कार्रवाई करना चाहिए. काउंसिल ने कहा है कि यह किसी समुदाय के खिलाफ आरोप नहीं है. केरल के लोग जिन गंभीर चुनौतियों से जूझ रहे हैं, उसका खुलासा करने की जरूरत है.

ध्रुवीकरण करना हमारा उद्देश्य नहीं

KCBC ने कहा है कि पहले ही यह मान बैठना कि कोई खुलासा एक समुदाय विशेष के खिलाफ है, सही नहीं है. बजाय इसके, सभी समाज के प्रबुद्ध लोगों को चाहिए कि वे ऐसी गंभीर समस्याओं पर मिल-बैठकर चर्चा करें. समाज में आयी बुराई को दूर करने और सामाजिक सौहार्द्र को कायम रखने के लिए काम करना चाहिए. हमारा उद्देश्य जाति या धर्म के आधार पर ध्रुवीकरण करना नहीं है. हम सामुदायिक सौहार्द्र और सहभागिता के पक्षधर हैं.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें