1. home Hindi News
  2. national
  3. may 20 will be peak of coronavirus infection sbi research report claims know when the shortfall will come aml

20 मई होगा कोरोना का पीक, एसबीआई रिसर्च की रिपोर्ट में किया गया दावा, जानें कब आयेगी कमी

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
20 मई होगा कोरोना का पीक, एसबीआई रिसर्च की रिपोर्ट में किया गया दावा.
20 मई होगा कोरोना का पीक, एसबीआई रिसर्च की रिपोर्ट में किया गया दावा.
पीटीआई फाइल फोटो

नयी दिल्ली : कोरोनावायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) पूरे देश में तबाही मचाए हुए है. संकमण के मामले रोज नये रिकॉर्ड बना रहे हैं. इस बीच एसीबीआई रिसर्च (SBI Research) की एक नयी रिपोर्ट सामने आयी है. इसमें कहा गया है कि कोरोना पीक अभी देश में आना बाकी है. रिपोर्ट में कहा गया है कि कोरोना की दूसरी लहर 20 मई तक देश में एक बार फिर अपने चरम पर होगी. रिसर्च में वित्त वर्ष 2022 के लिए जीडीपी (GDP) की वृद्धि दर का अनुमान घटाकर 10.4 कर दिया गया है.

जीडीपी का यह अनुमान राज्यों में लग रहे आंशिक लॉकडाउन को लेकर जारी किया गया है. रिपोर्ट में कहा गया है कि जब कोरोना पीक पर होगा तब देश में एक्टिव मामले 36 लाख के आसपास पहुंच जायेंगे. बता दें कि अभी आज के आंकड़ों के मुताबिक देश में 31,70,228 एक्टिव मामले हैं. बिजनेस टुडे की रिपोर्ट में एसबीआई रिसर्च का यह दावा प्रकाशित किया गया है.

रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि जब भारत में कोरोना की लहर पीक पर होगी तब लोगों को आत्ममुग्धता से बचना होगा. क्योंकि यही वह कारण होता है जब वायरस का संक्रमण तेजी से फैलता है. रिपोर्ट में यह भी दावा किया गया है कि मई के तीसरे सप्ताह में कोरोना का सबसे बुरा दौर खत्म हो जायेगा. इसके बाद भी लोगों को सावधानी बरतनी होगी.

रिपोर्ट में कहा गया है कि रिकवरी रेट में 4.5 दिन में एक फीसदी की गिरावट आ रही है. इसका मतलब यह हुआ कि करीब 20 दिन में रिकवरी रेट में आने वाली कमी की वजह से एक्टिव मामलों में 1.85 फीसदी की बढ़ोतरी होती है. दूसरी लहर जब पीक पर होगी तक रिकवरी रेट 77 फीसदी के आसपास होगा. रिपोर्ट में वैक्सीन की कीमतों को लेकर भी अंदाजा लगाया गया है.

एसबीआई के इस रिपोर्ट में वायरस के बढ़ते मामलों के लिए चुनावी रैलियों को कारण बताया गया है. बता दें कि पश्चिम बंगाल सहित पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव हुए हैं. केरल, तमिलनाडु, असम, पुडुचेरी में चुनाव के नतीजे 2 मई को आने वाले हैं. इस बीच कई राज्यों में उपचुनाव भी हुए हैं. चुनावी रैलियों के दौरान कोरोना प्रोटोकॉल की जमकर धज्जियां उड़ायी गयी हैं. इससे कोरोना संक्रमण तेजी से फैलने का खतरा काफी बढ़ा है.

Posted By: Amlesh Nandan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें